NDTV Khabar

चैंपियंस ट्रॉफी : शाहिद अफरीदी ने भी माना, पाकिस्‍तान के खिलाफ टीम इंडिया का पलड़ा है भारी

‘‘कोहली की अगुवाई में भारतीयों का बल्लेबाजी लाइन अप काफी मजबूत है जो किसी भी दिन किसी भी गेंदबाजी आक्रमण की धज्जियां उड़ा सकता है.’’

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
चैंपियंस ट्रॉफी : शाहिद अफरीदी ने भी माना, पाकिस्‍तान के खिलाफ टीम इंडिया का पलड़ा है भारी

अफरीदी ने भारतीय गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की भी जमकर तारीफ की (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. 'कोहली की अगुवाई में भारतीयों का बल्लेबाजी लाइन अप काफी मजबूत है'
  2. 'मेरे लिये कोहली को गेंदबाजी करना हमेशा ही एक चुनौती थी'
  3. भारत के पास मजबूत बल्लेबाजी लाइन अप की तरह ही पैना गेंदबाजी आक्रमण है
लंदन: पाकिस्तानी ऑलराउंडर शाहिद अफरीदी ने कहा कि रविवार को चैम्पियंस ट्रॉफी में भारत के खिलाफ होने वाले दिलचस्प मुकाबले में विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम का पलड़ा भारी है. अफरीदी ने आईसीसी के लिये लिखे अपने कॉलम में कहा, ‘‘जुनूनी पाकिस्तानी समर्थक के तौर पर यह सामान्य ही है कि मैं चाहूंगा कि मेरी टीम किसी भी टीम के खिलाफ जीत दर्ज करे, विशेषकर भारत के खिलाफ.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हालांकि हाल के इतिहास और भारतीय टीम की गहराई से, इस मैच में उसका पलड़ा थोड़ा भारी है.’’ अफरीदी ने कहा कि पाकिस्तानी गेंदबाजों को भारत की मजबूत बल्लेबाजी इकाई के खिलाफ अपना शीर्ष प्रदर्शन करना होगा.

उन्होंने कहा, ‘‘कोहली की अगुवाई में भारतीयों का बल्लेबाजी लाइन अप काफी मजबूत है जो किसी भी दिन किसी भी गेंदबाजी आक्रमण की धज्जियां उड़ा सकता है.’’ अफरीदी ने कहा, ‘‘कोहली की शीर्ष क्रम के बल्लेबाज के तौर पर काबिलियत सभी को पता है और उन्होंने वनडे प्रारूप में कुछ यादगार पारियां खेली हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे 2012 एशिया कप में हमारे खिलाफ उनका शानदार शतक याद है जबकि एडिलेड में आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2015 के मुकाबले में वह सर्वश्रेष्ठ रहा था.’’

अफरीदी ने कहा, ‘‘मेरे लिये कोहली को गेंदबाजी करना हमेशा ही एक चुनौती थी और पाकिस्तानी गेंदबाजों को उनके खिलाफ अपने खेल में सर्वश्रेष्ठ होना होगा.’’ अफरीदी ने कहा, ‘‘उन्हें आक्रामक होने की कोशिश करनी चाहिए, विशेषकर जब वह क्रीज पर पहुंचा ही हो. अगर पाकिस्तान कोहली को सस्ते में आउट कर देता है तो इससे उसकी भारत को कम स्कोर पर समेटने की उम्मीद काफी बढ़ जायेगी.’’ पाकिस्तान के पूर्व कप्तान को लगता है कि भारत के पास भी अपने मजबूत बल्लेबाजी लाइन अप की तरह ही पैना गेंदबाजी आक्रमण है.

उन्होंने कहा, ‘‘हालांकि बल्लेबाजी भारत की पारंपरिक मजबूती रही है, इसका गेंदबाजी आक्रमण भी काफी संतुलित है जिसमें रविचंद्रन अश्विन की अगुवाई में कुछ बेहतरीन गेंदबाज शामिल हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘इस ऑफ स्पिनर ने भारत की तीन प्रारूपों में हालिया सफलताओं में अहम भूमिका अदा की है. अश्विन की लाइन एवं लेंथ इतनी सटीक है कि इससे सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी भी मुश्किल में आ जाते हैं.’’

टिप्पणियां
अफरीदी ने कहा, ‘‘उसे रविंद्र जडेजा से पूरा सहयोग मिलता है, जो हाल के वर्षों में भारतीय लाइन अप का एक अन्य अहम गेंदबाज रहा है. इंग्लैंड में हालात भले ही स्पिनरों के इतने मुफीद नही हों लेकिन अश्विन और जडेजा दोनों में बल्लेबाजों के सामने रन जुटाने में मुश्किल करने की काबिलियत है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘स्पिनरों का पूरा साथ भुवनेश्वर कुमार और मोहम्मद शमी की अगुवाई वाला तेज गेंदबाजी लाइन अप निभाएगा. मैं युवा जसप्रीत बुमराह से भी काफी प्रभावित हूं. वह ‘पाकिस्तानी यॉर्कर’ काफी अच्छा फेंकता है. वह हमें 90 के दशक के हमारे तेज गेंदबाजों की यॉर्कर याद दिलाता है.’’

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement