NDTV Khabar

IND VS SL: विराट कोहली ने पहले दिन ऐसे जड़ा 'रिकॉर्ड का छक्का'!

तीसरे टेस्ट के पहले दिन विराट की नाबाद 156 रन की पारी में उनके बल्ले से एक नहीं, कई रिकॉर्ड निकले. चलिए बारी-बारी से आप इन छह रिकॉर्डं पर नजर दौड़ा लीजिए.

196 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
IND VS SL: विराट कोहली ने पहले दिन ऐसे जड़ा 'रिकॉर्ड का छक्का'!

विराट कोहली

नई दिल्ली: श्रीलंका के खिलाफ नई दिल्ली के फिरोजशाह कोटला ग्राउंड पर हुए तीसरे टेस्ट के पहले दिन भारतीय कप्तान विराट कोहली ने बल्ले से 'रिकॉर्ड का छक्का' जड़ डाला. इनमें से कुछ के बारे में आपको पता होगा, तो कुछ के बारे में बिल्कुल भी नहीं मालूम होगा. कई रिकॉर्ड कोहली ने ऐसे बनाए, जो उनसे पहले दुनिया या भारत का कोई भी कप्तान नहीं ही बना सका. चलिए हम आपको बारी-बारी से बताते हैं कि कोटला टेस्ट के पहले दिन विराट ने बल्ले से कौन-कौन से रिकॉर्ड बनाए.

सीरीज में 'भारतीय कप्तान' के सबसे ज्यादा रन
विराट से पहले तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में यह कारनामा सचिन तेंदुलकर ने किया था. तब सचिन ने साल 1999-2000 में
न्यूजीलैंड के खिलाफ खेली गई तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में  सचिन तेंदुलकर ने 435 रन बनाए थे, लेकिन कोटला के पहले दिन का खेल खत्म होने तक कोहली ने सचिन को पीछे छोड़ते हुए फिलहाल 436 का आंकड़ा छू लिया है. मतलब यह कि जब विराट की पारी खत्म होगी, तो वह इस रिकॉर्ड को और ऊंचाई के साथ खत्म करेंगे 

यह भी पढ़ें : धोनी की 'उस चोट' की वजह से विराट कोहली ने किया यह 'डबल धमाका' !

बतौर कप्तान 3000 रन, स्मिथ से चल रही रेस
कोहली ने 76वें ओवर की आखिरी गेंद पर जैसे ही अपनी पारी का 123वां रन लिया, वैसे ही कोहली ने बतौर कप्तान टेस्ट में अपने 3000 रन पूरे कर लिए. कंगारू कप्तान स्टीव स्मिथ ने भी कुछ दिन पहले यह उपलब्धि हासिल की थी. साफ है कि दोनों के बीच अगले कुछ साल तक यह रेस चलेगी. तीन हजारी बनने साथ ही कोहली यह रिकॉर्ड बनाने वाले तीसरे भारतीय कप्तान बन गए.अब उनसे ज्यादा रन महेंद्र सिंह धोनी (3454) और सुनील गावस्कर (3449) के हैं. साफ है इन पर भी कोहली जल्द ही पानी फेर देंगे. 

52वां शतक..पर सचिन 'यहां' दे रहे चुनौती!
हर शतक के साथ विराट की 'शतकरेखा' और बड़ी होती जा रही है. अब वह सचिन से केवल 48 शतक पीछे हैं. विराट की उम्र तक सचिन 60 शतक बना चुके थे. सचिन ने प्रत्येक शतक के लिए 7.20 पारियां लीं, तो कोहली ने 52 शतकों के लिए 6.73 पारियां ली हैं. अब देखने की बात यह होगी कि क्या अपने साठ शतकों तक पहुंचने के लिए विराट पारियों का यही औसत बरकरार रख पाते हैं.   

यह भी पढ़ें : विराट कोहली ने अपने होमग्राउंड पर हासिल की यह खास उपलब्धि

यह रहा रेयरेस्ट 'ऑफ द रेयर रिकॉर्ड'!
कोटला में शतक के साथ ही विराट ने बतौर कप्तान बहुत बड़ी उपलब्धि हासिल की. यह दूसरा मौका था, जब उन्होंने बतौर कप्तान  टेस्ट की लगातार तीन पारियों में शतक जड़े. इससे पहले उन्होंने साल 2014 में कप्तानी करते हुए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उसी की धरती पर लगातार 115, 141 और 147 रन की पारियां खेली थीं. ऐसा करने वाले वह क्रिकेट इतिहास के पहले कप्तान बन गए.

20वें शतक में सचिन को पीछे छोड़ा
कोहली का यह बीसवां शतक रहा. पारियों के लिहाज से ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ से तो कोहली पिछड़  गए, लेकिन सचिन को पीछे छोड़ने में सफल हो गए. स्टीव स्मिथ ने अपना 20वां शतक 99 और सचिन ने अपने 20वें शतक के लिए 107 पारियां ली थीं. विराट ने इस काम को अपनी 105वीं टेस्ट पारी में ही अंजाम दे दिया. वैसे इस मामले में सर डॉन ब्रेडमैन टॉप पर हैं. उन्होंने अपना 20वां टेस्ट शतक सिर्फ 55वीं पारी में जड़ डाला था.
  बन गए पांच हजारी
विराट ने कोटला टेस्ट के पहले दिन टेस्ट क्रिकेट में अपने पांच हजार रन भी पूरे किए. लेकिन पारियों के मामले में गावस्कर (99), सहवाग (99) और सचिन तेंदुलकर (103) उनसे आगे रहे. बहरहाल सबसे तेज छह हजारी बनने का विकल्प उनके सामने खुला हुआ है. 
  कोटला के पहले दिन 'रिकॉर्ड के सिक्सर' के बाद अब विराट के चाहने वालों की नजरें कोटला के दूसरे दिन के खेल पर लगी हुई हैं. अगर कोहली अपने शतक को दोहरे शतक या और बड़े स्कोर में बदल देते हैं, तो मैच के दूसरे दिन भी उनके बल्ले से और कई रिकॉर्ड बरसने तय हैं. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement