NDTV Khabar

SLvsSA : हाशिम अमला के शतक और इमरान ताहिर के 'चौके' से दक्षिण अफ्रीका 96 रन से जीता

हाशिम अमला की शतकीय पारी और लेग ब्रेक बॉलर इमरान ताहिर के चार विकेट की मदद से दक्षिण अफ्रीका ने आज यहां चैंपियंस ट्रॉफी के मुकाबले में श्रीलंका को 96 रन से हरा दिया.

6 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
SLvsSA : हाशिम अमला के शतक और इमरान ताहिर के 'चौके' से दक्षिण अफ्रीका 96 रन से जीता

चार विकेट लेने वाले इमरान ताहिर मैन ऑफ द मैच घोषित किए गए (फोटो AFP)

खास बातें

  1. दक्षिण अफ्रीका ने 50 ओवर में 6 विकेट पर 299 रन बनाए
  2. अमला ने 103 और डुप्‍लेसिस ने 75 रन की पारी खेली
  3. जवाब में 203 रन पर ढेर हुई श्रीलंका की टीम
लंदन: हाशिम अमला की शतकीय पारी और लेग ब्रेक बॉलर इमरान ताहिर के चार विकेट की मदद से दक्षिण अफ्रीका ने आज यहां चैंपियंस ट्रॉफी के मुकाबले में श्रीलंका को 96 रन से हरा दिया. श्रीलंका टीम के कप्‍तान उपुल थरंगा के आमंत्रण पर पहले बल्‍लेबाजी करते हुए दक्षिण अफ्रीका ने हाशिम अमला के 103 और फाफ डुप्‍लेसिस के 75 रन की मदद से 50 ओवर में 6 विकेट खोकर 299 रन बनाए. मैच में जीत के लिए श्रीलंका के सामने 300 रन का लक्ष्‍य था. इस एशियाई टीम ने पारी की शुरुआत भी अच्‍छी की. डिकवेला और उपुल थरंगा ने पहले विकेट के लिए आठ ओवर में 60 रन जोड़ दिए थे, लेकिन इसके बाद विकेट नियमित अंतराल में गिरते रहे. कप्‍तान उपुल थरंगा ने 57 और कुसल परेरा ने नाबाद 44 रन बनाकर संघर्ष का प्रयास किया लेकिन 41.3 ओवर में पूरी टीम 203 रन बनाकर ढेर हुई. श्रीलंका की पारी को ढहाने में इमरान ताहिर ने प्रमुख भूमिका निभाई जिन्‍होंने अहम मौकों पर विकेट हासिल किए. आखिरी विकेट नुवान प्रदीप (5) के रूप में गिरा. इमरान ताहिर को मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया.

श्रीलंकाई पारी: तेज शुरुआत के बाद श्रीलंका के डिकवेला आउट
दक्षिण अफ्रीका की गेंदबाजी की शुरुआत कागिसो रबाडा ने की. ओवर में तीन रन बने. वेन पर्नेल की ओर से फेंके गए पारी के दूसरे ओवर में 6 रन बने, पारी के तीसरे ओवर में थरंगा को जीवनदान मिला जब रबाडा अपनी ही गेंद पर उनका आसान कैच लपकने से चूक गए. पारी का चौथा ओवर श्रीलंका क लिहाज से अच्‍छा रहा. पर्नेल के ओवर में डिकवेला ने दो चौके लगाए.ओवर में 12 रन बने. पांचवें ओवर में रबाडा ने न सिर्फ डिकेवला का कैच छोड़ा बल्कि नोबॉल भी की. ओवर में 10 रन बने. पांच ओवर के बाद श्रीलंका का स्‍कोर बिना विकेट खोए 32 रन था. पारी के सातवें ओवर में डिकेवला ने रबाडा को छक्‍का जड़ते हुए आक्रामक तेवर दिखा दिए. यह छक्‍का करीब 90 मीटर का था. अगली ही गेंद पर उन्‍होंने चौका जमा दिया. ओवर में 15 रन बने. पारी के आठवें ओवर में 10 रन बने जिसमें थरंगा के दो चौके शामिल थे. पारी के नौवें ओवर में डिकवेला (41 रन 33 गेंद, पांच चौके, एक छक्‍का) का विकेट गिरा. उन्‍हें मोर्ने मोर्केल ने पर्नेल से कैच कराया. 10 ओवर के बाद स्‍कोर 87/1.

11 से 20 ओवर: ताहिर के आते ही बदल गई तस्‍वीर

पारी का 11 ओवर मोर्केल ने फेंका जिसमें केवल चार रन बने. 12वें ओवर में क्रिस मॉरिस को गेंदबाजी के लिए लाया गया जिन्‍होंने कुसल मेंडिस (11 रन, 10 गेंद, दो चौके) को डिव‍िलियर्स के हाथों कैच करा दिया. श्रीलंका का दूसरा विकेट 94 के स्‍कोर पर गिरा. दो विकेट गिरने के बाद श्रीलंका की रन गति में कुछ गिरावट आई. 15 ओवर के बाद टीम का स्‍कोर दो विकेट पर 105 रन था. पारी के 18वें ओवर में लेग स्पिनर इमरान ताहिर आक्रमण पर आए और इसमें दो विकेट गिरने से श्रीलंकाई पारी पटरी से उतर गई. ओवर की दूसरी गेंद पर चंदीमल (12 रन, 21 गेंद, एक चौका) को डिविलियर्स के शानदार थ्रो के कारण रन आउट होना पड़ा. नए बल्‍लेबाज कपुदेगरा अपनी पहली ही गेंद पर एलबीडब्‍ल्‍यू हो गए. 17 ओवर में दो विकेट पर 116 रन से स्‍कोर 18 ओवर के बाद चार विकेट पर 117 रन तक पहुंच गया. पारीका 20 वां ओवर इमरान ताहिर ने फेंका जिसमें केवल एक रन बना. 20 ओवर के बाद स्‍कोर 124/4.

21 से 30 ओवर : थरंगा के आउट होते ही श्रीलंका का संघर्ष खत्‍म

पारी के 21वें ओवर में ऑफ स्पिनर जेपी डुमिनी को गेंदबाजी के लिए लाया गया. इस ओवर में तीन रन बने. विकेटों की पतझड़ के बीच उपुल थरंगा टीम के लिए संघर्ष जारी रखे हुए थे. उनका अर्धशतक 59 गेंदों पर पांच चौकों की मदद से पूरा हुआ. 25 ओवर के बाद श्रीलंका का स्‍कोर चार विकेट पर 145 रन था. टीम को शेष 25 ओवर्स में 6.2 के आसपास के औसत से 155 रन बनाने थे. 26वें ओवर में उपुल थरंगा (57 रन, 69 गेंद, छह चौके) के आउट होते ही श्रीलंका टीम के संघर्ष ने लगगभ दम तोड़ दिया. थरंगा को लेग स्पिनर इमरान ताहिर ने डेविड मिलर से कैच कराया. पांचवां विकेट 146 के स्‍कोर पर गिरा.पारी के 30वें ओवर में इमरान ताहिर ने एक और विकेट लेते हुए मैच का फैसला लगभग तय कर दिया. असेला गुणरत्‍ने को उन्‍होंने वेन पर्नेल से कैच कराया. ताहिर का यह तीसरा विकेट रहा. उनके इस प्रदर्शन ने दक्षिण अफ्रीका को मजबूत स्थिति में लाने में अहम भूमिका निभाई. 30 ओवर के बाद स्‍कोर 157/6.

31 से 40 ओवर : तीन विकेट गिरे

30 ओवर के बाद ही श्रीलंका टीम का संघर्ष लगभग खत्‍म हो चुका था. श्रीलंका टीम को इस स्थिति में पहुंचाने में लेग स्पिनर इमरान ताहिर ने अहम भूमिका निभाई जिन्‍होंने तीन विकेट लेकर श्रीलंका के मध्‍यक्रम की कमर तोड़ दी. यही कारण रहा कि अगले पांच ओवर में महज 19  रन बने. 35 ओवर के बाद टीम का स्‍कोर 6 विकेट पर 176 रन था. 38वें ओवर में मॉरिस ने प्रसन्‍ना (13रन, 20 गेंद, एक छक्‍का) को एलबीडब्‍ल्‍यू कर दिया. इसी ओवर में सुरंगा लकमल (0) को इमरान ताहिर के बेहतरीन थ्रो पर रन आउट होना पड़ा. टीम का आठवां विकेट 192 के स्‍कोर पर गिरा. 39वें ओवर में रबाडा ने मलिंगा (1रन, दो गेंद) को बोल्‍ड कर दिया. 40 ओवर के बाद स्‍कोर 194/9.

प्रदीप के रूप में गिरा आखिरी विकेट
श्रीलंका की पारी का आखिरी विकेट 42वें ओवर में गिरा. इमरान ताहिर ने नुवान प्रदीप (पांच रन, 12 गेंद, एक चौका) को लांग ऑफ पर डुमिनी के हाथों कैच कराया. ताहिर ने चार और क्रिस मॉरिस ने दो विकेट हासिल किए. एक-एक विकेट मोर्ने मोर्केल और कागिसो रबाडा के खाते में गया.

दक्षिण अफ्रीकी पारी: पहले 10 ओवर में  कछुए की रफ्तार
दक्षिण अफ्रीकी पारी के दौरान श्रीलंका की ओर से पहला ओवर लसिथ मलिंगा ने फेंका जिसमें वाइड की दो गेंदों समेत तीन रन बने. सुरांगा लकमल की ओर से फेंके गए पारी के दूसरे ओवर में भी तीन रन बने. पारी के चौथे ओवर में चैंपियंस ट्रॉफी 2017 का पहला  रिव्‍यू लिया गया. लकमल के ओवर की पहली गेंद पर डिकॉक के खिलाफ एलबीडब्‍ल्‍यू की जोरदार अपील हुई लेकिन टीवी अम्‍पायर ने फैसला बल्‍लेबाज के पक्ष में दिया. ओवर में एक रन बना. शुरुआत में दक्षिण अफ्रीका की रन गति बेहद धीमी थी. पांच ओवर के बाद स्‍कोर बिना विकेट खोए 12 रन था. दक्षिण अफ्रीकी पारी का पहला चौका पारी के सातवें ओवर में डिकॉक ने लसिथ मलिंगा की गेंद पर लगाया. इस ओवर में छह रन बने. नौवें ओवर में पहले बदलाव के रूप में नुवान प्रदीप आक्रमण पर लाए गए. पारी के 10वें ओवर में अमला ने डीप मिडविकेट क्षेत्र में अपना पहला चौका लगाया. 10 ओवर के बाद दक्षिण अफ्रीका 32/0.

11 से 20 ओवर : डिकॉक आउट, डुप्‍लेसिस को मिला जीवनदान

पारी के 13वें ओवर में नुवान प्रदीप श्रीलंका के लिए पहली सफलता लेकर आए. उन्‍होंने क्विंटन डिकॉक (23 रन, 42 गेंद, दो चौके) को स्लिप में डिकवेला के हाथों कैच कराया. पहला विकेट 44 के स्‍कोर पर गिरा. 15 ओवर के बाद दक्षिण अफ्रीका का स्‍कोर एक विकेट पर 55 रन था. पारी के 17वें ओवर में डुप्‍लेसिस को उस समय जीवनदान मिला जब प्रदीप की गेंद पर सीमा रेखा के पास मलिंगा ने उनका कैच छोड़ दिया. पारी के 19वें ओवर में अमला ने गुणरत्‍ने को लांग ऑफ के ऊपर से छक्‍का जमाते हुए स्‍कोर बोर्ड को गति देने के प्रयास किए. इस ओवर में 11रन बने. 20 ओवर के बाद दक्षिण अफ्रीका 90/1

21 से 30 ओवर: अमला और डुप्‍लेसिस ने दी स्‍कोर को तेजी
पारी के 22वें ओवर में अमला ने प्रसन्‍ना की गेंद पर चौका और फिर सिंगल लेकर अपना 34वां अर्धशतक पूरा किया. इस दौरान उन्‍होंने 56 गेंदों का सामना करके तीन चौके और एक छक्‍का लगाया. श्रीलंका के 100 रन 21.4 ओवर में पूरे हुए. अर्धशतक पूरा करने के बाद अमला ने रनगति को रफ्तार देने की जिम्‍मेदारी संभाली संभाली. उन्‍होंने पारी के 23वें ओवर में मलिंगा को चौका और फिर 14वें ओवर में प्रसन्‍ना को छक्‍का लगाया. प्रसन्‍ना की ओर से फेंके गए पारी के 24वें ओवर में 11 रन बने. 25 ओवर के बाद टीम का स्‍कोर एक विकेट पर 130 रन था. पारी के 28वें ओवर में फाफ डुप्‍लेसिस ने भी अर्धशतक पूरा किया. इस दौरान उन्‍होंने 52 गेंदों का सामना करके चार चौके लगाए. दोनों बल्‍लेबाजों के बीच शतकीय साझेदारी पूरी हो चुकी थी.इस दौरान रन गति धीरे -धीरे बढ़कर साढ़े पांच रन प्रति ओवर के आसपास पहुंच गई थी.30 ओवर के बाद दक्षिण अफ्रीका का स्‍कोर 163/1.

31 से 40 ओवर: दो विकेट जल्दी-जल्‍दी गिरने से आया रोमांच

30 ओवर के बाद दक्षिण अफ्रीका के दो विकेट जल्दी गिरने से मैच में रोमांच आ गया. पारी के 34वें ओवर में प्रदीप ने फाफ डुप्‍लेसिस (75 रन, 70 गेंद, छह चौके) को चंदीमल के हाथों कैच कराया. अमला और डुप्‍लेसिस के बीच दूसरे विकेट के लिए 145 रन की अहम साझेदारी हुई. इस झटके से दक्षिण अफ्रीकी टीम उबर भी नहीं पाई थी कि कप्‍तान एबी डिव‍िलियर्स (चार रन, चार गेंद) आउट हो गए. डिविलियर्स आज बैटिंग में नाकाम रहे. उन्‍हें प्रसन्‍ना ने कपुदेगरा के हाथों कैच कराया. डुप्‍लेसिस का विकेट 189 और डिव‍िलियर्स का 194 रन के स्‍कोर पर गिरा. उधर, इस विकेट पतन से बेपरवाह हाशिम अमला धीरे-धीरे शतक के करीब पहुंच रहे थे. पारी के 37वें ओवर में मिलर ने प्रसन्‍ना ने छक्‍का लगाया. इस ओवर में 10 रन बने. 40 ओवर के बाद स्‍कोर 221/3.
 
hashim amla
दक्षिण अफ्रीका के लिए हाशिम अमला ने 103 रन की शतकीय पारी खेली (फोटो AFP)

41 से 50 ओवर: दक्षिण अफ्रीका के तीन विकेट गिरे
40 ओवर के बाद बड़े स्‍कोर की ओर मजबूती से बढ़ रही दक्षिण अफ्रीकी पारी को 42वें और 43वें ओवर में एक-एक झटका लगा. मिलर से आज बड़ी पारी की उम्‍मीद थी लेकिन वे महज 18 रन (22गेंद, एक चौका, एक छक्‍का) बनाकर लकमल की गेंद पर प्रसन्‍ना को कैच थमा बैठे. 43वें ओवर में अमला (103 रन, 115 गेंद, पांच चौके, दो छक्‍के) की पारी का भी अंत हो गया. वे कुसल मेंडिल और डिकवेला की फील्डिंग के कारण रन आउट हुए. आखिरी के ओवरों में मलिंगा सहित श्रीलंका के तेज गेंदबाजों ने वाइड गेंदें फेंकी, जिसका टीम को खामियाजा भुगतना पड़ा. दक्षिण अफ्रीका का छठा विकेट क्रिस मॉरिस (20 रन, 19 गेंद, तीन चौके) के रूप में गिरा. वे रन आउट हुए. जेपी डुमिनी ने 38 रन (20 गेंद, पांच चौके एक छक्‍का) और वेन पर्नेल ने सात रन पर नाबाद रहते हुए दक्षिण अफ्रीका को 50 ओवर में 6 विकेट पर 299 रन तक पहुंचा दिया. श्रीलंका के नुवान प्रदीप ने सर्वाधिक दो विकेट लिए.

श्रीलंका टीम के कप्‍तान एंजेलो मैथ्‍यूज फिट नहीं होने के कारण मैच में नहीं खेल रहे हैं. उपुल थरंगा टीम का नेतृत्‍व कर रहे हैं. 'यॉर्करमैन' लसिथ मलिंगा टीम में शामिल किए गए हैं. दूसरी ओर दक्षिण अफ्रीका के मोर्ने मोर्केल, डेविड मिलर और इमरान ताहिर चोट से उबर चुके हैं. ये तीनों टीम की प्‍लेइंग इलेवन में शामिल हैं. दक्षिण अफ्रीका ने श्रीलंका ने जो पिछले सात वनडे मैच खेले हैं उन सभी में जीत दर्ज की है. इनमें इस साल जनवरी-फरवरी में दक्षिण अफ्रीका में खेली गयी पांच मैचों की सीरीज भी शामिल हैं जिसमें उसने 5-0 से क्लीन स्वीप किया था. इससे पहले विश्व कप 2015 के सिडनी में खेले गये क्वार्टर फाइनल में दक्षिण अफ्रीका ने श्रीलंका को 133 रन पर समेटकर नौ विकेट से बड़ी जीत दर्ज की थी. आईसीसी वनडे रैंकिंग में शीर्ष पर काबिज दक्षिण अफ्रीका का पलड़ा भारी नजर आता है लेकिन आईसीसी टूर्नामेंटों में उसका रिकॉर्ड अच्छा नहीं रहा है और वह खुद पर लगा ‘चोकर्स’ के ठप्पे को समाप्त करने के लिये भी बेताब होगा. दक्षिण अफ्रीका ने 1998 में पहली चैंपियन्स ट्राफी जीती थी और इसके अलावा वह कभी कोई आईसीसी टूर्नामेंट नहीं जीत पाया. दक्षिण अफ्रीका की टीम काफी संतुलित है. उसके पास विश्व का नंबर एक बल्लेबाज एबी डिविलियर्स और विश्व का नंबर एक गेंदबाज कैगिसो रबाडा हैं.

बल्लेबाजी में डिविलियर्स के अलावा अनुभवी हाशिम अमला, विस्फोटक क्विंटन डिकाक, फाफ डु प्लेसिस और जेपी डुमिनी जैसे धुरंधर शामिल हैं. डेविड मिलर अपने विस्फोटक तेवरों के लिये जाने जाते हैं जबकि क्रिस मौरिस और वायने पर्नेल की आलराउंड क्षमता टीम को संतुलन प्रदान करती है. दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ियों के प्रदर्शन का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि उसके चार बल्लेबाज और दो गेंदबाज आईसीसी रैंकिंग में शीर्ष दस में शामिल हैं जबकि श्रीलंका का कोई भी खिलाड़ी चोटी के दस में नहीं है.

दोनों टीम इस प्रकार थीं...

श्रीलंका: उपुल तरंगा (कप्‍तान), निरोशान डिकवेला (विकेटकीपर), कुसल मेंडिस, दिनेश चंडीमल, कुसल परेरा, चामरा कपुदेगरा, असेला गुणरत्‍ने, सीक्‍कुगे प्रसन्‍ना, सुरांगा लकमल, नुवान प्रदीप और लसिंथ मलिंगा.

दक्षिण अफ्रीका: एबी डिविलियर्स (कप्‍तान), क्विंटन डिकॉक(विकेटकीपर) , हाशिम अमला, फाफ डुप्‍लेसिस, डेविड मिलर, जेपी डुमिनी, क्रिस मॉरिस, वेन पर्नेल, कासिगो रबाडा, मोर्ने मोर्केल और इमरान ताहिर.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement