पूर्व क्रिकेटर ग्लेन मैक्ग्रा को शिकार करने का अफ़सोस

पूर्व क्रिकेटर ग्लेन मैक्ग्रा को शिकार करने का अफ़सोस

शिकार के साथ तस्वीर

नई दिल्ली:

ऑस्ट्रेलियाई पूर्व तेज गेंदबाज की ट्विटर पर शिकार की एक तस्वीर को लेकर हंगामा मचा हुआ है और मैक्ग्रा की खूब आलोचना हो रही है। मैक्ग्रा ने कहा है कि उन्हें शिकार का बेहद अफ़सोस है। दो साल पहले उन्होंने जंगलों में शिकार को लेकर अपनी इच्छा ज़ाहिर की थी और ऐसे शिकार किये भी।

मैक्ग्रा ने दक्षिण अफ़्रीकी पार्क में चिपतानि सफ़ारी के दौरान जंगली जानवरों के शिकार किए और उनकी तस्वीरें भी लीं। ट्विटर पर कई क्रिकेट फ़ैन्स ने मैक्ग्रा की आलोचना करते हुए इसे शर्म की बात कही है। क्रिकेट से रिटायरमेंट के बाद से मैक्ग्रा कॉमेन्टेटर की भूमिका निभा रहे हैं और मैक्ग्रा फ़ाउन्डेशन नाम की संस्था भी चलाते हैं। यह संस्था उनकी पत्नी जेन की याद में बनाई गई है। इस संस्था का काम ब्रेस्ट कैंसर के ख़िलाफ़ मुहिम चलाना है।

मैक्ग्रा ने कहा है कि जब ये तस्वीरें ली गईं तब वह ज़िन्दगी के बेहद मुश्किल दौर से गुज़र रहे थे। मैक्ग्रा शायद अपनी पत्नी की मौत के वक्त यानी 2008 का ज़िक्र कर रहे हैं, लेकिन सब जानते हैं कि मैक्ग्रा को शिकार का शौक रहा है।

Newsbeep

एक ऑस्ट्रेलियाई शूटिंग की पत्रिका ने मैक्ग्रा को उनके दोस्त ब्रेट ली और जेसन गिलेस्पी के साथ इस विषय
पर एक लेख भी छाप चुका है। उस पत्रिका के मुताबिक मैक्ग्रा पुराने दिनों की तरह पैदल ही शिकार करने का शौक रखते हैं।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


जो भी हो लेकिन टेस्ट क्रिकेट में साढ़े पांच सौ से ज़्यादा और वनडे क्रिकेट में क़रीब चार सौ विकेटों का शिकार करने वाले मैक्ग्रा के लिए जंगलों में जाकर शिकार करना और उनकी तस्वीरें ख़िंचवाना बेहद महंगा पड़ने वाला है।