NDTV Khabar

दिग्‍गज लेग स्पिनर शेन वार्न ने किया खुलासा, किस तरह फेंकी 'बॉल ऑफ द सेंचुरी'

शेन वॉर्न की गिनती ऑस्‍ट्रेलिया ही नहीं, दुनिया के दिग्‍गज स्पिन गेंदबाजों में की जाती है. वॉर्न ने अपने 48वें बर्थडे परखुलासा किया है कि उन्‍होंने 1993 की एशेज सीरीज के दौरान इंग्‍लैंड के माइक गैटिंग को 'बॉल ऑफ द सेंचुरी. किस तरह फेंकी थी.

122 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिग्‍गज लेग स्पिनर शेन वार्न ने किया खुलासा, किस तरह फेंकी 'बॉल ऑफ द सेंचुरी'

शेन वॉर्न ने 1993 में एशेज सीरीज के दौरान माइक गैटिंग का यह गेंद फेंकी थी

खास बातें

  1. एशेज के दौरान माइक गैटिंग को फेंकी थी यह गेंद
  2. गेंद लेग स्‍टंप के बाहर टप्‍पा खाकर ऑफ स्‍टंप ले उड़ी थी
  3. कहा-इस गेंद संयोग से फेंकी गई थी, मैं कभी इसे दोहरा नहीं सकता
शेन वॉर्न की गिनती ऑस्‍ट्रेलिया ही नहीं, दुनिया के दिग्‍गज स्पिन गेंदबाजों में की जाती है. वॉर्न ने अपने 48वें बर्थडे पर इस बात का खुलासा किया है कि उन्‍होंने 1993 की एशेज सीरीज के दौरान इंग्‍लैंड के माइक गैटिंग को 'बॉल ऑफ द सेंचुरी. किस तरह फेंकी थी. वॉर्न की यह गेंद लेग स्‍टंप के बाहर टप्‍पा खाने के बाद इतनी अधिक टर्न हुई थी कि ऑफ स्‍टंप ले उड़ी थी. इस गेंद को गैटिंग हैरान होकर देखते ही रह गए थे. इसे कई क्रिकेट समीक्षक सदी की सर्वश्रेष्‍ठ गेंद का दर्जा देते हैं. इस गेंद को 'गैटिंग बॉल' का नाम भी दिया जाता है. वार्न ने इस टेस्‍ट में 137 रन देकर 8 विकेट लिए थे और उन्‍हें मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया था.
  इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) की ओर से ट्विटर पर अपलोड किए गए वीडियो में वॉर्न ने बताया है कि उन्‍होंने यह गेंद किस तरह फेंकी. पूर्व लेग स्पिनर वार्न ने कहा, 'बॉल ऑफ द सेंचुरी वास्‍तव में संयोग से ही फेंकी गई थी. यह बात मैं पूरी ईमानदारी के साथ कह रहा हूं.  मैंने कभी इसकी कल्पना भी नहीं की थी और न ही मैं इसे दोहरा सकता हूं. वॉर्न ने कहा,एक लेग स्पिनर के तौर पर आप हमेशा एक बेहतर लेग ब्रेक गेंद डालने के बारे में सोचते हो. मैंने भी ठीक उसी तरह की गेंद डालने की कोशिश की थी. लेकिन,गेंद 90 डिग्री तक घूम गई जो वास्तव में अजूबा था.

वीडियो: कोहली ने इंटरनेशनल मैचों में 15 हजार रन पूरे किए
शेन वॉर्न ने बताया, 'बॉल ऑफ द सेंचुरी' बिलकुल वैसी ही गेंद थी, जो सभी लेग स्पिन गेंदबाज डालने की कोशिश करते हैं. इस गेंद ने मैदान के अंदर और बाहर की मेरी जिंदगी को बदल कर रख दिया. मुझे बहुत गर्व है कि मैंने गेंद 'बॉल ऑफ द सेंचुरी' डाली थी. खासकर माइक गेटिंग जैसे बेहतरीन खिलाड़ी को जो इंग्लैंड की टीम में स्पिन गेंदबाजी का माहिर खिलाड़ी था. वॉर्न ने कहा, वो मेरी जिंदगी का सबसे खास पल था. वॉर्न ने 145 टेस्‍ट में 708 विकेट हासिल किए जिसमें 37 बार पारी में पांच या इससे अधिक विकेट और 10 बार मैच में 10 या इससे अधिक विकेट शामिल हैं. 71 रन देकर 8 विकेट वॉर्न का पारी में सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन है. टेस्‍ट में वॉर्न से अधिक विकेट केवल श्रीलंका के मुरलीधरन ने हासिल किए हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement