Ind vs Eng: सूर्यकुमार यादव ने विस्तार से बयां किया मुंबई इंडियंस से मिले सहयोग को

Ind vs Eng: सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) ने कहा कि वास्तव में मैंने अपनी भूमिका का पूरी तरह से लुत्फ उठाया और बाद में भी मैनेजमेंट मुझे सहयोग करता रहा. जिस तरह उन्होंने मेरी हौसलाअफजायी की और मेरे भीतर भरोसा दिखाया है, वह बहुत ही शानदार और सकारात्मक रहा है.

Ind vs Eng: सूर्यकुमार यादव ने विस्तार से बयां किया मुंबई इंडियंस से मिले सहयोग को

India vs England: सूर्यकुमार को इंग्लैंड के खिलाफ मौके का फायदा उठाना होगा

नई दिल्ली:

पिछले दिनों इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टी20  सीरीज के लिए चुने गए सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) ने  कहा है कि उन्होंने मुंबई इंडियंस के साथ पिछले तीन साल के साथ का बहुत ही ज्यादा लुत्फ उठाया और फ्रेंचाइजी ने उनका बहुत ही ज्यादा सहयोग किया है. साल 2018 में इंडियंस से जुड़ने के बाद से रोहित की कप्तानी में सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) टीम के बहुत ही अहम खिलाड़ी साबित हुए हैं. साल 2018 और 19 दोनों ही संस्करणों में सूर्य ने मुंबई के लिए 400 से ज्यादा रन बनाए. इस कार्यकाल के दौरान उन्होंने टीम में अपना कद ऊंचा करते हुए 130.00 से ज्यादा के स्ट्राइक-रेट से रन बटोरे. 

चोपड़ा ने टी20 टीम में न चुने जाने के बाद इस बल्लेबाज के करियर पर उठाया सवाल

एक निजी चैनल से बातचीत में सूर्यकुमार ने खुलासा करते हुए कहा कि कैसे  मुंबई इंडियंस मैनेजमेंट ने उन्हें शीर्ष क्रम में खुद को खुलकर खेलने का मौका दिया. इस दाएं हत्था बल्लेबाज ने कहा कि मैनेजमेंट का सहयोग बहुत ही शानदार रहा है. मुझे अभी भी याद है, जब मैं साल 2018 में केकेआर से मुंबई आया. केकेआर में मेरी भूमिका पूरी तरह से अलग थी और मैं निचले क्रम में बैटिंग किया करता था और मेरे ऊपर फिनिशिंग की जिम्मेदारी हुआ करती थी. सूर्यकुमार ने कहा कि मुंबई के लिए खेलते हुए प्लान पूरी तरह से स्पष्ट था. मैनेजमेंट मुझसे शीर्ष क्रम में बल्लेबाजी चाहता था. उन्होंने मुझे जिम्मेदारी दी और पूरी निर्भीकता के साथ बैटिंग करने की आजादी और चुनौती दी. मैंने यहां नंबर चार पर बैटिंग करना शुरू किया, तो साथ ही पारी की शुरुआत करने का अवसर भी मिला.

एरॉन फिंच ने स्वीकारा, आईपीएल नीलामी में न बिकना अप्रत्याशित नहीं था, लेकिन...


सूर्यकुमार यादव ने कहा कि वास्तव में मैंने अपनी भूमिका का पूरी तरह से लुत्फ उठाया और बाद में भी मैनेजमेंट मुझे सहयोग करता रहा. जिस तरह उन्होंने मेरी हौसलाअफजायी की और मेरे भीतर भरोसा दिखाया है, वह बहुत ही शानदार और सकारात्मक रहा है. पिछले तीन सालों में मैंने इसका पूरी तरह लुत्फ उठाया है. सभी खिलाड़ियों के बारे में बात करते हुए सूर्यकुमार ने शुरुआत कप्तान रोहित से करते हुए कहा कि रोहित ने मेरे भीतर बहुत कॉन्फिडेंस दिखाया है. वह बहुत ही सकारात्मक ऊर्जा टीम को देते हैं और फिर हार्दिक, क्रुणाल और पोलार्ड हैं, जो मेरे इर्द-गिर्द रहे हैं. मैंने मैदान और इसके बाहर इनके साथ गुजारे समय का पूरा आनंद लिया. मैंने इनसे कई बातें सीखीं.  हार्दिक और क्रुणाल भारत के लिए खेल चुके हैं. इसलिए मैंने उनका अनुसरण किया और देखा कि वे खाली और मैच के दिनों के दौरान क्या करते हैं. मैंने इन खिलाड़ियों से बहुत छोटी-छोटी बातें सीखीं. 
 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने अपने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी. ​