NDTV Khabar

IND VS SL:'यह बड़ा धमाका' कर रहा महेंद्र सिंह धोनी के शतक का इंतजार!

धर्मशाला में टीम इंडिया के लिए संकटमोचक पारी खेलने वाली पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी एक और बड़ा धमाका करने की कगार पर खड़े हैं. जैसा प्रदर्शन माही ने धर्मशाला में किया, उसे देखते हुए अगर वह यह कारनामा मोहाली में श्रीलंका के खिलाफ दूसरे वनडे में ही कर देते हैं, तो चौंकाने वाली बात बिल्कुल भी नहीं होगी.

110 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
IND VS SL:'यह बड़ा धमाका' कर रहा महेंद्र सिंह धोनी के शतक का इंतजार!

महेंद्र सिंह धोनी का फाइल फोटो

खास बातें

  1. धोनी को चाहिएं सिर्फ 109 रन..
  2. ..फिर 'त्रिदेव' के क्लब में शामिल होंगे धोनी..
  3. ..और बन जाएंगे सबसे तेज चौथे दस हजारी भारतीय
नई दिल्ली: धर्मशाला में टीम इंडिया के लिए संकटमोचक पारी खेलने वाले पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी एक और बड़ा धमाका करने की कगार पर खड़े हैं. जैसा प्रदर्शन माही ने श्रीलंका के खिलाफ धर्मशाला में किया, उसे देखते हुए अगर वह यह कारनामा मोहाली में दूसरे वनडे में बुधवार को ही कर देते हैं, तो चौंकाने वाली बात बिल्कुल भी नहीं होगी. अगर धोनी ऐसा कर देते हैं, तो वह सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और सौरव गांगुली के क्लब में शामिल हो जाएंगे. वैसे देर-सबेर यह रिकॉर्ड उनकी झोली में गिरना ही है, जो नियमित कप्तान विराट कोहली सहित रोहित शर्मा और बाकी बल्लेबाजों के लिए एक बड़ी चुनौती या प्रेरणा साबित होगा. 

धोनी से पहले इस रिकॉर्ड सिर्फ तीन दिग्गज भारतीय बल्लेबाजों ने कब्जा किया हुआ है. सचिन तेंदुलकर के अलावा सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़ ही इस कारनामे को अंजाम दे सकते हैं. सचिन तेंदुलकर तो इस मामले में दुनिया भर के बल्लेबाजों में पहली पायदान पर हैं. सचिन तेंदुलकर ने यह रिकॉर्ड बनाने के लिए 259 पारियां ली थीं. वहीं, सौरव गांगुली ने 263 और राहुल द्रविड़ ने 287 पारियां लीं.
 
भारतीय क्रिकेट के इन 'त्रिदेव' के बाद अब धोनी वनडे में सबसे तेज दस हजार रन बनाने वाले चौथे भारतीय बल्लेबाज बनने से सिर्फ 109 रन की दूरी पर खड़े हैं. 310 वनडे खेल चुके माही अभी तक मैदान पर 269 बार बैटिंग के लिए उतरे हैं. वैसे आपको धोनी के कुछ और कारनामों के बारे में भी बता देते हैं. 

यह भी पढ़ें : इन 'पांच चुनौतियों' से मोहाली में पार पाना होगा टीम इंडिया को !

1. साल 2017 में भारत की तरफ से सबसे ज्यादा रन (781) बनाने वाले चौथे बल्लेबाज
2. वनडे इतिहास में औसत के मामले में फिलहाल चौथे (51.78 का औसत) सबसे कामयाब बल्लेबाज 
3. श्रीलंका के खिलाफ पिछली 8 पारियों में से चार में जड़े अर्धशतक. 8 पारियों में औसत 131
4. मोहाली के मैदान पर सचिन तेंदुलकर (366) के बाद सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं धोनी (356)
 
VIDEO: धोनी और विराट में क्या कॉमन है, यह बता रहे हैं चेतेश्वर पुजारा करीब 12 साल पहले वनडे  करियर शुरू करने के बाद धोनी ने वनडे में खुद को महान बल्लेबाजों में शामिल कर लिया है. वास्तव में विकेटकीपिंग की दोहरी जिम्मेदारी निभाते हुए एडम गिलक्रिस्ट जैसे बल्लेबाजों से खुद को ऊपर ले जाना कोई छोटी बात नहीं है. अब जबकि धोनी के भीतर कुछ और सालों की क्रिकेट अभी भी बाकी बची है, तो कहा जा सकता है कि माही अपने बल्ले से और भी कई इतिहास रचेंगे.

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement