IND vs WI: ...तो कभी भी ऐसा मुकाम हासिल नहीं कर पाता, विराट कोहली ने कहा

IND vs WI: ...तो कभी भी ऐसा मुकाम हासिल नहीं कर पाता, विराट कोहली ने कहा

IND vs WI 3rdODI: विराट कोहली

पुणे:

विंडीज के खिलाफ पिछले दो वनडे मुकाबलों में लगातार शतक जड़ने वाले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि देश के लिए लगातार दस साल खेलना एक बहुत ही सम्मान की बात है. इसके बावजूद भी मैं यह नहीं सोचता कि मैं यहां कोई भी छूट ले सकता हूं या कुछ भी कर सकता हूं. देश के लिए खेलते हुए अंतरराष्ट्रीय स्तर आपको प्रत्येक रन के लिए संघर्ष करना पड़ता है. 

विराट कोहली ने कहा कि अगर मुझे एक ओवर में छह बार भी डाइव लगाने पड़ेगी, तो मैं टीम के लिए यह करूंगा. भारतीय कप्तान ने कहा कि यही मेरी ड्यूटी है. इसीलिए मेरा चयन देश की टीम में हुआ है और यह मेरे काम का हिस्सा है. यह सोचने के बजाय कि मैं थका हुआ हूं और मानसिक रूप से मैदान में होने के बावजूद टीम के लिए हर एक्ट्रा रन जुटाना एक महत्वपूर्ण बात है. निश्चित रूप से उस पर आपका ध्यान केंद्रित होना चाहिए.  विराट ने कहा कि अपनी टीम के लिए चीजों को अंजाम देने के लिए यही मेरा नजरिया है. 

यह भी पढ़ें: IND vs WI: इसलिए केदार जाधव का चयन तीन वनडे मैचों के लिए नहीं हुआ​

गुवाहाटी में दूसरे वनडे के दौरान कोहली अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे तेज दस हजार रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए, लेकिन विराट ने कहा कि उनके जीवन में रिकॉर्ड और निजी उपलब्धियों का ज्यादा अर्थ नहीं है. ये रिकॉर्ड केवल यह बताते हैं कि आप अपने करियर में इस मुकाम तक आ गए हैं. देश के लिए दस साल खेलने मेरे लिए बड़ी बात है. मैं खेल से बहुत ही ज्यादा प्यार करता हूं और आप इसे ज्यादा से ज्यादा खेलना चाहते हैं. यही मेरे लिए महत्वपूर्ण बात है. विराट ने कहा कि अगर मैं रिकॉर्डों पर ध्यान केंद्रित करता, तो इस मुकाम तक नहीं पहुंच पाता

VIDEO: भारत ने राजकोट में विंडीज पर विराट अंतर से जीत दर्ज  की. 

अब क्रिकेटप्रेमियों की निगाहें पुणे में शनिवार को खेले जाने वाले तीसरे डे-नाइट मुकाबले पर लगी हैं, जिसमें कोहली के चाहने वाले फिर से उम्म्मीद कर रहे हैं कि भारतीय कप्तान एक बार फिर से लगातार मुकाबले में एक और बड़ी पारी खेलेंगे.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com