टी-20 वर्ल्ड कप : टीम इंडिया के पूर्व बल्लेबाज श्रीराम करेंगे ऑस्ट्रेलियाई टीम की मदद

टी-20 वर्ल्ड कप : टीम इंडिया के पूर्व बल्लेबाज श्रीराम करेंगे ऑस्ट्रेलियाई टीम की मदद

टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर श्रीधरन श्रीराम (फोटो: Reuters)

आगामी टी-20 वर्ल्ड कप को देखते हुए क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने विशेष तैयारी शुरू कर दी है। इसी सिलसिले में बुधवार को भारत के पूर्व बल्लेबाज श्रीधरन श्रीराम और पूर्व ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज माइक हसी को ऑस्ट्रेलियाई टीम का सलाहकार नियुक्त किया गया। गौरतलब है कि आईसीसी टी-20 विश्व कप अगले वर्ष भारत की धरती पर होगा। ऐसे में इन दिग्गजों से क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को टीम की तैयारी में खासी मदद मिलने की उम्मीद है।

माइक हसी के पास भारत में खेलने का अच्छा खासा अनुभव है। वे आईपीएल में चेन्नई सुपरकिंग्स और मुंबई इंडियंस की ओर से खेल चुके हैं। वहीं श्रीधरन टीम इंडिया के पूर्व वनडे क्रिकेटर हैं। ये दोनों टी-20 विश्व कप से पहले और शुरुआती चरणों में ऑस्ट्रेलिया के साथ होंगे। पांच बार आईसीसी विश्व कप विजेता रह चुकी ऑस्ट्रेलियाई टीम अब तक टी-20 विश्व कप नहीं जीत सकी है।

शानदार रिकॉर्ड है श्रीराम का
श्रीराम ने भारत में 133 फर्स्ट क्लास मैचों में 32 शतक और 36 फिफ्टी लगाई हैं। उन्होंने कुल 9559 रन बनाए और 85 विकेट झटके।

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की टी-20 सीरीज के दौरान श्रीधरन, एरॉन फिंच के नेतृत्व वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम से जुड़ेंगे, वहीं हसी टी-20 विश्व कप के शुरुआती दो सप्ताह तक ही ऑस्ट्रेलियाई टीम के साथ रहेंगे।

सीए की आधिकारिक वेबसाइट पर बुधवार को हसी के हवाले से कहा गया है, "ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी होने के नाते टी-20 विश्व कप के लिए ऑस्ट्रेलियाई टीम से जुड़कर मैं बेहद खुश हूं। मैं अपनी टीम के साथ काम करने को लेकर मैं बेहद उत्साहित हूं और ऑस्ट्रेलियाई युवाओं को टी-20 विश्व कप की तैयारियों और मैच रणनीति में मदद करने के लिए पूरी तरह तैयार हूं।"

Newsbeep

सीए के कार्यकारी महाप्रबंधक (टीम प्रदर्शन) पैट होवार्ड ने कहा है कि हसी का अनुभव उन्हें इस जिम्मेदारी के लिए बिल्कुल उचित बनाता है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


होवार्ड ने कहा, "हसी विभिन्न प्रारूपों में खुद को ढालने की काबिलियत रखने वाले हमारे कुछ बेहद सफल खिलाड़ियों में से हैं। हसी के पास टेस्ट, वनडे और टी-20 सभी प्रारूपों में खेलने का भरपूर अनुभव है।"
(क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के इनपुट के साथ)