NDTV Khabar

IND vs AUS 4th Test: ..और नॉथन लॉयन 141 साल के टेस्ट इतिहास में पहले 'ऐसे गेंदबाज' बन गए

AUS vs IND, 4th Test: नॉथन लॉयन जारी सीरीज में दोनों टीमों में सबसे सफल गेंदबाज हैं. लॉयन अभी तक फेंके 242.1 ओवरों में 21 विकेट चटका चुके हैं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
IND vs AUS 4th Test: ..और नॉथन लॉयन 141 साल के टेस्ट इतिहास में पहले 'ऐसे गेंदबाज' बन गए

India tour of Australia, 2018-19: नॉथन लॉयन ने दिखाया कि वह क्यों दुनिया के नंबर एक ऑफ स्पिनर हैं

खास बातें

  1. ऐसा बॉलर फिर कहां मिलेगा !
  2. पुजारा आउट..और बन गया नॉथन का रिकॉर्ड
  3. सिडनी में पहली पारी में चटकाए चार विकेट
सिडनी:

सिडनी (Sydney Cricket Ground, Sydney) में खेले जा रहे चौथे टेस्ट (AUS vs IND, 4th Test) में रिकॉर्डों की बारिश हो रही है. और सबसे ज्यादा ये रिकॉर्ड आए मैच के दूसरे दिन. कुछ रिकॉर्ड चेतेश्वर पुजारा ने बनाए, तो काफी रिकॉर्ड ऋषभ पंत के बल्ले से निकले. लेकिन इन रिकॉर्डों के बीच एक वेरी-वेरी स्पेशल रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के स्टार ऑफ स्पिनर नॉथन लॉयन ने भी बना डाला. यह रिकॉर्ड पुजारा और ऋषभ के जलवे के बीच छिप कर रह गया, लेकिन यह एक ऐसा रिकॉर्ड है, जिसे किसी भी गेंदबाज के लिए बना पाना बहुत ही मुश्किल है. हालांकि, लॉयन का यह रिकॉर्ड ऐसा है, जिसके लिए रिकॉर्डबुक में कोई कैटेगिरी नहीं है. 

बता दें कि नॉथन लॉयन जारी सीरीज में दोनों टीमों में सबसे सफल गेंदबाज हैं. लॉयन अभी तक फेंके 242.1 ओवरों में 21 विकेट चटका चुके हैं. नॉथन और जसप्रीत बुमराह के बीच बेस्ट बॉलर बनने की होड़ लगी हुई है. बुमराह भी 20 विकेट चटका चुके हैं. वास्तव में यह रेस बहुत ही रोचक है. और सीरीज खत्म होने के बाद ही यह साफ हो पाएगा कि बाजी बुमराह के हाथ लगती है, या नॉथन लॉयन के.


यह भी पढ़ें: IND vs AUS 4the Test: इस बार पुजारा ने लगाए ऑस्ट्रेलिया के माथे पर ' दो बड़े कलंक', कपिल देव भी पीछे छूटे

चलिए नॉथन लॉयन के रिकॉर्ड की बात कर लेते हैं.  यह रिकॉर्ड मैच के दूसरे दिन तब बना, जब लॉयन ने जमकर खेल रहे चेतेश्वर पुजारा को अपनी ही गेंद पर लपककर उन्हें दोहरे शतक से वंचित कर दिया. करोड़ों भारतीयों को तो लॉयन ने निराश कर दिया, लेकिन इसी के साथ उन्होंने उस कारनामे को अंजाम दे डाला, जो साल 1877 में खेले गए पहले टेस्ट के बाद कोई भी गेंदबाज नहीं ही कर सका.  

VIDEO: ऑस्ट्रेलिया रवाना होने से पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली

टिप्पणियां

बता दें कि नॉथन लॉयन टेस्ट इतिहास के पहले ऐसे गेंदबाज बन गए हैं, जिन्होंने बल्लेबाजों को 90 से सौ, 190 से दो सौ  290 से तीन सौ स्कोर के भीतर पवेलियन चलता किया है. वास्तव में यह एक बहुत ही विशिष्ट सी बात है. और लगता नहीं कि यह खास बात किसी और गेंदबाज के हिस्से में आ भी पाएगी. 
 

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement