ऑफ स्‍टंप को लेकर मेरी समझ को किसी ने उतनी चुनौती नहीं दी जितनी मैक्‍ग्राथ ने दी : राहुल द्रविड़

ऑफ स्‍टंप को लेकर मेरी समझ को किसी ने उतनी चुनौती नहीं दी जितनी मैक्‍ग्राथ ने दी : राहुल द्रविड़

राहुल द्रविड़ ने पूर्व तेज गेंदबाज ग्‍लेन मैक्‍ग्राथ के गेंदबाजी कौशल की जमकर सराहना की है (फाइल फोटो)

खास बातें

  • राहुल द्रविड़ बोले, आपको कोई भी मौका नहीं देते थे मैक्‍ग्राथ
  • उनके पास गति-उछाल ही नहीं, खेल की अच्‍छी समझ भी थी
  • इस ऑस्‍ट्रेलियाई तेज गेंदबाज ने 124 टेस्‍ट में 563 विकेट लिए
मुंबई:

दिग्गज बल्लेबाज राहुल द्रविड़ ने अपने कई शानदार शतक ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ जड़े लेकिन इस स्टार बल्लेबाज ने स्वीकार किया कि उन्होंने जिस महानतम तेज गेंदबाज का सामना किया वह ऑस्ट्रेलिया के ही ग्लेन मैक्‍ग्राथ थे.

अपने बेजोड़ डिफेंस के लिए पहचाने जाने वाले द्रविड़ ने यहां एक कार्यक्रम के दौरान कहा, ‘वह (ऑस्ट्रेलिया) मेरी पीढ़ी की सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट टीम थी. इन सभी में, जिस महानतम गेंदबाज के खिलाफ मैं खेला, वह ग्लेन मैक्‍ग्राथ हैं.’कल रात यहां लिंक लेक्चर सीरीज के लांच के दौरान लिंक समूह के प्रबंध निदेशक जान मैकमुर्टी के साथ बातचीत के दौरान द्रविड़ ने यह खुलासा किया. (पढ़ें, राहुल द्रविड़ बोले, विराट कोहली तो सनसनी हैं)

अपने टेस्ट करियर के दौरान 164 मैचों में 13288 रन बनाने वाले द्रविड़ ने कहा, ‘वह (मैक्‍ग्राथ) बेहतरीन था, ऑफ स्टंप को लेकर मेरी समझ को किसी ने उतनी चुनौती नहीं दी जितनी मैक्‍ग्राथ ने दी. वह आपको कोई मौका नहीं देता. फिर वह सुबह पहले घंटे में गेंदबाजी कर रहा हो या शाम को अंतिम लम्हों में। वह आपको कोई मौका नहीं देता. वह सटीकता का कोई जवाब नहीं था.’

Newsbeep

टीम इंडिया के इस पूर्व  कप्तान ने कहा, ‘उसके पास अच्छी गति और उछाल ही नहीं, बल्कि खेल को लेकर अच्छी समझ भी थी. मैकग्रा संभवत: महानतम तेज गेंदबाज थे जिनके खिलाफ मैं खेला.’ मैक्‍ग्राथ खेल के महानतम क्रिकेटरों में शामिल रहे जिन्होंने 124 टेस्ट में 563 विकेट जबकि 250 वनडे में 381 विकेट चटकाए.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)