India vs Afghanistan Test: दमदार और कमजोर टीम के बीच मैच कल से लेकिन बनेगा इतिहास

India vs Afghanistan Test: दमदार और कमजोर टीम के बीच मैच कल से लेकिन बनेगा इतिहास

टीम इंडिया को अफगानिस्‍तान के मुकाबले बेहद मजबूत माना जा रहा है (AFP फोटो)

खास बातें

  • टेस्‍ट खेलने वाला 12वां देश बनेगा अफगानिस्‍तान
  • कप्‍तान विराट कोहली के बिना उतरेगी भारतीय टीम
  • उनके स्‍थान पर अजिंक्‍य रहाणे कर रहे हैं कप्‍तानी
बेंगलुरू:

कागजों में भले ही यह दमदार और कमजोर का मुकाबला नजर आ रहा है लेकिन दुनिया की नंबर एक टीम भारत और टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण कर रहा अफगानिस्तान कल यहां जब एकमात्र टेस्ट मैच में आमने-सामने होंगे तो इंटरनेशनल क्रिकेट में एक नया अध्याय शुरू होगा. ऐसे समय जब ज्‍यादातर खेल प्रेमियों का दिल.दिमाग रूस में होने वाले फुटबॉल वर्ल्‍डकप में लियोनेल मेसी और क्रिस्टियानो रोनाल्डो के करिश्माई खेल पर लगा होगा तब क्रिकेट के धुर प्रशंसक राशिद खान को शिखर धवन और अजिंक्य रहाणे जैसे बल्लेबाजों के लिए फ्लिपर या गुगली करते हुए देखना पसंद करेंगे. इस मैच के साथ ही अफगानिस्तान टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण करने वाली 12वां देश बन जाएगा और इस ऐतिहासिक मैच में राशिद, मुजीब जादरान और मोहम्मद शहजाद जैसे खिलाड़ी अपनी तरफ से सर्वश्रेष्ठ प्रयास करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे.

यह भी पढ़ें: टेस्‍ट में बरकरार रहेगा टॉस, दुर्व्‍यवहार-बॉल टैम्‍परिंग पर मिलेगी कड़ी सजा

अफगानिस्तान का भारत काफी करीबी सहयोगी रहा है. ऐसे में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने भी पूरी हमदर्दी दिखाते हुए उसकी राष्ट्रीय टीम के अभ्यास के लिये अपने स्टेडियम खोल दिए. लेकिन कल यहां जब मैच शुरू होगा तो इतना स्पष्ट है कि अजिंक्य रहाणे की अगुवाई वाली भारतीय टीम अपने इस नए प्रतिद्वंद्वी पर किसी तरह का रहम नहीं दिखाएगी. नियमित कप्तान विराट कोहली तथा दो मुख्य तेज गेंदबाजों भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह के बिना खेल रही भारतीय टीम इंग्लैंड के कड़े दौरे से पहले यहां बड़ी जीत दर्ज करना चाहेगी. अफगानिस्तान के लिए यह एक नयी तरह की जंग होगी जिसका उसे अब तक अनुभव नहीं है. टेस्ट क्रिकेट एक अलग तरह की चुनौती है और राशिद जैसे खिलाड़ियों की असली परीक्षा अब शुरू होगी. यह सभी जानते हैं कि राशिद टी20 के  बेहतरीन गेंदबाज हैं  लेकिन उनकी परीक्षा तो तब शुरू होगी जब वह टेस्‍ट क्रिकेट में बॉलिंग करने आएंगे.

अफगानिस्तान के कोच फिल सिमंस पहले ही कह चुके हैं कि उनके खिलाड़ियों को मैदान पर उतरने तक पता नहीं चलेगा कि टेस्ट क्रिकेट असल में क्या है. अब जबकि स्ट्राइक रेट का कोई दबाव नहीं होगा तब मुरली विजय और चेतेश्वर पुजारा अपने पांव जमाकर लंबी पारियां खेलने की कोशिश करेंगे. भारत के इन अनुभवी बल्लेबाजों को रोकना अफगानिस्तान के लिये आसान नहीं होगा. यह देखना भी दिलचस्प होगा कि अब तक एक भी चार दिवसीय मैच नहीं खेलने वाले 17 वर्षीय मुजीब क्या किंग्स इलेवन पंजाब के अपने साथी केएल राहुल को परेशानी में डाल पाएंगे. यहां उन्हें सीख देने के लिये रविचंद्रन अश्विन भी नहीं होंगे. इसके उलट वह भारतीय बल्लेबाजों को बता रहे होंगे कि मुजीब का सामना कैसे करना है. यह भी देखना होगा कि अफगानिस्‍तान का शहजाद जैसा आक्रामक बल्लेबाज खुद पर कैसे नियंत्रण रखता है क्योंकि टेस्ट क्रिकेट में अलग तरह के कौशल की जरूरत पड़ती है.

अफगानिस्‍तान टीम में स्‍टार स्पिनर राशिद खान की मौजूदगी के मद्देनजर भारतीय टीम प्रबंधन सख्त उछाल वाला विकेट बनवा सकता है क्योंकि स्पिनरों के लिये अनुकूल विकेट बनाने का दांव उल्टा पड़ सकता है. अफगानिस्तान के लिए उसके स्पिनर नहीं बल्कि बल्लेबाज समस्या हैं. शहजाद और मोहम्मद नबी जैसे बल्लेबाज अश्विन और रविंद्र जडेजा का कैसे सामना करते हैं इसका सीधा प्रभाव अफगानिस्तान के प्रदर्शन पर पड़ेगा. यही नहीं, इससे पहले उन्हें ईशांत शर्मा की उछाल और उमेश यादव की तेज गेंदों का सामना करना होगा.

वीडियो: गावस्‍कर ने इस अंदाज में की विराट कोहली की तारीफ

दोनों टीमें इन खिलाड़ि‍यों में से चुनी जाएंगी..
भारत: अजिंक्य रहाणे (कप्तान), शिखर धवन, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, केएल राहुल, करुण नायर, दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), हार्दिक पंड्या, शारदुल ठाकुर, नवदीप सैनी, रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा कुलदीप यादव, इशांत शर्मा, उमेश यादव.
अफगानिस्तान: अशगर स्‍टैनिकजई (कप्‍तान), मोहम्मद शहजाद, जावेद अहमदी, रहमत शाह, एहसानुल्लाह जनात, नासीर जमाल, हशमतुल्ला शाहिदी, अफसर जजाई, मोहम्मद नबी, राशिद खान, जाहिर खान, अमीर हमजा होताक, सैयद अहमद शिरजाद, यामिन अहमदजई वफादार, मुजीब उर रहमान.(इनपुट: एजेंसी)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com