NDTV Khabar

महिला वर्ल्‍डकप : ऑस्‍ट्रेलिया ने भारत को 8 विकेट से दी मात, पूनम राउत का शतक गया बेकार

इस जीत के साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है.

374 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
महिला वर्ल्‍डकप : ऑस्‍ट्रेलिया ने भारत को 8 विकेट से दी मात, पूनम राउत का शतक गया बेकार

ऑस्ट्रेलिया ने 227 रनों के लक्ष्य को 45.1 ओवर में 2 विकेट खोकर हासिल कर लिया... 

खास बातें

  1. दोनों ही टीमों को अपने पिछले मैच में करना पड़ा था हार का सामना
  2. पूनम राउत के शतक की बदौलत भारत ने 50 ओवर में बनाए थे 226 रन
  3. वनडे में सबसे ज्‍यादा रन बनाने वाली बल्‍लेबाज बनीं मिताली राज
ब्रिस्टल: जैसा कि अपेक्षित था, परिणाम बिल्कुल वैसा ही रहा. ऑस्ट्रेलिया ने अपने शीर्ष क्रम के शानदार प्रदर्शन की बदौलत बुधवार को आईसीसी महिला विश्व कप में भारत को 8 विकेट से रौंद दिया. इस हार सेे कप्तान मिताली राज की टीम के सेमीफाइनल में जगह बनाने की उम्मीद को करारा झटका लगा है. भारतीय टीम आठ अंक के साथ चौथे स्थान पर है. मिताली की टीम को नॉकआउट चरण में जगह बनाने के लिए अब न्यूजीलैंड के खिलाफ अपना अगला और अंतिम मैच जीतना होगा. ऑस्ट्रेलिया का पलड़ा पहले से ही भारी माना जा रहा था. ऑस्ट्रेलिया ने 227 रनों के लक्ष्य को 45.1 ओवर में 2 विकेट खोकर हासिल कर लिया. 

ऑस्ट्रेलिया ने यह लक्ष्य 29 गेंद रहते ही हासिल कर लिया, उसने दो विकेट गंवाकर 227 रन बनाये.  ऑस्ट्रेलियाई कप्तान मेग लैनिंग ने नाबाद 76 रन और एलिसे पेरी ने नाबाद 60 रन की अहम पारियां खेली. बेथ मूनी ने 45 रन और निकोल बोल्टन ने 36 रन का योगदान दिया. इन दोनों ने 15.4 ओवर में पहले विकेट के लिये 62 रन की भागीदारी निभाकर अच्छी शुरुआत दिलाई. इन दोनों के आउट होने के बाद लैनिंग और पेरी ने आराम से अपनी टीम को जीत की ओर बढ़ाया. पेरी ने इस दौरान अपना 22 वनडे अर्धशतक पूरा किया. 

इससे पहले, भारत की ओर से सलामी बल्लेबाज पूनम राउत के शतक (106 रन) और कप्तान मिताली राज (69) के साथ दूसरे विकेट के लिए उनकी 157 रन की साझेदारी के बावजूद भारतीय टीम बुधवार को आईसीसी महिला वर्ल्‍डकप के मैच में ऑस्ट्रेलिया के सामने 227 रनों का लक्ष्य ही रख पाई. ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर भारत को बल्लेबाजी का आमंत्रण दिया और उसे निर्धारित 50 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 226 रनों पर ही रोक दिया. मिताली और पूनम ने विकेट जरूर नहीं गिरने दिए, लेकिन रनगति को यह दोनों बल्लेबाज तेज नहीं कर पाईं.

पहले बैटिंग करते हुए भारत को अच्छी शुरुआत नहीं मिली और बाएं हाथ की बल्लेबाज स्मृति मंधाना (3) एक बार फिर बल्ले से कमाल नहीं दिखा पाईं. वह नौ के कुल स्कोर पर पेवेलियन लौट गईं. यहां से मिताली और पूनम ने मोर्चा संभाला और ऑस्ट्रेलिया को विकेट के लिए तरसा दिया. दोनों ने धीरे-धीरे पारी को आगे बढ़ाया और 37.1 ओवरों में 4.22 की औसत से 157 रनों की शतकीय साझेदारी की. इस साझेदारी के दौरान मिताली ने अपने नाम एक नया रिकॉर्ड दर्ज किया. वह वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाली महिला बल्लेबाज बन गईं. इस मामले में उन्होंने इंग्लैंड की बल्लेबाज चार्लोट एडवर्ड्स को पछाड़ा, जिनके नाम 5,992 रन दर्ज थे.

मिताली ने 29वें ओवर की चौथी गेंद पर एक रन लेते ही यह ऐतिहासिक उपलब्धि हासिल की. इस मैच से पहले वह इस मुकाम से 34 रन दूर थीं. मिताली की पारी का अंत 41वें ओवर की तीसरी गेंद पर 166 के कुल स्कोर पर एशले गार्डनर ने किया. इसके बाद पूनम ने अपना शतक पूरा किया. लेकिन इसके बाद वह ज्यादा देर विकेट पर रुक नहीं पाईं. अंत के ओवरों में तेजी से रन बानने के प्रयास में वह 47वें ओवर में 203 के कुल स्कोर पर आउट हो गईं. उन्होंने अपनी शतकीय पारी में 136 गेंदें खेली जिसमें 11 चौके लगाए. इन दोनों के जाने के बाद भारतीय बल्लेबाज लगातार विकेट खोती रहीं. यहां से भारत ने 23 रन जोड़े, लेकिन अपने चार विकेट गंवा दिए. अंत के पांच ओवरों में भारतीय टीम ने पांच विकेट खोकर 33 रन बनाए. ऑस्ट्रेलिया की तरफ से मेगन शुट और एलिस पैरी ने दो-दो विकेट लिए. गार्डनर और क्रिस्टन बीम्स को एक-एक सफलता मिली. भारत की एक बल्लेबाज रन आउट हुईं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement