NDTV Khabar

IND VS SA 2nd T20: इन 2 जगहों के लिए आठ भारतीयों के बीच रेस, कौन मारेगा बाजी?

इसमें दो राय नहीं कि अगले कुछ टी-20 मैचों में युवा ही नहीं बल्कि कुछ सीनियर खिलाड़ी भी एक तरह से टेस्ट पर होने जा रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
IND VS SA 2nd T20: इन 2 जगहों के लिए आठ भारतीयों के बीच रेस, कौन मारेगा बाजी?

सुरेश रैना

नई दिल्ली:

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अगले दो को मिलाकर श्रीलंका में खेले जाने वाली निसाध ट्रॉफी (टी-20) के मुकाबले कुछ भारतीय युवा और कुछ सीनियर खिलाड़ियों के लिए बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण होने जा रहे हैं. वजह यह है कि अगले साल इंग्लैंड में खेले जाने वाले वनडे और साल 2020 में ऑस्ट्रेलिया में आयोजित होने वाले टी-20 विश्व कप के लिए टीम इंडिया के मैनेजमेंट ने काफी पहले से ही काम करना शुरू कर दिया है. और इसी को ध्यान में रखते हुए कुछ खिलाड़ियों को नियमित अंतराल पर ऊपर-नीचे या इलेवन से अंदर बाहर किया जा रहा है.  और यह प्लान वनडे और टी-20 दोनों के लिए ही है.
 


इस प्लान के तहत टीम इंडिया में दो अहम जगह खाली हैं. वनडे में सलामी जोड़ी करीब-करीब पक्की है, तो वहीं तीसरे नंबर पर विराट कोहली को भी दूर-दूर तक हिलाने वाला कोई दूसरा बल्लेबाज नहीं है. बस विराट के बाद के क्रम के लिए बल्लेबाजों की तलाश जारी है. और इसके तहत दो जगहों के लिए रेस में आठ बल्लेबाज शामिल हैं
 
यह भी पढ़ें :  IND vs SA 2nd T20: जीती तो दक्षिण अफ्रीका में यह रिकॉर्ड बना देगी विराट कोहली ब्रिगेड

इस रेस में श्रेयस अय्यर, मनीष पांडेय, दिनेश  कार्तिक, केदार जाधव, अंजिक्य रहाणे, सुरेश रैना, केएल राहुल और वॉशिंगटन सुंदर हैं. रवि शास्त्री और कप्तान विराट कोहली अगले कुछ महीनों तक इन खिलाड़ियों को नियमित अंतराल पर परखेंगे, जिससे कम से कम वनडे और टी-20 में दो जगहों को स्थायी रूप से भरा जा सके.वनडे और टी-20 दोनों में ही नंबर-4 और 5 बल्लेबाज की तलाश दो रही है. वनडे में अजिंक्य रहाणे का नंबर चार भी डगमगाया हुआ है. सूत्रों की मानें, तो इंग्लैंड के खिलाफ जुलाई में खेले जाने तीन वनडे और इतने ही टी-20 मुकाबलों तक टीम इंडिया मैनेजेंट का मन स्थायी रूप से विश्व कप के प्लान के तहत टीम इंडिया को फाइनल टच देना है.

VIDEO: सेंचुरियन में शतक बनाने के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली.
बहरहाल अब देखने की बात यह है कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बाकी बचे सहित अगले कुछ टी-20 मैचों में कौन-कौन सा बल्लेबाज अपना असर छोड़ने और भरोसा जीतने में कामयाब रहता है. क्योंकि अगर यह कहा जाए का अगले साल विश्व कप से पहले इन सभी युवाओं और वरिष्ठों को अपना दम दिखाने का यह एक तरह से दूसरा आखिरी मौका है, तो गलत नहीं ही होगा. 

टिप्पणियां

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement