NDTV Khabar

INDvsSA चैंपियंस ट्रॉफी : टीम इंडिया को इन 5 बातों को लेकर रहना होगा सावधान, तो सेमीफाइनल हो जाएगा पक्का!

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच करो या मरो का मुकाबला रविवार को लंदन में दोपहर 3 बजे से खेला जाएगा.

152 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
INDvsSA चैंपियंस ट्रॉफी : टीम इंडिया को इन 5 बातों को लेकर रहना होगा सावधान, तो सेमीफाइनल हो जाएगा पक्का!

टीम इंडिया को सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए यह मैच हर हाल में जीतना होगा

खास बातें

  1. श्रीलंका के ख़िलाफ़ मैच में भारतीय गेंदबाज़ बेअसर नज़र आये
  2. पिछले दोनों ही मैचों में टीम इंडिया की फ़ील्डिंग सिरदर्द की वजह बनी रही
  3. टीम मैनेजमेंट और खिलाड़ियों को बारिश पर हमेशा नज़र बनाये रखनी होगी
नई दिल्‍ली: टीम इंडिया के लिए आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में अभी रास्ते बंद नहीं हुए हैं. इससे पहले भी कई अहम टूर्नामेंटों में उसने ‘करो या मरो’ वाले मैचों में कमाल का प्रदर्शन करते हुए वापसी की है. अब एक बार फिर भारत को इसे दोहराना होगा. वैसे दक्षिण अफ़्रीका के ख़िलाफ़ लीग के आख़िरी मैच से पहले टीम इंडिया को लंदन में अभ्यास का अच्छा मौक़ा भी मिल गया है, जो इससे पहले के मैचों में नहीं मिला था. ओवल पर धूप की वजह से इस बार टीम के अभ्यास पर अब तक कोई बुरा असर पड़ता नहीं दिख रहा. यूं तो सुनील गावस्कर जैसे दिग्गज ने मैच में दक्षिण अफ़्रीका की जीत पर दांव लगाया है. लेकिन ऐसा नहीं है कि टीम के जीत की कोई गुंजाइश नहीं है. टीम अगर इन 5 बातों का ध्यान रखेगी तो सेमीफाइनल पक्का हो जाएगा.

स्पिनर्स पर लगाना होगा दांव
कई जानकार मानते हैं कि दौरे पर अब टीम इंडिया के नंबर 1 स्पिन गेंदबाज़ आर अश्विन को आज़माने का वक्त आ गया है. गावस्कर मानते हैं कि टीम इंडिया को अब केदार जाधव की जगह अश्विन को आज़माने का मौक़ा देना चाहिए. उनके मुताबिक अश्विन से 10 ओवर गेंदबाज़ी भी कराई जानी चाहिए. अगर भारतीय स्पिनर चल गए तो वो पाकिस्तान की तरह ही प्रोटियाज़ को रोककर आख़िरी चार टीमों में जगह बना सकते हैं.

फ़ील्डर्स को रहना होगा मुस्तैद
पाकिस्तान के ख़िलाफ़ जीत और श्रीलंका के ख़िलाफ़ हार... दोनों ही मैचों में टीम इंडिया की फ़ील्डिंग सिरदर्द की वजह बनी रही. विराट ने पाकिस्तान के ख़िलाफ़ मैच में फ़ील्डर्स को 6/10 अंक दिए जबकि बल्लेबाज़ी और गेंदबाज़ी के 9/10 अंक. फ़ील्डर्स को विशेष तौर पर सावधान रहने की ज़रूरत है.

डेथ ओवर में गेंदबाज़ी
श्रीलंका के ख़िलाफ़ मैच में भारतीय गेंदबाज़ बेअसर नज़र आये. आख़िरी 10 ओवरों में श्रीलंकाई बल्लेबाज़ों ने क़रीब 90 रन जोड़े और मैच को आठ गेंद रहते ही ख़त्म कर दिया. दक्षिण अफ़्रीकी बल्लेबाज़ी क्रम पेपर पर बेहद मज़बूत नज़र आता है. अगर टीम इंडिया के गेंदबाज़ प्रोटियाज़ बल्लेबाज़ों को नियंत्रण में रखने में कामयाब रहे तो बल्लेबाज़ों का काम भी आसान बन सकता है.

टिप्पणियां
फ़िनिशर का रोल
पाकिस्तान के ख़िलाफ़ मैच में हार्दिक पांड्या ने आख़िरी के ओवरों में अपनी बल्लेबाज़ी से सबको बेहद प्रभावित किया. श्रीलंका के ख़िलाफ़ मैच में माहिर फ़िनिशर एमएस धोनी और केदार जाधव भी अपना रोल बखूबी निभाते नज़र आए. दक्षिण अफ़्रीका के ख़िलाफ़ मैच में भारतीय बल्लेबाज़ों को इस रोल को निभाने के लिए ड्रेसिंग रूम में भी अच्छी रणनीति बनानी होगी.

सलामी जोड़ी की लय रहे बरक़रार
भारतीय ओपनर्स रोहित शर्मा और शिखर धवन ने पाकिस्तान के ख़िलाफ़ (136 रनों की साझेदारी) और श्रीलंका के ख़िलाफ़ (138 रनों की साझेदारी) भारत को शानदार शुरुआत दी है. ओपनर्स से इससे बेहतर और क्या उम्मीद की जा सकती है. इन खिलाड़ियों से प्रोटियाज़ के ख़िलाफ़ भी कुछ ऐसी ही उम्मीद रहेगी. लेकिन इन सबसे साथ टीम मैनेजमेंट और खिलाड़ियों को बारिश पर हमेशा नज़र बनाये रखनी होगी और उसी मुताबिक गेम की पेस भी बरक़रार रखनी होगी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement