पुरुष टीम के बाद अब शाहिद अफरीदी ने पाकिस्तानी महिला टीम को भी दिया वर्ल्ड कप के लिए खास मंत्र...

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के बाद अब एक और आईसीसी टूर्नामेंट की धूम मचने वाली है. इंग्लैंड की धरती पर 11वें महिला क्रिकेट वर्ल्ड का आयोजन 24 जून से होगा.

पुरुष टीम के बाद अब शाहिद अफरीदी ने पाकिस्तानी महिला टीम को भी दिया वर्ल्ड कप के लिए खास मंत्र...

शाहिद अफरीदी पाकिस्तान के विस्फोटक बल्लेबाजों में से एक रहे हैं (फाइल फोटो)

दुबई:

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के बाद अब एक और आईसीसी टूर्नामेंट की धूम मचने वाली है. इंग्लैंड की धरती पर 11वें महिला क्रिकेट वर्ल्ड का आयोजन 24 जून से किया जाएगा. गौरतलब है कि महिला वर्ल्ड कप की शुरुआत पुरुष वर्ल्ड कप से दो साल पहले 1973 में हुई थी. सभी क्रिकेटर अपने-अपने देश की महिला टीमों को शुभकामनाएं भेज रहे हैं और जीत की सलाह भी दे रहे हैं. भारतीय टीम के साथ-साथ सबकी नजरें पाकिस्तान की महिला टीम पर भी रहेंगी. खासतौर से पाकिस्तानी फैन चाहेंगे कि पुरुष टीम की तरह ही महिला टीम भी खिताब लेकर घर लौटे. गौरतलब है कि पाकिस्तान ने चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल में टीम इंडिया को हराकर पहली बार यह खिताब जीता है, जिससे पाक फैन खासे उत्साहित हैं. पाक टीम के विस्फोटक बल्लेबाज शाहिद अफरीदी ने अपनी महिला क्रिकेट टीम को जीत का मंत्र दिया है...  पाकिस्तान की महिला टीम का सामना रविवार को दक्षिण अफ्रीका से होगा.

पुरुष टीम के प्रदर्शन से अफरीदी भी खासे खुश हैं. उन्होंने चैंपियंस ट्रॉफी के लिए टीम को टिप्स दी थीं. अब उन्होंने महिला वर्ल्ड कप में टीम की जीत सुनिश्चित करने के लिए वही टिप्स दी हैं. उन्होंने कहा है कि पाक महिला क्रिकेट टीम को आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी जीतने वाली टीम का अनुसरण करना चाहिए. साथ ही उन्होंने निडर होकर खेलने को कहा.

आईसीसी की वेबसाइट पर जारी संदेश में अफरीदी ने कहा, 'मैं देश की महिला क्रिकेट टीम को वहीं सलाह देना चाहूंगा, जो मैंने पुरुष टीम को दी थी. खिलाड़ियों को भयमुक्त क्रिकेट खेलना चाहिए और हार से नहीं डरना चाहिए.'

इस धुरंधर बल्लेबाज ने कहा कि जिस तरह से पाकिस्तान की पुरुष टीम जीत के प्रति हमएशा सकारात्मक रही, उसी तरह महिला टीम को आगे बढ़ना चाहिए. उनके अनुसार निगेटिव विचारों से प्रदर्शन खराब होता है.

अफरीदी ने आगे कहा, 'कोई भी नकारात्मक विचार आपके कौशल में रुकावट बन सकता है और इसलिए सफलता के लिए एक सकारात्मक दृष्टिकोण आवश्यक है.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उन्होंने कहा, "आईसीसी महिला विश्व कप में अच्छे प्रदर्शन के लिए पाकिस्तानी टीम को कहीं दूर जाने की जरूरत नहीं है. वह देश की पुरुष टीम से प्रेरणा ले सकती है."

भारत-पाक रहे हैं पीछे
महिला क्रिकेट वर्ल्ड कप के 44 साल के सफर में ऑस्ट्रेलिया टीम का पुरुषों की तरह ही महिला क्रिकेट विश्व कप में भी दबदबा रहा है. उसने यह खिताब छह बार जीता है. इंग्लैंड की पुरुष टीम भले ही आईसीसी टूर्नामेंटों में पीछे रही है, लेकिन महिलाओं में वह विश्व कप टूर्नामेंट में ऑस्ट्रेलिया के बाद दूसरी सबसे सफल टीम रही है. इंग्लैंड ने यह खिताब तीन बार अपने नाम किया है. तीसरी सबसे सफल टीम न्यूजीलैंड की है.
(इनपुट एजेंसी से भी)