NDTV Khabar

भारत में करारी हार से दबाव में थे अमला, कप्तानी छोड़ने से पहले बनाया अनोखा रिकॉर्ड

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारत में करारी हार से दबाव में थे अमला, कप्तानी छोड़ने से पहले बनाया अनोखा रिकॉर्ड

हाशिम अमला के बाद अब डिविलियर्स संभालेंगे दक्षिण अफ्रीका की कमान (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: 9 साल तक विदेशी जमीन पर अपराजेय रही दक्षिण अफ्रीकी टीम का विजय रथ विराट कोहली की टीम ने भारत के स्पिनिंग ट्रैक पर रोक लिया था। 0-3 से करारी हार के बाद दक्षिण अफ्रीका वर्ल्ड नंबर वन टीम तो बनी रही, लेकिन कप्तान हाशिम अमला टीम के प्रदर्शन और अपनी फ़ॉर्म को लेकर दबाव में थे।

3 बार 11 घंटे तक बल्लेबाजी का बनाया रिकार्ड
इंग्लैंड के साथ चल रही मौजूदा सीरीज के बीच में 32 साल के हाशिम अमला ने अचानक कप्तानी छोड़ सबको हैरान कर दिया। केपटाउन में इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट के बाद प्रोटियाज कप्तान ने अपने फैसले का एलान कर दिया। हालांकि इसी टेस्ट की दूसरी पारी में अमला ने 11 घंटे 47 मिनट तक बल्लेबाजी कर 201 रनों की शानदार पारी खेलते हुए मैच को ड्रॉ कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। वे टेस्ट में तीन बार 11-11 घंटे बल्लेबाजी करने वाले पहले खिलाड़ी हैं।

बल्लेबाजी में सुधार का मिलेगा समय
कप्तानी छोड़ने के बाद अमला ने कहा, "मुझे लगा कि अब कप्तानी छोड़ देनी चाहिए। काफी सोच-विचार के बाद मैंने प्रोटियाज की कप्तानी छोड़ने का निर्णय लिया है। ये फैसला करना आसान नहीं था। काफी आत्ममंथन के बाद मुझे लगा कि मुझे खुद की सुननी चाहिए। मैं अपने निर्णय से खुश हूं। मैंने हमेशा अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश की है और आगे भी देता रहूंगा। मुझे लगता है कि अपनी बल्लेबाजी में सुधार की जरूरत है। कप्तानी छोड़ने के बाद इस पर ध्यान देने का समय मिलेगा।"

केपटाउन टेस्ट के पहले अमला बुरे फ़ॉर्म के दौर से गुज़र रहे थे। 2014 दिसंबर के बाद से वे शतक नहीं लगा पाए थे।

हाशिम अमला ने जून 2014 में ग्रीम स्मिथ से कप्तानी की बागडोर संभाली थी। वे 14 टेस्ट मैचों में वर्ल्ड नंबर-1 टीम के कप्तान रहे। उनकी कप्तानी में प्रोटियाज ने 4 टेस्ट मैच जीते और 6 ड्रॉ रहे। भारत में उन्हें 3-0 से करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा।

इंग्लैंड के साथ खेली जा रही मौज़ूदा सीरीज़ के पहले टेस्ट में हार के बाद अमला ने कप्तानी छोड़ने का मन बना लिया था।

अपना सर्वश्रेष्ठ दिया
उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि मुझसे बेहतर कप्तानी करने वाले खिलाड़ी टीम में हैं। मैंने हमेशा आगे बढ़कर कप्तानी की है। कप्तानी में अपनी सोच डालने की कोशिश की है और शायद इसमें सफल भी रहा हूं। हर खिलाड़ी के करियर में उतार-चढ़ाव आते हैं। कई बार रन नहीं बनते हैं। ये हर कप्तान के करियर में आता है। मुझे युवा टीम की कप्तानी में मज़ा आया। अपना सर्वश्रेष्ठ दिया।"

सीरीज के बाकी बचे दो टेस्ट मैचों में 31 साल के एबी डिविलियर्स कप्तानी करेंगे। हालांकि डिविलियर्स खुद कम क्रिकेट खेलने की ख्वाहिश जता रहे हैं। सीरीज़ में 0-1 से पीछे चल रही दक्षिण अफ्रीकी टीम क्या डिविलियर्स की कप्तानी में वापसी कर पाएगी


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement