Ind vs Eng:असिस्‍टेंट कोच संजय बांगर बोले, यह बातें विराट कोहली को बनाती हैं खास बल्‍लेबाज...

Ind vs Eng:असिस्‍टेंट कोच संजय बांगर बोले, यह बातें विराट कोहली को बनाती हैं खास बल्‍लेबाज...

संजय बांगर बोले, विराट कोहली अपनी बल्लेबाजी पर लगातार काम करते रहते हैं (फाइल फोटो)

खास बातें

  • कहा, उत्कृष्टता का लक्ष्य विराट को अलग श्रेणी में रखता है
  • वे अपनी बल्‍लेबाजी पर लगातार काम करते रहते हैं
  • इस पारी से विराट को काफी संतोष मिला होगा
बर्मिंघम:

टीम इंडिया के असिस्‍टेंट कोच संजय बांगर ने कहा है कि बल्लेबाजी को लेकर विराट कोहली का लचीला रवैया और उत्कृष्टता का लक्ष्य उन्‍हें दूसरे बल्‍लेबाजों से अलग श्रेणी में रखता है.बर्मिंघम टेस्‍ट के दूसरे दिन कल विराट ने विपरीत परिस्थितियों में 149 रन की जुझारू पारी खेली और टीम इंडिया को इंग्‍लैंड की पहली पारी के स्‍कोर के करीब पहुंचाने में अग्रणी भूमिका निभाई. कोहली ने इस पारी से 2014 के इंग्लैंड दौरे पर नाकामी की टीस भी कम की होगी जिसमें 10 पारियों में वह सिर्फ 134 रन बना सके थे.

संजय बांगर बोले, विराट कोहली की बल्‍ले से नाकामी को इतना बड़ा मुद्दा मत बनाइए

 बांगर ने दूसरे दिन का खेल समाप्त होने के बाद कहा ,‘उसने (विराट ने) जबर्दस्‍त अनुशासन दिखाया. आजकल हर खिलाड़ी का वीडियो विश्लेषण उपलब्ध है और विरोधी टीम को आसानी से कमजोरी पता चल जाती है. आपको खुद भी अपनी कमजोरी पता होनी चाहिए ताकि उन्हें दूर करके एक कदम आगे बढ़ सके. विराट में उत्कृष्टता की ललक है और वह अपनी बल्लेबाजी पर काम करता रहता है. इस पारी से उसे काफी संतोष मिला होगा.’ भारतीय टीम पहली पारी के दौरान विराट पर इस कदर निर्भर रही यह इस बात से पता चलता है कि टीम के लिये दूसरा सर्वोच्च स्कोर शिखर धवन (26) का था. एक समय भारत के तीन विकेट पर 59 रन था जो पांच विकेट पर 100 और फिर सात विकेट पर 169 रन हो गया. कोहली ने पुछल्‍ले बल्‍लेबाज मोहम्मद शमी , ईशांत शर्मा और उमेश यादव के साथ मिलकर टीम को 250 के पार पहुंचाया.

वीडियो: मैडम तुसाद म्‍यूजियम में विराट कोहली

बांगर ने यह भी कहा कि कोहली को मिले तीन जीवनदान भारत के लिये फायदेमंद रहे. उन्होंने कहा,‘अच्छी शुरुआत का हम फायदा नहीं उठा सके. सलामी बल्लेबाजों ने नई गेंद को बखूबी खेला. दोनों टीमों के बीच फर्क यह था कि इंग्लैंड को इन हालात में खेलने की आदत है लेकिन हम ऐसे हालात में ज्यादा नहीं खेलते. दोनों के बीच अंतर कुछ ही रन का था. यह पूछने पर कि कोहली ने सीरीज से पहले अपनी बल्लेबाजी के लिये क्या किया था, कोच ने कहा,‘वह बहुमुखी प्रतिभा का धनी है. अच्छे खिलाड़ी अपने खेल का आकलन करके उस पर काम करते रहते हैं. वह बेहद अनुशासित है. इस पारी से उसे काफी संतोष मिला होगा.’ (इनपुट: एजेंसी)

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com