IND vs WI 1st ODI: ये खास 'पांच खास बातें' रहीं पहले वनडे मुकाबले की

IND vs WI 1st ODI: ये खास 'पांच खास बातें' रहीं पहले वनडे मुकाबले की

IND vs WI ODI: युवा बल्लेबाज शिमरोन हेटमायर की चर्चा जोरों पर हैं

खास बातें

  • हेटमायर ने विव रिचर्ड्स का रिकॉर्ड तोड़ा
  • विराट कोहली ने क्यों लिया आखिरी यह फैसला?
  • अब रोहित शर्मा यहां तो सचिन से आगे हैं
नई दिल्ली:

इसमें कोई शक की बात नहीं कि रविवार को गुवाहाटी में विंडीज और भारत के बीच खेले गए मुकाबले (मैच रिपोर्ट) में सीरीज की टोन सेट कर दी है. मैच ने करोड़ों भारतीय क्रिकेटप्रेमियों को यह संदेश दे दिया है कि अगले चार मुकाबलों में भारतीय बल्लेबाज मेहमान गेंदबाजों की कैसी दुर्गति करने जा रहे हैं. हर जगह रोहित और विराट के ही चर्चें हैं. बहरहाल, मैच को लेकर कई बातों को चर्चा है. उन बातों की जिसने सीरीज की टोन तय कर दी. चलिए जान लीजिए कि क्या पांच खास बातें रही गुवाहाटी मुकाबले की..

विराट कोहली द रन मशीन
भारतीय कप्तान विराट कोहली को लेकर चर्चा का स्तर लगातार बढ़ता जा रहा है. मानों कोहली लक्ष्य का पीछा करने के मास्टर बन चुके हैं. कोहली कितनी तेज भाग रहे हैं यह आप इससे समझ सकते हैं कि जहां कोहली ने 36वें शतक के लिए 204 पारियां लीं, तो वहीं सचिन ने 311वीं पारी में अपना 36वां शतक बनाया था. लक्ष्य का पीछा करते हुए उनका औसत 68.54 का है. 

कोहली का 'यह फैसला' भी चर्चा में
रविवार को जब विराट कोहली ने इलेवन का ऐलान किया, तो हर कोई इस बात से हैरान था कि कुलदीप यादव को इलेवन में जगह क्यों नहीं दी गई. जब एक दिन पहले 12 सदस्यीय टीम का ऐलान किया गया था कि चर्चा यह थी शमी और खलील अहमद में से कोई एक खेलेगा. लेकिन कुलदीप को न खिलाने का फैसला किसी के गले नहीं उतरा. 

यह भी पढ़ें: IND vs WI 1st ODI: कोहली के इन 'विराट रिकॉर्डों' का क्या कहना, अब भी हो रही चर्चा​

हिटमैन की पारी के क्या कहने
रोहित शर्मा ने एक बार फिर से अपनी नाबाद पारी से बताया कि उन्हें दिया गया नाम हिटमैन क्यों उन पर पूरी तरह से सटीक बैठता है. वनडे इतिहास में तीन दोहरे शतक लगाने वाले दुनिया के इकलौते बल्लेबाज हैं. यह वो कारनामा है, जो बड़े-बड़े दिग्गज टेस्ट में भी नहीं कर सके. गुवाहाटी की पारी से रोहित के खाते में 150 या इससे ज्यादा रनों की छह पारियों जमा हो गई हैं. सचिन व वॉर्नर पांच बार ही ऐसा कर सके हैं

ऋषभ पंत को वनडे कैप
मैच से पहले युवा विकेटकीपर ऋषभ पंत ने वनडे करियर का आगाज किया. धोनी ने उन्हें कैप सौंपी. ऋषभ ने कीपिंग नहीं की और एक बहुत ही आसान कैच भी उन्होंने छोड़ा. ऋषभ को बैटिंग का मौका नहीं मिला, लेकिन जब वह खेलेंगे, तो उम्मीद है कि वह भारत की 2019 विश्व कप की नीति के तहत खुद की जगह पक्की करने में कामयाब रहेंगे.

शिमरोन हेटमायर: विंडीज का नया स्टार
नंबर चार पर बैटिंग करने उतरे हेटमायर संकट में टीम के लिए बैटिंग करने उतरे. और 21 साल की उम्र में सीनियर बल्लेबाजों की भी तुलना में कहीं ज्यादा परिपक्वता दिखाई. और 106 रन की पारी से उन्होंने दिखा दिया कि विंडीज को एक नया सितारा बल्लेबाज मिल गया है. हेटमायर ने गजब का टेम्प्रामेंट दिखाते हुए  सिर्फ 74 गेंदों पर शतक जड़ा. हेटमायर ने छह छक्के लगाए. उन्होंने सिर्फ 13वीं वनडे पारी में तीसरा शतक जड़ा. और वह इतनी तेजी से यह कारनामा करने वाले विंडीज के तीसरे बल्लेबाज बन गए. इससे पहले यह रिकॉर्ड सर विव रिचर्ड्स के नाम था, जिन्होंने 16वीं पारी में तीसरा शतक जड़ा था.

VIDEO:  विश्व कप को लेकर अजय रात्रा से एनडीटीवी की खास बातचीत

पहले वनडे में भारतीय बल्लेबाजों द्वारा की गई जबर्दस्त धुलाई के बाद यह देखने वाली बात होगी कि आगे के मैचों में मेहमानों का रवैया कैसा रहता है. 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com