हनुमा विहारी का 'ट्रिपल धमाल', रिकॉर्ड बनाने वाले 58 साल के इतिहास में पहले बल्लेबाज

हनुमा विहारी का 'ट्रिपल धमाल', रिकॉर्ड बनाने वाले 58 साल के इतिहास में पहले बल्लेबाज

हनुमा विहारी की फाइल फोटो

खास बातें

  • हनुमा विहारी जैसा कोई नहीं..!
  • न ही सचिन कर सके कारनामा..और न ही राहुल द्रविड़
  • हनुमा ने कुछ ऐसे दी शिखर धवन को पटखनी
नागपुर:

नागपुर में विदर्भ क्रिकेट एसोसिएशन के मैदान पर विदर्भ और शेष (#VidarbhavRestofIndia) भारत के बीच खेले जा रहे ईरानी ट्रॉफी (#IraniCup) मुकाबले के तीसरे दिन भारत के उभरते हुए बल्लेबाज हनुमा विहारी (#HanumiVihari creates history)ने वह बड़ा कारमाना कर दिखाया, जो टूर्नामेंट के करीब 58 साल इतिहास में उनसे पहले कोई भी बल्लेबाज नहीं कर सका. इस कारनामे के चलते हनुमा विहारी ने साबित कर दिखाया कि वह किस स्तर के बल्लेबाज हैं. और उम्मीद है कि सेलेक्टर हनुमा विहारी के इस प्रदर्शन को आगे वनडे टीम (#TeamIndia for #INDvAUS ) के लिए भी विचार करेंगे. 

मैच के तीसरे दिन हनुमा विहारी 40 रन स्कोर पर नाबाद थे. लेकिन जैसे-जैसे समय आगे बढ़ता गया, हनुमा विहारी भी बड़े इतिहास की ओर बढ़ते गए. और शतक जड़ने के साथ ही हनुमा विहारी ने ईरानी ट्रॉफी इतिहास में वह कारनामा कर दिखाया, न तो सचिन तेंदुलकर ही नहीं कर सके और न ही घरेलू क्रिकेट में जमकर बरसने वाले वसीम जाफर जैसे बल्लेबाज. 

यह भी पढ़ें: Pulwama Attack: सचिन तेंदुलकर व विराट कोहली सहित क्रिकेट जगत ने हमले को बताया कायराना हरकत..

सचिन तेंदुलकर के नाम गोल्डन हैट्रिक का रिकॉर्ड है. बता दें कि जब सचिन ने अपने करियर का आगाज किया था, तो नब्बे के दशक की शुरुआत में उन्होंने रणजी ट्रॉफी, दलीप ट्रॉफी और ईरानी ट्रॉफी के अपने पहले ही मैच में शतक जड़ा था. लेकिन इसके बावजूद सचिन हनुमा विहारी के कारनामे को नहीं कर सके थे. विदर्भ के खिलाफ जारी मुकाबले में हनुमा  विहारी ने पहली पारी में 114 रन बनाए थे. और दूसरी पारी में भी उन्होंने बिना आउट हुए 180 रन की पारी खेली.  चौथे ही दिन लंच से कुछ देर पहले विहारी ने अक्षय वखारे की गेंद पर चौका जड़कर जैसे ही अपना शतक पूरा किया, वैसे ही हनुमा  विहारी ने 'ट्रिपल धमाल' कर डाला. इसके साथ ही हनुमा साल 2011 में शिखर धवन के बाद ईरानी ट्रॉफी की दोनों पारियों में शतक जड़ने वाले सिर्फ दूसरे बल्लेबाज बन गए. 


VIDEO: ऑस्ट्रेलिया दौर के लिए रवाना होने से पहले विराट कोहली प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान. 

लेकिन वेरी-वेरी स्पेशल बात यह रही कि यह ईरानी ट्रॉफी में हनुमा विहारी का लगातार तीसरा शतक रहा. पिछले साल इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट करियर का आगाज करने वाले विहारी ने इससे पहले पिछले साल ही शेष भारत के लिए खेलते हुए विदर्भ के खिलाफ ही खेले गए ईरानी ट्रॉफी में 183 रन की पारी खेली थी. और अब दोनों पारियों शतक जड़कर विहारी ने ईरानी ट्रॉफी में शतक की हैट्रिक जड़ डाली
 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com