NDTV Khabar

IND vs ENG: इंग्लैंड में नाकामी से त्रस्त मुरली विजय ने लिया 'यह फैसला'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
IND vs ENG: इंग्लैंड में नाकामी से त्रस्त मुरली विजय ने लिया 'यह फैसला'

Murali Vijay,Eng vs Ind, 2014,Cricket, मुरली विजय, इंग्लैंड vs भारत, क्रिकेट

खास बातें

  1. साल 2014 में मुरली का औसत था चालीस का औसत
  2. अबकी बार, लुट गए सरकार!!
  3. अब ली काउंटी क्रिकेट की शरण
लंदन:

अब यह तो आप जानते ही हैं कि टीम इंडिया के ओपनर मुरली विजय की इंग्लैंड दौरे में क्या हालत हुई. बीच दौरे में ही मुरली के बल्ले की बांसुरी बुरी तरह से बज गई!! नतीजा यह हुआ कि सलेक्टरों ने मुरली विजय को बाकी दोनों टेस्ट मैचों मैचों से ही बाहर कर दिया. तीन टेस्ट मैचों के बाद बाकी दो मुकाबलों के लिए लिए जो टीम का ऐलान हुआ, उसमें मुरली विजय की जगह पृथ्वी शॉ और कुलदीप यादव की जगह हनुमा विहारी को टीम में शामिल किया गया. 

वास्तव में इंग्लैंड दौरे में तो मुरली विजय ने रुला कर रख दिया. लेकिन हालात 2014 में ऐसे नहीं थे. इग्लैंड के पिछले दौर में मुरली विजय भारत के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज थे. इसी को देखते हुए करोड़ों हिंदुस्तानी क्रिकेटप्रेमी यह उम्मीद कर रहे थे कि मुरली विजय इस दौरे में भारत के लिए और बड़ी पारियां खेलेंगे. लेकिन बड़ी पारियों तो दूर, तमिलनाडु का यह ओपनर सामान्य योगदान भी नहीं दे सका. मुरली विजय खेले दो टेस्ट मैचों की चार पारियों में सिर्फ 6.50 के औसत से सिर्फ 26 रन  ही बना सके. अब आप ही बताइए कि कहां पिछले दौरे में चालीस का औसत. और कहां 6.50. ऐसे में टीम से ड्रॉप तो होना ही था. 

यह भी पढ़ें: REPORTS: अब विराट कोहली नहीं, एबी डि विलियर्स करेंगे आईपीएल में आरसीबी की कप्तानी​

वैसे आपको बता दें कि जब भारतीय टीम ने दौरे से पहले प्रैक्टिस मैच खेला था, तो मुरली विजय ने 53 रन बनाए थे. लेकिन इन रनों ने उनका भला नहीं ही किया. ऐसे में जब टीम से पत्ता साफ हो ही गया, तो विजय ने अब खुद को मांझने का फैसला किया है. वैसे बेहतर तो यह होता कि मुरली विजय यह फैसला दौरा शुरू होने से पहले लेते. और अगर वह ऐसा करते,  तो निश्चित ही परिणाम बेहतर होते. लेकिन अब मुरली विजय चिड़िया के खेत चुगने के बाद जागे हैं. दरअसल बात यह है कि मुरली विजय ने एसेक्स काउंटी के साथ करार किया है. मुरली ने इस पर कहा कि एक महीने पहले ही मैंने इसी काउंटी के मैदान पर मैच खेला था. मैं काउंटी के लिए खेलने के लिए बहुत ही ज्यादा बेकरार हूं. और मुझे उम्मीद है कि मैं एसेक्स को कुछ मैच जिताऊंगा. 

VIDEO: सुनिए कि अजय रात्रा क्या कह रहे हैं विराट कोहली के बारे में.

मुरली विजय साल 2018 के बाकी बचे पूरे सत्र में एसेक्स काउंटी को अपनी सेवाएं देंगे. एसेक्स को कोच एंथोनी मैक्ग्रा अपनी टीम के मुरली विजय के जुड़ने से बहुत ही खुश हैं. उन्होंने कहा कि मैं बहुत ही खुश हूं कि मुरली ने एसेक्स काउंटी को चुना है. वह बेहतरीन बल्लेबाज हैं और शीर्ष स्तर पर रन बना सकते हैं. 

टिप्पणियां


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... स्कूल में बच्चे ने 'मेरे पिता' पर लिखा ऐसा निबंध, बोला- 'पापा मर गए, हम खूब रोए...' पढ़कर मंत्री जी ने किया ऐसा

Advertisement