Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

IND vs RSA, 2nd Test: Virat Kohl ने की Mohammed Shami की जमकर तारीफ, Kuldeep Yadav के बाहर होने की वजह को भी बयां किया

IND vs RSA, 2nd Test: Virat Kohl ने की Mohammed Shami की जमकर तारीफ,  Kuldeep Yadav के बाहर होने की वजह को भी बयां किया

IND vs RSA, 2nd Test: Virat Kohli के साथ Mohammed Shami

खास बातें

  • पिछले तीन साल में हमने सबसे कम मैच गंवाए-विराट
  • कुलदीप को पता है वह क्यों टीम में नहीं हैं
  • दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरा टेस्ट वीरवार से
पुणे:

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) इस बात से खुश है कि टीम के खिलाड़ियों ने ‘निस्वार्थ रवैया' अपनाया है और ‘उनकी सोच में लचीलापन'है, जिससे तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी (Mohamemd Shami) के खेल में बदलाव आया और कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) को पता है कि वह टीम से क्यों बाहर हुए है. कभी चोटों से परेशान रहने वाले शमी ने सपाट पिच पर धारदार गेंदबाजी की जिससे विराट कोहली बहुत ही ज्यादा प्रभावित हैं.  कोहली ने दूसरे टेस्ट की पूर्व संध्या पर बुधवार को कहा, ‘अब (वह) अधिक जिम्मेदारी के साथ खेल रहे है. हमें अब कुछ बताने की जरूरत नहीं होती. हमें अब यह कहने की जरूरत नहीं होती आपको हमारे लिए यह स्पैल डालना होगा. जब उन्हें गेंद सौपी जाती है तब वह मैच की परिस्थिति को अच्छे से समझते हैं. शमी जहां पूरी तरह लय में है वही युवा चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यह सोच रहे होंगे कि अपने पिछले टेस्ट (ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी में) में पांच विकेट लेने के बाद भी वह टीम से बाहर क्यों है. 

यह भी पढ़ें:  इसलिए दूसरे टेस्ट से पहले Pune की Pitch बन गई गहन चर्चा का विषय

इस पर विराट ने कहा कि हालांकि कुलदीप को पता है कि उन्हें अंतिम 11 में जगह क्यों नहीं मिली. टीम में कोई भी स्वार्थी नहीं है और हर कोई यह सोचता है कि वह टीम के लिए क्या कर सकता है. कुलदीप के बारे में भी ऐसा ही है. वह समझते हैं कि भारत में खेलते समय अश्विन और जडेजा हमारी पहली पसंद होंगे क्योंकि वे बल्ले से भी योगदान देने में सक्षम है' पिछले कुछ वर्षों में भारतीय टीम प्रबंधन ने टेस्ट मैचों में अक्सर अपने संयोजन में बदलाव किया है और कप्तान कोहली से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि अगर आप नतीजे देखेंगे तो समझ जाएंगे कि ऐसा क्यों किया गया है. कोहली ने कहा, ‘हम पिछले दो साल से जो कर (टीम संयोजन को लेकर) रहे है उसके बारे में काफी चर्चा हो रही है. हमारा सिर्फ एक मकसद होता है जोकि ज्यादा से ज्यादा मैच जीतने का है. हम ऐसा करने में कामयाब रहे है' 

यह भी पढ़ें: कमर की सर्जरी के बाद रिकवरी कर रहे हरफनमौला Hardik Pandya, देखें VIDEO..

कप्तान के तौर पर पिछले तीन साल में सिर्फ एक (2017 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ पुणे में) टेस्ट मैच में हार का स्वाद चखने वाले कोहली ने कहा, ‘पिछले तीन वर्षों में सबसे कम मैच गंवाने का प्रतिशत हमारे नाम है और इसके लिए अच्छी वजह है. जाहिर है टीम में लचीलापन है, लेकिन जैसा कि मैंने कहा अगर टीम साथ नहीं दे तो यह संभव नहीं होगा.' शमी की तारीफ करते हुए कप्तान ने कहा सपाट और बिना मदद वाली पिचों से भी सीम मूवमेंट हासिल करने की कला उन्हें विशेष बनाती है. उन्होंने कहा, ‘हम जैसी पिचों पर खेलते है, मुझे नहीं लगता कोई भी शमी की तरह सीम मूवमेंट हासिल करने में सफल रहता है. वह ऐसे खिलाड़ी है जो विपरीत परिस्थितियों में भी मैच के रुख को पूरी तरह से पलट देते है. आप उनके कौशल को देख सकते है. खास कर दूसरी पारी में जब मुश्किल स्थिति होती है तब वह हर बार अपना काम शानदार तरीके से करते है' 

VIDEO: दूसरे टेस्ट से पहले विराट कोहली प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान. 

मैच के विभिन्न स्थिति में जिम्मेदारी उठाने की खिलाड़ियों की क्षमता से कप्तान ‘आश्चर्यचकित'हैं.  मैच के दौरान हालांकि बारिश का पूर्वानुमान है, लेकिन कप्तान ने अपनी टीम संयोजन को बदलने में बहुत दिलचस्पी नहीं दिखाई. टीम में तीसरे तेज गेंदबाज को शामिल करने को नकारते हुए उन्होंने कहा, ‘हमारी टीम लगभग स्थिर है और मुझे नहीं लगता कि पिच की भूमिका बहुत ज्यादा होगी क्योंकि जब पिच में नमी होती है तब भी गेंद को घुमाव भी मिलता है. ऐसा नहीं है कि सिर्फ तेज गेंदबाज ही प्रभावी होंगे, स्पिनर भी प्रभावी होंगे