NDTV Khabar

INDvsAUS 1st Test Preview: विदेश में 'फ्लॉप शो' का कलंक मिटाने के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया

विराट कोहली (Virat Kohli) की टीम अब ऑस्ट्रेलिया में चार टेस्ट मैचों की सीरीज जीतकर विदेश में ‘फ्लॉप शो’का कलंक मिटाना चाहेगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
INDvsAUS 1st Test Preview: विदेश में 'फ्लॉप शो' का कलंक मिटाने के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया

India vs Australia: टेस्‍ट सीरीज में टीम इंडिया को जीत का दावेदार माना जा रहा है (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. ऑस्‍ट्रेलिया में अब तक टेस्‍ट सीरीज नहीं जीता है भारत
  2. 11 दौरों में केवल दो बार सीरीज बराबर रख पाया है
  3. इस बार विराट ब्रिगेड को माना जा रहा जीत का दावेदार
एडिलेड: आत्मविश्वास से लबरेज विराट कोहली (Virat Kohli) की टीम इंडिया गुरुवार से शुरू हो रही टेस्‍ट सीरीज (Test series) में जब ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ (India vs Australia) मैदान में उतरेगी तो उसका इरादा विदेशी सरजमीं पर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाने का कलंक धोने और 70 बरस में पहली बार यहां सीरीज जीतने का होगा. दक्षिण अफ्रीका में भारत को टेस्ट सीरीज में 1-2 और इंग्लैंड में 1-4 से पराजय झेलनी पड़ी थी. विराट कोहली (Virat Kohli) की टीम अब ऑस्ट्रेलिया में चार टेस्ट मैचों की सीरीज जीतकर विदेश में ‘फ्लॉप शो'का कलंक मिटाना चाहेगी. दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज के रूप में खुद को स्थापित कर चुके कोहली के लिये करिश्माई कप्तान कहलाने के लिहाज से भी यह सीरीज सुनहरा मौका है. आस्ट्रेलियाई सरजमीं पर भारत ने अब तक 44 टेस्ट खेलकर सिर्फ पांच जीते हैं. पिछले 70 साल में 11 दौरों में भारत ने दो बार ही सीरीज बराबर रखने में कामयाबी हासिल की है. पहले सुनील गावस्कर की कप्तानी में 1980-81 में और फिर सौरव गांगुली के कप्तान रहते वर्ष 2003-04 में. मैच भारतीय समयानुसार सुबह 5:30 बजे से शुरू होगा.

स्‍लेजिंग को लेकर विराट कोहली बोले, सीमा नहीं लांघेंगे लेकिन सीरीज रोचक भी होनी चाहिए भारतीय टीम आक्रामक क्रिकेट खेलना चाहेगी लेकिन 12 खिलाड़ियों में हनुमा विहारी और रोहित शर्मा की मौजूदगी इस बात का संकेत है कि 20 विकेट लेने के लिये पांच गेंदबाजों को उतारने की रणनीति में बदलाव होगा. चोटिल हरफनमौला हार्दिक पंड्या की गैर मौजूदगी के कारण टीम का संतुलन बिगड़ा है. दूसरी ओर, ऑस्‍ट्रेलिया की बात करें तो यह टीम गेंद से छेड़खानी मसले में प्रतिबंध झेल रहे स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर की गैर मौजूदगी में कमजोर लग रही है. भारत के सामने दो मसले हैं. पहला-उसे बल्लेबाजी में कप्तान कोहली (Virat Kohli) पर निर्भरता कम करनी होगी. कोहली ने दक्षिण अफ्रीका में तीन टेस्ट में 286 रन बनाए. चेतेश्वर पुजारा 100 रन ही बना सके जबकि मुरली विजय ने 102 और केएल राहुल ने दो टेस्ट में 30 रन बनाए थे. इंग्लैंड में दो टेस्ट में 26 रन के बाद मुरली विजय को स्वदेश भेज दिया गया था.

भारतीय टीम के लिए अच्‍छी खबर, पृथ्‍वी शॉ तीसरे टेस्‍ट में कर सकते हैं वापसी

टिप्पणियां
युवा केएल राहुल पांच टेस्ट में 299 रन ही बना सके थे, विदेश में पिछली नौ पारियों में वह 150 ही बना सके हैं. भारत ने आठ टेस्ट में चार अलग-अलग सलामी जोड़ियां उतारी हैं जिनमें जोहानिसबर्ग टेस्ट में पार्थिव पटेल ने विजय के साथ पारी का आगाज किया. पृथ्वी शॉ के चोट के कारण बाहर होने के चलते अब राहुल और विजय पारी का आगाज करेंगे. भारत के गेंदबाजी आक्रमण की कमान ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह और आर अश्विन संभालेंगे. ऑस्ट्रेलिया ने चार तेज गेंदबाजों मिशेल स्टार्क, पैट कमिंस, जोश हेजलवुड और नाथन लियोन को शामिल किया है.

वीडियो: पुजारा बोले, धोनी और विराट में यह बात है कॉमन
दोनों टीमें इस प्रकार हैं..
भारत (12 खिलाड़ी) : विराट कोहली (कप्तान), केएल राहुल, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, रोहित शर्मा, हनुमा विहारी, ऋषभ पंत, आर अश्विन, ईशांत शर्मा, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी.
ऑस्ट्रेलिया : टिम पेन (कप्तान), मार्कस हैरिस, आरोन फिंच, उस्मान ख्वाजा, ट्रेविस हेड, शान मार्श, पीटर हैंडस्कांब, नाथन लियोन, मिशेल स्टार्क, पैट कमिंस, जोश हेजलवुड.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement