NDTV Khabar

IND vs AUS 4Th Test: बारिश ने आखिरी टेस्ट में उम्मीदों पर पानी फेरा, टीम इंडिया की 2-1 से ऐतिहासिक जीत

AUS vs IND, 4th Test: विराट के वीरों ने 71 साल बाद इतिहास रचते हुए ऑस्ट्रेलिया धरती पर सीरीज जीत दर्ज करने वाली पहली एशियाई टीम बनने का गौरव हासिल कर लिया.

35 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
IND vs AUS 4Th Test: बारिश ने आखिरी टेस्ट में उम्मीदों पर पानी फेरा, टीम इंडिया की 2-1 से ऐतिहासिक जीत

India tour of Australia, 2018-19: सीरीज जीत के बाद खास अंदाज में जश्न मनाते भारतीय खिलाड़ी

खास बातें

  1. टीम इंडिया का 71 साल बाद विराट कारनामा!
  2. ऑस्ट्रेलिया को उसी की धरती पर 2-1 से पीटा
  3. चेतेश्वर पुजारा बने 'मैन ऑफ द मैच' और 'मैन ऑफ द सीरीज'
सिडनी:

टीम विराट ने सिडनी (Sydney Cricket Ground, Sydney) में सोमवार को समाप्त हुए चौथे टेस्ट मैच (AUS vs IND, 4th Test) के पांचवें और आखिरी दिन इतिहास रचते हुए मेजबान ऑस्ट्रेलिया (#INDvAUS #INDvsAUS) के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज पर 2-1 से कब्जा कर लिया. चौथे दिन का पूरा खेल बारिश से धुल गया. इस दौरान एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी. और दूसरे सेशन के आखिर में मैच अधिकारियों ने ग्राउंड स्टॉफ से चर्चा करने के बाद दिन के खेल को रद्द करने का ऐलान किया और मैच ड्रॉ में तब्दील हो गया. इसी के साथ ही विराट कोहली (Virat Kohli) के वीरों ने 71 साल बाद इतिहास रचते हुए ऑस्ट्रेलिया धरती पर सीरीज जीत दर्ज करने वाली पहली एशियाई टीम बनने का गौरव हासिल कर लिया. सीरीज में चार मैचों में तीन शतक सहित सब से ज्यादा रन बनाने वाले चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) को मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया. 

...और टूट गईं उम्मीदें 
मैच के आखिरी दिन करोड़ों भारतीय क्रिकेटप्रेमी उम्मीद कर रहे थे कि भारत इस टेस्ट में भी जीत दर्ज करते हुए सीरीज में 3-1 से जीत दर्ज करेगा. लेकिन बारिश ने मौसम विभाग की भविष्यवाणी को धता बताते हुए इस सपने पर पानी फेर दिया. सुबह मैच की शुरुआत के समय ही क्रिकेटप्रेमियों के लिए तेज मूसलाधार बारिश के रूप में निराशाजनक खबर आई. इसके बाद लंच के बाद एक हल्की उम्मीद बंधी कि आखिरी दो सेशन का खेल देखने को मिल सकता है, लेकिन जब बारिश का लगातार बरसना जारी रहा, तो मैच अधिकारियों ने दिन का खेल रद्द करने का फैसला किया. इसी के साथ मैच ड्रॉ हो गया. ऑस्ट्रेलिया 3-1 की और बड़ी शर्मिंदगी से बच गया.  और भारतीय टीम को 2-1 के परिणाम के साथ संतोष करना पड़ा. बारिश और खराब मौसम ने मैच के चौथे दिन भी करीब साढ़े तीन घंटे का खेल बर्बाद किया था.  


इससे पहले भारत ने चौथे टेस्ट मैच में चेतेश्वर पुजारा (193) और ऋषभ पंत (159) की शतकीय पारियों के दम पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपनी पहली पारी सात विकेट के नुकसान पर 622 रनों के विशाल स्कोर पर घोषित कर दी थी. इस पारी में ऑस्ट्रेलिया के लिए नाथन लॉयन ने सबसे अधिक चार, जोश हेजलवुड ने दो और मिशेल स्टॉर्क को एक विकेट मिला. इसके बाद, भारत ने कुलदीप यादव (5/99) की शानदार गेंदबाजी के दम पर ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी 300 रनों पर समाप्त कर दी. इस पारी में मोहम्मद शमी और रवींद्र जडेजा ने दो-दो विकेट लिए, वहीं जसप्रीत बुमराह को एक सफलता हाथ लगी.

यह भी पढ़ें: IND vs AUS: इन '5 बड़ी वजहों' से भारत ने ऑस्ट्रेलिया को दी उसके घर में मात

ऑस्ट्रेलिया के लिए पहली पारी में मार्कस हैरिस (79) ने सबसे अधिक रन बनाए. उनके अलावा, मार्नस लाबुशाने ने 38 और पीटर हैंड्सकॉम्ब ने 37 रनों का योगदान दिया.  इस पारी में भारत ने  322 रनों की बहुत ही मजबूत बढ़त हासिल की थी. इसके बाद ऑस्ट्रेलिया ने फॉलोऑन खेलते हुए चौथे दिन अपनी दूसरी पारी में बिना कोई विकेट गंवाए छह रन बनाए थे. यहां से नाबाद बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा (4) और हैरिस को बारिश ने आगे बैटिंग का मौका नहीं ही दिया. बारिश के कारण पांचवें दिन का मैच रद्द कर दिया गया.


..पर बन गई पहली एशियाई टीम
भारत पहली एशियाई टीम है, जिसने ऑस्ट्रेलिया में खेली गई टेस्ट सीरीज में जीत हासिल की है. भारत से पहले  इंग्लैंड, वेस्टइंडीज, न्यूजीलैंड और दक्षिण अफ्रीका ने कंगारुओं को उन्हीं की धरती पर मात दी थी, लेकिन टीम विराट से पहले कोई भी एशियाई टीम इस कारनामे को अंजाम नहीं दे सकी थी.  भारत अब पांचवीं टीम है, जिसने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में जीत हासिल की है. 

फॉलोऑन में भी बनाया था रिकॉर्ड
सिडनी में ड्रॉ छूटे मुकाबले के साथ भले ही भारत को 2-1 की स्कोरलाइन के साथ संतोष करना पड़ा, लेकिन इस मैच में भी टीम इंडिया ने चौथे दिन ही कंगारुओं पर कलंक लगा दिया था. ऑस्ट्रेलिया को 31 साल बाद अपने घर में किसी टीम के खिलाफ फॉलोऑन खेलने पर मजबूर होना पड़ा.  पिछली बार 1988 में ऑस्ट्रेलिया को इंग्लैंड ने इसी मैदान पर फॉलोऑन दिया था. इसके अलावा, 1986 के बाद पहली बार भारत ने आस्ट्रेलिया को फॉलोऑन दिया है। इससे पहले, 1986 में सिडनी में नववर्ष के मौके पर खेले गए मैच में भारत ने आस्ट्रेलिया को फॉलोऑन दिया था. 

यह भी पढ़ें:  IND vs AUS: विराट बोले, कभी इतना गौरव महसूस नहीं किया, जानिए भारतीय कप्तान की 'चार बड़ी बातें'

टिप्पणियां

पुजारा बने 'मैन ऑफ द मैच' और 'सीरीज'
सीरीज में लगातार बल्ले से झमाझम रन बरसाने वाले चेतेश्वर पुजारा न केवल 'मैन ऑफ द मैच' चुने गए, बल्कि उन्हें मैन ऑफ द सीरीज' से भी नवाजा गया. मैन ऑफ द सीरीज के लिए उनके और सीरीज में सबसे ज्यादा विकेट चटकाने वाले जसप्रीत बुमराह (4 मैचों में 21 विकेट) के बीच कड़ा मुकाबला था, लेकिन आखिरी में यह गौरव पुजारा के हिस्से में आया, जो 4 मैचों की 7 पारियों में 3 शतक और 1 अर्धशतक और 74.42 के औसत के साथ सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे.
VIDEO: एडिलेड टेस्ट के बाद विराट कोहली प्रेस कॉनफ्रेंस में

सिडनी टेस्ट ड्रॉ छूटने के बाद टीम इंडिया और भारतीय क्रिकेटप्रेमी इससे निराश होंगे कि एक तय जीत पर बारिश ने पानी फेर दिया. बावजूद इसके टीम विराट ने कंगारुओं को उन्हीं की धरती पर 2-1 से पटककर देश को नए साल का ऐसा तोहफा दिया है, जो उन्हें हमेशा गौरव का एहसास कराता रहेगा. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement