NDTV Khabar

INDvsAUS Test Series : चोट से परेशान ऑस्ट्रेलिया के लिए बड़ी खुशखबरी!

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
INDvsAUS Test Series : चोट से परेशान ऑस्ट्रेलिया के लिए बड़ी खुशखबरी!

नैथन लियोन ने पुणे टेस्ट और बेंगलुरू टेस्ट की पहली पारी में शानदार गेंदबाजी की थी...

रांची: भारत दौरे में सीरीज के अहम मोड़ पर खड़ी ऑस्ट्रेलियाई टीम पिछले कुछ दिनों से चोटों से परेशान है. ऑलराउंडर मिचेल मार्श के चोटिल हो जाने के बाद मुख्य तेज गेंदबाज मिचेल स्टार्क भी इस दौरे से बाहर हो गए हैं. इस बीच ऑस्ट्रेलिया के लिए एक और चिंता की बात है. पुणे और बेंगलुरू की तरह ही रांची का विकेट भी स्पिनरों के लिए मददगार रहने की संभावना है. ऐसे में दोनों ही टीमों के लिए उनके स्पिनरों का फिट रहना जरूरी है, लेकिन ऑस्ट्रेलियाई टीम का मुख्य स्पिनर ही चोटिल है. हालांकि अब खबर आ रही है कि वह मैच से पहले फिट हो जाएगा. इतना ही नहीं इस स्पिनर ने कहा है कि टेस्ट सीरीज में उसकी टीम पर नहीं बल्कि कुछ खास कारणों से भारत पर ही दबाव है... गौरतलब है कि दो मैचों के बाद सीरीज 1-1 से बराबर है जबकि बाकी बचे दो मैच रांची और धर्मशाला में खेले जाने हैं...

ऑस्ट्रेलिया को पुणे टेस्ट मिली जीत के हीरो रहे स्पिनर नैथन लियोन वैसे तो बेंगलुरू टेस्ट की दूसरी पारी में कुछ खास कमाल नहीं कर पाए थे, लेकिन इस दौरान उन्हें एक झटका लगा था, जब उनकी अंगुली चोटिल हो गई थी. वैसे तो ऑफ स्पिनर जिस अंगुली से गेंद को स्पिन कराते हैं उसकी चमड़ी का कड़ा होना आम बात है, लेकिन लियोन की अंगुली की कड़ी चमड़ी दूसरे टेस्ट के दौरान फट गई थी. ऑस्ट्रेलिया के इस ऑफ स्पिनर को भरोसा है कि वह तीसरे टेस्ट की अंतिम एकादश में जगह बना पाएंगे.

अपनी चोट के ठीक हो जाने के बारे में आश्वस्त लियोन ने कहा, ‘मैंने इन गर्मियों में काफी गेंदबाजी की और साल में एक या दो बार ऐसा होता है. सिर्फ चमड़ी फटी है. हालांकि इसमें कुछ समय के लिए काफी दर्द हो रहा था’

नैथन लियोन ने यह कहा कि वह अंगुली में टेप लगाकर भी गेंदबाजी नहीं कर सकते, क्योंकि इसमें नियम आड़े आता है. ऐसे में उनका फिट होना ही सही रहेगा, जिसकी उन्हें पूरी उम्मीद है.

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की वेबसाइट ने लियोन के हवाले से लिखा है, ‘और आप टेप लगाकर गेंदबाजी नहीं कर सकते- इसे लेकर नियम है कि आप टेप लगाकर गेंदबाजी नहीं कर सकते, इसलिए मैं इस पर विचार भी नहीं कर रहा था.’ उन्होंने कहा, ‘पिछली बार (2013 में भारत में) जब मैं यहां आया था तो तीसरे टेस्ट में ऐसा ही हुआ था और तीन दिन बाद मैं खेलने में सफल रहा था, इसलिए मैं अगले टेस्ट में खेलने को लेकर अधिक आश्वस्त हूं.’
 
गौरतलब है कि लियोन ने बेंगलुरू टेस्ट की पहली पारी में 50 रन देकर आठ विकेट चटकाते हुए ऑस्ट्रेलिया को मजबूत स्थिति में ला दिया था लेकिन दूसरी पारी में वह एक भी विकेट हासिल नहीं कर पाए थे, जिससे उनकी टीम को हार का सामना करना पड़ा था.

टिप्पणियां
सीरीज में अपनी टीम पर दबाव के बारे में चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि चार टेस्ट की मौजूदा सीरीज में दबाव भारत पर है. और उन्होंने साथ ही पिछले दो मैचों में संघषर्पूर्ण प्रदर्शन के लिए अपनी टीम की तारीफ की. गौरतलब है कि सीरीज शुरू होने से पहले लगभग सभी ने कहा था कि ऑस्ट्रेलिया 4-0 से हारेगा, क्योंकि उसकी टीम अच्छी नहीं है.

सिडनी मोर्निंग हेराल्ड से बात करते हुए लियोन ने सीरीज शुरू होने से पहले टीम की आलोचना को लेकर कहा कि हमें तो पहले ही खारिज कर दिया गया था, जबकि टीम ने शानदार खेल दिखाया है. उन्होंने कहा, ‘टीम में काफी आत्मविश्वास है. यहां आने की बात तो छोड़ ही दीजिए, विमान पर चढ़ने और दुबई पहुंचने से पहले ही कई लोगों ने हमें खारिज कर दिया था.’


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement