Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इसलिए Ravi Shastri ने Rohit Sharma को इलेवन का हिस्सा बनाने के लिए Virat Kohli पर बनाया दबाव

इसलिए Ravi Shastri ने Rohit Sharma को इलेवन का हिस्सा बनाने के लिए Virat Kohli पर बनाया दबाव

Ind Vs SA Pune Test Match: Ravi Shastri का फाइल फोटो

खास बातें

  • बुमराह एक खास, अहम और मैच विजेता खिलाड़ी-शास्त्री
  • हम बुमराह को लेकर बहुत ही फिक्रमंद
  • रोहित ओपनर की भूमिका के लिए तैयार था
पुणे:

भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने कहा कि टीम को जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) के वर्कलोड को लेकर सावधान रहना होगा क्योंकि बुमराह तीनों प्रारूप में खेलते हैं. बुमराह (Jasprit Bumrah) इस समय चोटिल हैं और इसी कारण दक्षिण अफ्रीका के साथ खेली जा रही तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में भारतीय टीम का हिस्सा नहीं हैं. शास्त्री ने एक अखबार में लिखे कॉलम में कहा, "हम इस बात को लेकर काफी फिक्रमंद हैं क्योंकि वह काफी अहम, विशेष, अलग और मैच विजेता हैं. इस बात को लेकर विचार किया जा रहा है कि उन्हें सर्जरी की जरूरत है या नहीं. हमें उनके वर्कलोड को लेकर काफी सावधान रहना होगा क्योंकि वह तीनों प्रारूपों में टीम का हिस्सा हैं.

यह भी पढ़ें: Team India की एक और जीत पर नजर, लेकिन...यह टीम उतरेगी मैदान पर

"शास्त्री ने साथ ही रोहित शर्मा की पारी की शुरुआत करने को लेकर बात कही और कहा कि यह स्टार बल्लेबाज इस जिम्मेदारी के लिए तैयार था. रोहित ने बतौर सलामी बल्लेबाज खेले गए अपने पहले टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दोनों पारियों में शतक जमाए. विशाखापट्टनम में खेले गए पहले टेस्ट मैच में भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 203 रनों से हराया था.

यह भी पढ़ें: भारतीय महिलाओं ने जीता पहला वनडे, Mithali Raj ने रचा एक और इतिहास

शास्त्री ने कहा, "मुझे पसंद नहीं है कि उनकी जैसी क्षमता वाला खिलाड़ी बाहर बैठे. वेस्टइंडीज में मैं इस बात को लेकर साफ था कि वह पारी की शुरुआत करें और इसे लेकर मैंने कोहली से चर्चा भी की थी. यह उनका मौका था." उन्होंने कहा, "सलामी बल्लेबाजी मानसिकता की बात है. आपको नई गेंद का सम्मान करना पड़ता है. बीते 20 साल में टीम में संतुलन बनाने के लिए भारत के लिए कई खिलाड़ियों ने पारी की शुरुआत की लेकिन उनमें वो क्षमता नहीं थी"

VIDEO: दूसरे टेस्ट से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में विराट कोहली

शास्त्री ने कहा, "किसने सोचा था कि वीरेंद्र सहवाग का टेस्ट में औसत 50 का होगा. लेकिन उन्होंने नई गेंद से पहले 20 मिनट पर काबू पाया. मुझे नहीं लगता कि उन्होंने जिस तरह बल्लेबाजी का लुत्फ उठाया वो किसी और ने उठाया"