NDTV Khabar

IND vAUS: सुनील गावस्कर का बड़ा बयान,..तो विराट कोहली और रवि शास्त्री की भूमिका की समीक्षा हो

भारत की पर्थ टेस्ट में 146 रन से करारी हार हुई थी. और यह टेस्ट जीतकर ऑस्ट्रेलिया सीरीज में 1-1 की बराबरी पर आ गया है. इसके बाद भारत की टीम सेलेक्शन को लेकर कड़ी आलोचना हुई जो अभी तक जारी है

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
IND vAUS: सुनील गावस्कर का बड़ा बयान,..तो विराट कोहली और रवि शास्त्री की भूमिका की समीक्षा हो

विराट कोहली और रवि शास्त्री

खास बातें

  1. पूर्व कप्तान टीम चयन में ब्लंडर से खफा
  2. दक्षिण अफ्रीका दौरे से ही हो रहे गलत चयन-गावस्कर
  3. बीसीसीआई को 40 लोग ऑस्ट्रेलिया भेजने चाहिए थें!
नई दिल्ली:

ऑस्ट्रेलिया (India tour of Australia, 2018-19) के खिलाफ पर्थ में दूसरे टेस्ट (AUS vs IND, 2nd Test) में हार से दुखी पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने बड़ा बयान दिया है. गावस्कर ने चयन में हुई ब्लंडरों से नाराजगी जताई है. एक दिन पहले ही महान सनी ने विराट कोहली (Virat Kohli) को जमकर लताड़ लगाते हुए कहा था कि यह पर्थ में टीम इंडिया ही थी,  जिसने पहले स्लेजिंग-वॉर की शुरुआत की थी. और अब एक दिन बाद ही गावस्कर ने रवि शास्त्री और विराट कोहली के लिए चेतावनी जारी कर दी है. 

भारत की पर्थ टेस्ट में 146 रन से करारी हार हुई थी. और यह टेस्ट जीतकर ऑस्ट्रेलिया सीरीज में 1-1 की बराबरी पर आ गया है. इसके बाद भारत की टीम सेलेक्शन को लेकर कड़ी आलोचना हुई जो अभी तक जारी है. जहां भारत चार पेसरों के साथ उतरा, तो मेजबान टीम विशेषज्ञ ऑफी नॉथन लॉयन को खिलाया. और मैन ऑफ द मैच लॉथन ने आठ विकेट  चटकाकर बड़ा अंतर पैदा किया. लेकिन चौंकाने वाली बात यह है कि इतना होने पर भी विराट कोहली को इस बात का एहसास नहीं है. और वह सार्वजनिक तौर पर कह रहे हैं कि चार पेसरों के साथ उतरने का उनका निर्णय सही था. लेकिन गावस्कर चयन को लेकर बहुत ज्यादा नाराज हैं. 


यह भी पढ़ें:  IND vs AUS 2nd Test: इन पांच 'सबसे बड़े कारणों' की वजह से भारत पर्थ में दूसरे टेस्ट में डूब गया

गावस्कर ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका दौरा से से हम टीम चयन में ब्लंडर देख रहे हैं. यह सब टीम हित की कीमत पर हुआ है क्योंकि इनके चलते भारत की उन मैचों में हार हुई, जिन्हें टीम जीत सकती थी. गावस्कर ने कहा कि मैनेजमेंट को संयोजन की ओर देखने की जरूरत है. अगर इस बाबत सुधार होता है, तो भारत अगले दोनों मैच जीत सकता है.  गावस्कर ने कहा कि अगर बिना डेविड वॉर्नर और स्टीव स्मिथ के बिना खेल रही ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत नहीं जीतता है, तो चयनकर्ताओं को सोचने की जरूरत है  कि क्या उन्हें इस संयोजन (विराट, रवि शास्त्री और सपोर्टिंग स्टॉफ) से फायदा हो रहा है.

गावस्कर ने सवाल उठाते हुए और तंज कसते हुए कहा कि किसने ऑस्ट्रेलिया दौरे पर 19 खिलाड़ी भेजने का फैसला किया. यहां से अगला सवाल यह है कि तीन और खिलाड़ी क्यों नहीं? बीसीसीआई अमीर संस्था है और वह 40 लोगों को ऑस्ट्रेलिया भेजने का खर्च उठा सकता है. सनी बोले कि मेरा मानना है कि भारतीय कैप और ब्लेजर की अहमियत को और ज्यादा बढ़ाए जाने की जरूरत है. मुझे लगता है कि चयन समिति ने अपनी जिम्मेदारी को सही ढंग से नहीं निभाया. 

VIDEO: जानिए कि विराट ने ऑस्ट्रेलिया रवाना होने से पहले क्या कहा था. 

टिप्पणियां

गावस्कर ने साफ कहा कि अगर भारत सीरीज नहीं जीतता है, तो कोच, कप्तान और सपोर्ट स्टॉफ की भूमिका की समीक्षा होनी चाहिए. 

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement