NDTV Khabar

IND vs SA 2nd Test: इसलिए Virat Kohli ने जड़े सात में से इन दो दोहरे शतकों को बताया सर्वश्रेष्ठ

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
IND vs SA 2nd Test: इसलिए Virat Kohli ने जड़े सात में से इन दो दोहरे शतकों को बताया सर्वश्रेष्ठ

IND vs SA 2nd Test: Virat kohli रिकॉर्डों की मशीन बन गए हैं

खास बातें

  1. पुणे में Virat kohli ने जड़ा सातवां दोहरा शतक, लेकिन...
  2. Virat Kohli ने खेली नाबाद 254 रन की पारी
  3. कई रिकॉर्ड निकले Virat Kohli के बल्ले से
पुणे:

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पुणे  में जारी दूसरे टेस्ट (IND vs SA 2nd Test) के दूसरे दिन अपने करियर का सातवां दोहरा शतक जड़ा, लेकिन भारतीय कप्तान अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ दोहरा शतक किसी और को ही मानते हैं. कोहली (Virat Kohli) ने पुणे के दोहरे शतक के साथ ही कई रिकॉर्ड अपनी झोली में जमा किए.  साथ ही, वह भारत के लिए सबसे ज्यादा दोहरे शतक बनाने वाले बल्लेबाज भी बन गए. बहरहाल, बीसीसीआई की आधिकारिक वेबसाइट ने कोहली (Virat Kohli) के हवाले से लिखा है, "सभी दोहरे शतक लगाकर अच्छा लगा, लेकिन अगर आप मुझसे पूछेंगे तो मैं कहूंगा कि एंटिगा में और मुंबई में इंग्लैंड के खिलाफ लगाया गया दोहरा शतक खास है क्योंकि एक घर से बाहर और घर में चुनौतीपूर्ण परिस्थतियों में लगाया था." कोहली ने भारत के लिए सबसे ज्यादा दोहरे शतक लगाने की रेस में सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग को पीछे छोड़ा है. इन दोनों के नाम टेस्ट में छह-छह दोहरे शतक हैं.

यह भी पढ़ें: दूसरे दिन Virat Kohli ने इन दिग्गज सात बल्लेबाजों को पीछे छोड़ दिया और...


कोहली ने कहा, "भारत के लिए सबसे ज्यादा दोहरे शतक लगाकर मुझे अच्छा महसूस हो रहा है. शुरुआत में मैं बड़े स्कोर करने के लिए संघर्ष करता था, लेकिन जब मैं कप्तान बना तब आप अपने आप टीम के बारे में सोचते हो. आप अपने बारे में नहीं सोच सकते। इस प्रक्रिया में, आप जितनी सोचते हो उससे ज्यादा बल्लेबाज करने में सफल रहते हो"

यह भी पढ़ें: यहां तो Virat kohli महान Gavskar और Richards से आगे निकल गए...और बन गए केवल सातवें भारतीय

कोहली ने दूसरे दिन आठ घंटे तक बल्लेबाजी की. इस पर कप्तान ने कहा, "यह मुश्किल है लेकिन अगर आप टीम के बारे में सोचते हो तो आप जितनी बल्लेबाजी कर सकते हो उससे तीन-चार घंटे ज्यादा बल्लेबाजी कर जाते हो। यहां काफी उमस थी. मेरे लिए सिर्फ यही एक चुनौती थी. फिर रवींद्र जडेजा आए और उनके साथ आपको तेज भागना पड़ता है." हनुमा विहारी इस मैच में नहीं खेल रहे हैं. उनके स्थान पर जडेजा को नंबर-6 पर भेजा गया था.

VIDEO: धोनी के संन्यास पर युवा क्रिकेटरों के विचार सुन लीजिए. 

टिप्पणियां

इस पर कोहली ने कहा, "हमारी रणनीति साफ थी कि हमें 600 रन बनाने हैं और आज शाम तक उन्हें बल्लेबाजी पर बुलाना है. जड्डू ने बेहतरीन बल्लेबाजी की और इसी कारण मुझे ज्यादा जोखिम नहीं लेना पड़ा. साझेदारी ने चीजों को सही तरह से रख दिया और हम ने अंत में 15 ओवर गेंदबाजी भी की.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... Tanhaji Box Office Collection Day 17: अजय देवगन की 'तान्हाजी' ने 17वें दिन मचाया तूफान, बॉक्स ऑफिस पर बनाया रिकॉर्ड

Advertisement