NDTV Khabar

Ind vs Aus: टिम पेन-विराट कोहली की बहस को लेकर जस्टिन लैंगर बोले, 'इसमें थोड़ा मजाक था'

पर्थ टेस्‍ट (Perth Test)के दौरान टिम पेन (Tim Paine)और विराट कोहली (Virat Kohli) के बीच की बहसबाजी को ऑस्‍ट्रेलियाई टीम के कोच जस्टिन लैंगर (Justin Langer) ने खास तवज्‍जो नहीं दी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Ind vs Aus: टिम पेन-विराट कोहली की बहस को लेकर जस्टिन लैंगर बोले, 'इसमें थोड़ा मजाक था'

विराट और टिम पेन की नोकझोंक ऑस्‍ट्र‍ेलियाई मीडिया में चर्चा का विषय बनी थी (AFP फोटो)

खास बातें

  1. बोले, घटना ने हमें ऑस्‍ट्रेलियाई क्रिकेट के शीर्ष दिनों की याद दिलाई
  2. यदि ऐसी घटनाएं नहीं होंगी तो खेल बेहद उबाऊ हो जाएगा
  3. पर्थ की पिच को औसत बताने के आईसीसी के निर्णय से हैरान हैं
मेलबर्न:

पर्थ टेस्‍ट (Perth Test)के दौरान टिम पेन (Tim Paine)और विराट कोहली (Virat Kohli) के बीच की बहसबाजी को ऑस्‍ट्रेलियाई टीम के कोच जस्टिन लैंगर (Justin Langer) ने खास तवज्‍जो नहीं दी है. लैंगर को इस नोकझोंक ने ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के शीर्ष दिनों की याद दिला दी. उन्‍होंने सोमवार को कहा, ‘मुझे इसमें ऑस्ट्रेलियाई मजाक की झलक नजर आई. आप इसे छींटाकशी कह लो, बहस, या जो आपको पसंद हो. इसमें थोड़ा मजाक था और हमें इसके लिए स्वयं पर गर्व है. मैंने ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के जो शानदार दिन देखे हैं, ये उसी की तरह है.' उन्होंने कहा, ‘इसमें इतना अधिक मजा है, यही कारण है कि जब लोग मुझे कहते हैं कि मैदान पर कोई बात नहीं होनी चाहिए तो मैं कहता हूं कि यह इसे उबाऊ बना देगा, जैसे सपाट पिच पर खेलना.'

Ind vs Aus: पर्थ टेस्‍ट के दौरान कोहली के साथ नोकझोंक पर यह बोले ऑस्‍ट्रेलिया के टिम पेन...


गौरतलब है कि भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) की पर्थ के दूसरे टेस्ट में अपने ऑस्ट्रेलियाई समकक्ष पेन के साथ बहस चर्चा का विषय बनी थी. इस मुद्दे पर अपनी राय रखते हुए लैंगर (Justin Langer)ने कहा, ‘इसके लिए गुस्सा होने की जरूरत नहीं है, अभद्र होने की जरूरत नहीं है, लेकिन जब इस तरह का मजाक होता है तो हमें स्वयं के लिए खड़े होने का मौका भी मिलता है. यह बेहद महत्वपूर्ण है.'ऑस्ट्रेलियाई कोच ने कहा, ‘यह चीजों को करने का ऑस्ट्रेलियाई तरीका भी है. हमें स्वयं के लिए खड़ा होना होगा. मुझे लगता है कि टिम ने इसे जिस तरह किया, उससे मैं टिम की कप्तानी से प्रभावित हूं.'

Ind vs Aus: मेलबर्न टेस्‍ट में सचिन के इस 'बड़े' रिकॉर्ड की बराबरी कर सकते हैं विराट कोहली..

लैंगर (Justin Langer) ने इस बात पर हैरानी जताई कि इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने पर्थ की पिच को ‘औसत' करार दिया लेकिन वह तीसरे टेस्ट के लिए मेलबर्न की पिच में सुधार के प्रयासों से खुश हैं. उन्होंने कहा, ‘मैं बेहद हैरान था (पर्थ की रेटिंग को लेकर). कुछ गेंद नीची रही लेकिन मुझे लगता है कि यह रोमांचक टेस्ट क्रिकेट था. यह पर्थ की सबसे तेज पिच थी जो मैंने देखी और मैं लंबे समय से इसे देख रहा हूं.'मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (MCG) की पिच के बारे में लैंगर ने कहा, ‘पिच पर कुछ घास देखकर अच्छा लग रहा है. मैं हमेशा से कहता आया हूं कि टेस्ट क्रिकेट में सबसे महत्वपूर्ण चीज पिच है. अगर आपके पास शानदार पिच होगी तो गेंद और बल्ले के बीच मुकाबला होगा और फिर टेस्ट क्रिकेट जीवंत रहेगा और अच्छा करेगा. '

टिप्पणियां

वीडियो: पुजारा बोले, धोनी और विराट में यह बात है कॉमन

ऑस्‍ट्रेलिया टीम के कोच ने कहा, ‘अगर हम सपाट पिचों पर खेलेंगे तो फिर यह उबाऊ मैच हो जाएगा. उम्मीद करते हैं कि गेंद और बल्ले के बीच मुकाबला होगा क्योंकि यह महत्वपूर्ण है, इस सीरीज के लिए ही नहीं बल्कि विश्‍व क्रिकेट के लिए भी.'ऑस्ट्रेलियाई टीम तीसरे टेस्ट में खराब फॉर्म से जूझ रहे पीटर हैंड्सकोंब की जगह हरफनमौला मिचेल मॉर्श को टीम में मौका दे सकती है. लैंगर ने कहा,‘एक बेहद संतुलित टीम में आपके पास ऐसा खिलाड़ी होना चाहिए जो कुछ ओवर फेंक सके इसलिए संभवत: एडिलेड और पर्थ के समान नहीं होने वाले विकेट पर वह महत्वपूर्ण हो सकता है.'कोच ने कहा कि दोनों खिलाड़ियों के अपने मजबूत पक्ष हैं और टीम के संतुलन में ध्यान में रखते हुए अंतिम फैसला किया जाएगा. लैंगर ने ऑफ स्पिनर नाथन लियोन की जमकर तारीफ की जो दो टेस्ट में 16 विकेट चटका चुके हैं. (इनपुट: भाषा)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement