Budget
Hindi news home page

भारत के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया का पलड़ा भारी : इयन चैपल

ईमेल करें
टिप्पणियां
भारत के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया का पलड़ा भारी : इयन चैपल

पूर्व ऑस्‍ट्रेलियाई क्रिकेटर इयन चैपल (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: ऑस्ट्रेलिया में टीम इंडिया के लिए अब तक अभ्यास मैच सही साबित हुआ है। मो. शमी की हैमस्ट्रिंग इंजरी को छोड़ दें तो अबतक बल्लेबाज़ और गेंदबाज़ अपने तरकश के तीर कसते नज़र आए हैं। लेकिन पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान इयन चैपल (75 टेस्ट, 16 वनडे) मानते हैं कि मौजूदा सीरीज़ में मेज़बान टीम का पलड़ा ज़्यादा भारी है।

चैपल मानते हैं कि टीम इंडिया में एक स्पेशलिस्ट बल्लेबाज़ की कमी है। चैपल के मुताबिक टीम इंडिया को ऑलराउंडर्स की कमी भी खल सकती है। लेकिन उन्होंने ये भी कहा कि कप्तान एमएस धोनी के सामने कप्तान स्टीवन स्मिथ को शॉर्टर फॉर्मेट के गेम्स में खुद को साबित करने की ज़रूरत होगी।

चैपल ने ये भी बताया कि मौजूदा वर्ल्ड चैंपियन ऑस्ट्रेलिया और पूर्व वर्ल्ड चैंपियन भारत के बीच कड़ी टक्कर को लेकर क्रिकेटप्रेमियों में अलग किस्म की बेताबी है। वो मानते हैं कि भारतीय टीम में बड़े नाम और प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं जो ऑस्ट्रेलिया को बैकफ़ुट पर धकेल सकते हैं। लेकिन चैपल नहीं मानते कि सीरीज़ टीम इंडिया के नाम हो सकेगी।

टेस्ट क्रिकेट में 14 शतकों के मालिक चैपल मानते हैं कि इस सीरीज़ में मानसिक रूप से मेज़बान टीम को फ़ायदा है। उनका ये भी मानना है कि वाका (पर्थ में 12 जनवरी) और बाबा (ब्रि‍सबेन में 15 जनवरी) को मेज़बान टीम उछाल भरी पिचों का फ़ायदा उठा सकती है। उनके मुताबिक डेविड वॉर्नर, एरॉन फ़िंच, मिचेल मार्श, ग्लेन मैक्सवेल, मैथ्यू वेड और जेम्स फ़ॉकनर जैसे खिलाड़ी हैं। उनके मुताबिक टीम का शानदार बैटिंग लाइनअप भारतीय गेंदबाज़ों पर भारी पड़ सकता है।    

72 साल के चैपल ये भी मानते हैं कि ऑस्ट्रेलियाई टीम पहले दो मैचों को जीतकर मार्च-अप्रैल में होनेवाले टी-20 वर्ल्ड कप के लिए भी मनोवैज्ञानिक फ़ायदा बना सकती है। वैसे वनडे शुरू होने से पहले चैपल के बयान को माइंड गेम्स के तौर पर भी देखा जा सकता है जिसमें ऑस्ट्रेलियाई हमेशा से माहिर रहे हैं।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement