NDTV Khabar

IND VS SA: द. अफ्रीका के सामने सबसे बड़ा चैलेंज, ‘नई पिच’, तीसरे वनडे में बदलेगी मेजबानों की किस्मत?

दक्षिण अफ्रीका के लिए थोड़ी राहत की बात यह है कि न्यूलैंड्स की पिच तेज गेंदबाजों को मदद कर सकती है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
IND VS SA:  द. अफ्रीका के सामने सबसे बड़ा चैलेंज, ‘नई पिच’,  तीसरे वनडे में बदलेगी मेजबानों की किस्मत?

दक्षिण अफ्रीकी टीम के सदस्य डेविड मिलर. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. चार चोटिल खिलाड़ियों के सदमे में दक्षिण अफ्रीका
  2. न्यूलैंड्स की पिच तेज गेंदबाजों के लिए ठीक
  3. विराट के वीरों के सामने चैलेंज
नई दिल्ली:

चंद दिन के भीतर ही अपने चार चोटिल खिलाड़ियों के सदमे से मारी मेजबान दक्षिण अफ्रीका के लिए केप टाउन में भारत के खिलाफ आज तीसरे डे-नाइट वनडे में इस सदमे से उबरना ही सबसे बड़ा चैलेंज बन गया है. दक्षिण अफ्रीका के लिए थोड़ी राहत की बात यह है कि न्यूलैंड्स की पिच तेज गेंदबाजों को मदद कर सकती है, लेकिन इसके बावजूद उसके लिए अपने मुख्य चार खिलाड़ियों के बिना पूरी तरह रंगत में आ चुके विराट के वीरों के सामने इस चैलेंज को भेदना वास्तव में असंभव सरीखा दिखाई पड़ रहा है. वजह यह कि दूसरे वनडे में कई चीजें साफ तौर पर दिखाई पड़ीं.

तब साफ दिखाई पड़ कि तीन मुख्य खिलाड़ियों के बाहर होने से मेजबान टीम को बड़ा सदमा लगा है. खिलाड़ियों की शारीरिक भाषा ऐसे बालक की तरह थी, जो एकदम से अनाथ हो गया हो. मेजबान बल्लेबाज पिच पर पूरी तरह हत्थे से उखड़े दिखाई पड़े, तो फील्डिंग के दौरान ऐसा लग रहा था कि मानो वे बस किसी तरह समय काटना चाहते हैं. मैदान पर कोई भी शख्स टीम को दिशा, दशा दिखाने और हौसलाअफजाई करने वाला नहीं था. 
 

यह भी पढ़ें: IND VS SA: टीम इंडिया के 'ये पांच तीर' करेंगे दक्षिण अफ्रीका को केपटाउन में तीसरे वनडे में भी बेहाल!


और अब जब चौथे मैच से पहले एक और दिग्गज क्विंटन डि कॉक चोट के कारण बाहर हो चुके हैं, तो यह देखने की बात होगी कि पिछले मैच में लगे ‘सदमे’ का असर कहीं न्यूलैंड्स में और तो नहीं गहरा जाएगा. देखने की बात यह भी होगी कि नेट पर कलाइयों के स्पिनरों के सामने घंटो प्रैक्टिस करने वाले दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज तीसरे वनडे में भारतीय स्पिनरों को कैसे जवाब देंगे. सच यह है कि शुरुआती दोनों मैचों में युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव की गेंदबाजी से निपटने के लिए न तो मेजबान बल्लेबाजों के पास अच्छी समझ दिखाई पड़ी, न तकनीक और न ही मिजाज.
 

यह भी पढ़ें: IND VS SA: दक्षिण अफ्रीकी टीम पर गहरा संकट, पर 'यह चोटिल दिग्गज' गोल्फ खेल रहा!


विकेटकीपर और सलामी बल्लेबाज क्विंटन डि कॉक के बाहर होने के बाद हेनरिच क्लासेन अपना अंतरराष्ट्रीय करियर का आगाज करने को तैयार हैं, तो एडेन मार्करैम बतौर कप्तान अपना दूसरा मैच खेलने के लिए तैयार हैं. बतौर कप्तान पहले मैच में वह कहां थे, किसी को पता ही नहीं चला. मार्करैम पूरी तरह अनुपस्थित दिखाई पड़े. बल्ले से भी और कप्तानी से भी.कुल मिलाकर दक्षिण अफ्रीका मुकाबले से पहले ही‘आउट ऑफ प्लेस’ दिखाई पड़ रही है.

दूसरी तरफ लगातार दो मैच आसनी से जीतने के बाद विराट  कोहली के वीरों का हौंसला बुलंद है. और वे न्यूलैडंस में ही सुनिश्चित करने को तैयार हैं कि इस मैच के बाद सिर्फ मेजबान ही टीम सीरीज हारेगी, भारत नहीं. भारतीय टीम की अंतिम एकादश में बदलाव की कोई गुंजाइश नहीं है. दोनों टीमें इस प्रकार हैं:

दक्षिण अफ्रीका:  1. एडेन मार्करैम (कप्तान) 2. हाशिम अमला 3. जेपी डुमिनी 4. खाया जोंडो 5. डेविड मिलर 6. फरहान बेहरदीन 7. हेनरिच क्लासेन (विकेटकीपर) 8. क्रिस मोरिस 9. कैगिसो रबाडा 10. मॉर्ने मॉर्कल 11. इमरान ताहिर

भारत:  1. विराट कोहली (कप्तान) 2. रोहित शर्मा 3. शिखर धवन 4. अजिंक्य रहाणे 5. एमएस धोनी (विकेटकीपर) 6. केदार जाधव 7. हार्दिक पंड्या 8. भुवनेश्वर कुमार 9. कुलदीप यादव 10. जसप्रीत बुमराह 11. युजवेंद्र चहल

टिप्पणियां

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement