क्या सच में फिक्स था चैंपियंस ट्रॉफी 2017 फाइनल मैच? केंद्रीय मंत्री ने उठाए सवाल

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के फाइनल मैच में पाकिस्तान के हाथों मिली हार पर केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने सवाल उठाए हैं.

क्या सच में फिक्स था चैंपियंस ट्रॉफी 2017 फाइनल मैच? केंद्रीय मंत्री ने उठाए सवाल

केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने खेलों में दलित समुदाय के लिए 25 फीसदी आरक्षण की मांग की है...

खास बातें

  • अठावले ने विराट-युवराज पर लगाया फिक्सिंग का आरोप
  • फाइनल में पाकिस्तान ने 180 रनों से करारी शिकस्त दी थी
  • अठावले मंत्री ने खेलों में दलितों के लिए 25 फीसदी आरक्षण की मांग की
बड़ोदरा:

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के फाइनल मैच में पाकिस्तान के हाथों मिली हार पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्री ने सवाल उठाए हैं. ये मंत्री हैं रामदास अठावले . शनिवार को भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली, हरफनमौला खिलाड़ी युवराज सिंह के अलावा टीम के बाकी खिलाड़ियों पर उन्होंने फाइनल मैच को फिक्स करने का आरोप लगाया. उन्होंने इस मामले में जांच की मांग की भी मांग कर डाली. गौरतलब है कि भारत को 18 जून को हुए फाइनल में पाकिस्तान ने एकतरफा मुकाबले में 180 रनों से करारी शिकस्त दी थी. विराट कोहली और युवराज सिंह और महेंद्र सिंह धोनी जैसे सितारों से सजी भारतीय टीम ने पाकिस्तान के आगे घुटने टेक दिए थे. भारत की ओर से केवल हार्दिक पांड्या ने थोड़ा बहुत संघर्ष किया था.

वड़ोदरा के जिला अधिकारियों से मिलने के बाद शुक्रवार को अठावले ने कहा, "कोच अनिल कुंबले, कोहली और युवराज सिंह एवं बाकी खिलाड़ियों ने पूरे टूर्नामेंट में शानदार बल्लेबाजी की थी. इन जैसे शानदार खिलाड़ियों के रहते हुए हम पाकिस्तान जैसी टीम से कैसे हार सकते हैं?"

Newsbeep

अठावले ने कहा, "उन्होंने टूर्नामेंट में कई शतक जड़े.फाइनल में उन्हें क्या हो गया था.मंत्री ने कहा, ऐसा लगता है कि यह मैच फिक्स था.मैं इसकी जांच की मांग करता हूं." पाकिस्तान ने भारत को 180 रनों से हराया था.यह आईसीसी के किसी भी फाइनल में रनों के लिहाज से सबसे बड़ी जीत थी. समाजिक न्याय और सशक्तिकरण विभाग में राज्य मंत्री ने क्रिकेट और बाकी खेलों में दलित समुदाय के लिए 25 फीसदी आरक्षण की मांग की है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा, "जिन्होंने प्रदर्शन नहीं किया उन्हें बाहर किया जाना चाहिए और दलित सुमदाय के क्रिकेट खिलाड़ियों को मौका मिलना चाहिए.मैं क्रिकेट के अलावा बाकी के खेलों में 25 फीसदी आरक्षण की मांग करता हूं."
(इनपुट आईएएनएस से भी)