NDTV Khabar

INDvsENG 5th Test : पार्थिव-राहुल की ठोस पारी, टीम इंडिया 60/0, इंग्लैंड 477 पर ऑलआउट

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
INDvsENG 5th Test : पार्थिव-राहुल की ठोस पारी, टीम इंडिया 60/0, इंग्लैंड 477 पर ऑलआउट

मुरली विजय के स्थान पर पार्थिव ने राहुल के साथ अच्छी शुरुआत दी (फोटो : BCCI)

खास बातें

  1. इंग्लैंड ने पहली पारी में 477 रन बनाए हैं
  2. रवींद्र जडेजा ने सर्वाधिक 3 विकेट झटके
  3. सीरीज में टीम इंडिया 3-0 से आगे है
चेन्नई:

टीम इंडिया ने पूरी सीरीज की तरह चेन्नई टेस्ट में भी पहले ही दिन से इंग्लैंड पर दबाव बनाने की रणनीति अपनाई, लेकिन उसके गेंदबाज उतने प्रभावी नहीं दिखे, जैसे कि वह सीरीज के अन्य मैचों में थे. एमए चिदंबरम स्‍टेडियम में दूसरे दिन भी टीम इंडिया को विरोधी टीम को ऑलआउट करने के लिए लंबा इंतजार करना पड़ा. अंत में वह दिन के खेल के अंतिम सत्र में चायकाल के बाद इंग्लैंड को 477 रनों पर समेटने में सफल हुई. टीम इंडिया को पारी की शुरुआत से पहले ही झटका लग गया, क्योंकि ओपनर मुरली विजय का कंधा फील्डिंग के समय चोटिल हो गया था और वह बैटिंग के लिए फिट नहीं थे. ऐसे में नियमित ओपनर लोकेश राहुल का साथ देने के लिए कप्तान विराट कोहली ने पार्थिव पटेल को भेजा. इन दोनों ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए दिन का खेल खत्म होने तक टीम इंडिया का कोई भी विकेट नहीं गिरने दिया और 60 रन बना लिए. राहुल 30 रन और पार्थिव 29 रन पर नाबाद लौटे. इंग्लैंड के स्पिनर लियाम डॉसन और मोईन अली कोई प्रभाव नहीं डाल सके और उन्हें खाली हाथ लौटना पड़ा. (रवींद्र जडेजा जा भिड़े आदिल राशिद से, हो गए चित...)

टीम इंडिया ने दूसरे दिन इंग्लैंड को जल्दी आउट करने की पूरी कोशिश की, लेकिन उसे इसमें चायकाल के बाद ही सफलता मिल पाई. हालांकि दिन की शुरुआत में जब अश्विन ने दिन की पांचवीं ही गेंद पर शुक्रवार के नाबाद बल्लेबाज बेन स्टोक्स (5) को पैवेलियन लौटाया था, तो लगा कि भारत जल्दी ही अंग्रेजों को समेट देगा, लेकिन ऐसा नहीं हो पाया. इंग्लैंड की पारी लंबे इंतजार के बाद 477 रन पर सिमटी. लियाम डॉसन 66 रन बनाकर नाबाद लौटे. टॉप स्कोरर मोईन अली 146 रन रहे, जबकि जो रूट ने 88 रनों का योगदान दिया. टीम इंडिया के लिए रवींद्र जडेजा ने तीन, ईशांत शर्मा और उमेश यादव ने दो-दो विकेट, वहीं आर अश्विन और अमित मिश्रा ने एक-एक विकेट लिया. इंग्लैंड के जो रूट और जॉनी बेयरस्टॉ ने पहले दिन एक वर्ल्ड रिकॉर्ड की भी बराबरी कर ली थी.


चायकाल के बाद : लंबे संघर्ष के बाद इंग्लैंड की पारी सिमटी
इंग्लैंड ने चाय के बाद थोड़ी ही देर में नौवां विकेट गंवा दिया. स्कोर में तीन रन ही जुड़े थे कि स्टुअर्ट ब्रॉड 17 रन पर रनआउट हो गए. ब्रॉड ने रवींद्र जडेजा की गेंद को फाइन लेग की ओर खेलकर दो रन चुराने की कोशिश की, लेकिन लोकेश राहुल ने शानदार फील्डिंग करते हुए उन्हें रनआउट करा दिया. इसके बाद डॉसन ने जेक बॉल के साथ भी साझेदारी करने की कोशिश की, लेकिन बॉल को लेग स्पिनर अमित मिश्रा ने 12 रन पर बोल्ड कर दिया. यह उनकी मैच की एकमात्र सफलता रही. इंग्लैंड की पारी 477 रन पर सिमट गई. डेब्यू फिफ्टी बनाकर खेल रहे लियाम डॉसन 148 गेंदों में 66 रन बनाकर नाबाद लौटे. उन्होंने पांच चौके और एक छक्का लगाया.

इंग्लैंड का विकेट पतन : 1/7 (कीटन जेनिंग्स), 2/21 (एलिस्टर कुक), 3/167 (जो रूट), 4/253 (जॉनी बेयरस्टॉ), 5/287 (बेन स्टोक्स), 6/300 (जॉस बटलर), 7/321 (मोईन अली), 8/429 (आदिल राशिद), 9/455 (स्टुअर्ट ब्रॉड), 10/477 (जेक बॉल)

चायकाल तक : डॉसन की डेब्यू फिफ्टी
इंग्लैंड ने लंच से पहले की गलती को नहीं दोहराते हुए अच्छी शुरुआत की. सुबह इंग्लैंड ने 37 रन पर ही तीन विकेट खो दिए थे. इनमें सबसे अहम विकेट मोईन अली का था, जो 146 रन बनाकर लौटे. लियाम डॉसन और आदिल राशिद ने लंच से पहले की 31 रनों की साझेदारी से आगे खेलना शुरू किया और स्कोर को 400 के पार पहुंचा दिया.राशिद और डॉसन ने टीम इंडिया के गेंदबाजों को खासा परेशान किया. दोनों के बीच 108 रन की साझेदारी हुई. अंत में तेज गेंदबाज उमेश यादव ने राशिद को चकमा देने में सफलता हासिल की, जब उन्होंने उनको विकेट के पीछे पार्थिव पटेल के हाथों कैच करा दिया. डेब्यू मैच खेल रहे डॉसन ने बेहतरीन पारी खेलते हुए 121 गेंदों में पहली फिफ्टी बनाई.

लंच तक : स्टोक्स पांचवीं बार बने अश्विन का शिकार
इंग्लैंड की ओर से मोईन अली (120) और बेन स्टोक्स (5) ने पारी को 284 रन से आगे बढ़ाया और स्कोर में तीन रन ही जुड़े थे कि स्टोक्स के रूप में अश्विन ने मैच का पहला और इंग्लैंड का पांचवां विकेट झटक लिया. अश्विन ने इस सीरीज में बेन स्टोक्स को पांचवीं बार अपना शिकार बनाया है. स्टोक्स का अश्विन के खिलाफ औसत 18.8 का रहा है. स्कोर में 13 रन ही जुड़े थे कि जॉस बटलर (5) को ईशांत शर्मा ने अपना दूसरा शिकार बना लिया. इस प्रकार 300 रन पर इंग्लैंड के छह विकेट गिर गए. शनिवार सुबह इंग्लैंड के लिए अच्छी नहीं रही और उनका सातवां खिलाड़ी भी जल्दी ही लौट गया, जब उमेश यादव ने जमकर खेल रहे शतकवीर मोईन अली को पैवेलियन भेज दिया. अली ने 262 गेंदों का सामना किया और 13 चौकों व एक छक्के की मदद से 246 रन बनाए. अली ने यादव को पुल किया, लेकिन ऑफ स्टंप के बाहर की गेंद पर यह शॉट खेलना उन्हें महंगा पड़ा गया और रवींद्र जडेजा ने दौड़ लगाते हुए शानदार कैच लपक लिया. इसके बाद लियाम डॉसन और आदिल राशिद ने लंच तक 31 रन जोड़कर कोई विकेट नहीं गिरने दिया. लंच तक इंग्लैंड का स्कोर सात विकेट पर 352 रहा. लियाम डॉसन (27) और आदिल राशिद (8) नाबाद लौटे.

अश्विन बना सकते हैं रिकॉर्ड
टीम इंडिया के स्टार ऑफ स्पिनर आर अश्विन भले ही पहले दिन कोई सफलता हासिल नहीं कर पाए थे, लेकिन दूसरे दिन उन्होंने बेन स्टोक्स को आउट कर अच्छी शुरुआत की. हालांकि वह एक विकेट ही ले सके. अब यदि वह दूसरी पारी में इंग्लैंड के दो विकेट लेने में कामयाब रहे, तो सबसे तेज गति से 250 विकेट लेने के ऑस्‍ट्रेलिया के डेनिस लिली के रिकॉर्ड को तोड़ देंगे.

टिप्पणियां

मोईन को जीवनदान देना पड़ा महंगा
टीम इंडिया ने पूरी सीरीज में ही कई कैच छोड़े और जब-जब इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने बड़ी पारी खेली तो उसमें टीम इंडिया की खराब फील्डिंग का भी अहम रोल रहा. शुकुरवार को मोईन की पारी की शुरुआत में ही केएल राहुल ने कैच टपकाया. 49 रन बनाने वाले जॉनी बेयरस्‍टॉ को भी विकेटकीपर पार्थिव पटेल ने लाइफ दी.

पहले दिन का खेल
इंग्‍लैंड ने टॉस जीतने के बाद पहले दिन जमकर बल्लेबाजी की. कप्तान एलिस्टर कुक और कीटन जेनिंग्स के जल्दी आउट होने के बाद जो रूट और मोईन अली ने तीसरे विकेट के लिए 146 रन की साझेदारी करके स्थिति को संभाल लिया. मोईन ने जॉनी बेयरस्‍टॉ (49) के साथ चौथे विकेट के लिए 86 रन की साझेदारी की. टीम इंडिया के लिए पहले दिन रवींद्र जडेजा (3 विकेट) ही सबसे कामयाब रहे. एक अन्‍य विकेट ईशांत शर्मा के खाते में गया. रविचंद्रन अश्विन को आज कोई विकेट नहीं मिल पाया. मोइन के टेस्‍ट करियर का यह पांचवां शतक है. इसके लिए उन्‍होंने 203 गेंदों का सामना किया और नौ चौके लगाए. वैसे मोईन ने अपने 120 रनों में अब तक 12 चौके लगाए हैं. इंग्‍लैंड के लिए पहले दिन आउट होने वाले बल्‍लेबाज कीटन जेनिंग्‍स (1), कप्‍तान एलिस्‍टर कुक (10), जो रूट (88) और जॉनी बेयरस्‍टा (49) रहे. जहां जेनिंग्‍स को ईशांत ने पार्थिव पटेल से कैच कराया, वहीं कुक, रूट और बेयरस्‍टॉ के विकेट रवींद्र जडेजा के खाते में गए.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement