IND vs SA 3rd Test: भारत जीत से दो विकेट दूर, तीसरे दिन स्टंप के समय द.अफ्रीका का स्कोर 132/8

IND vs SA 3rd Test: भारत जीत से दो विकेट दूर, तीसरे दिन स्टंप के समय द.अफ्रीका का स्कोर 132/8

IND vs SA, 3rd Test, Day 3: टीम इंडिया रांची टेस्ट में जीत से केवल दो विकेट दूर है

खास बातें

  • भारतीय टीम ने पहली पारी 497 रन बनाकर घोषित की है
  • दक्षिण अफ्रीका पहली पारी में महज 162 रन बनाकर ढेर
  • फॉलोआन को हुआ मजबूर, दूसरी पारी में स्कोर 132/8
रांची:

India vs South Africa, 3rd Test, Day 3: विराट कोहली की टीम इंडिया ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में 'क्लीन स्वीप' की तैयारी कर ली है. टीम इंडिया जीत से महज दो विकेट दूर है और मैच के चौथे दिन मंगलवार को वह यह औपचारिकता पूरी कर लेगी. भारत के पहली पारी के  9 विकेट पर 497 रन के विशाल स्कोर (पारी घोषित) के जवाब में दक्षिण अफ्रीका की पहली पारी आज  56.2 ओवर में महज 162 रन पर सिमट गई और उसे फॉलोआन को मजबूर होना पड़ा. पहली पारी के आधार पर भारतीय टीम को 335 रन की भारीभरकम बढ़त हासिल हुई दूसरी पारी में भी दक्षिण अफ्रीका के खराब प्रदर्शन् का दौर जारी रहा और स्टंप्स के समय उसका स्कोर 8 विकेट पर 132 रन था. पहली पारी के आधार पर मेहमान टीम अभी भी 203 रन पीछे है. तीसरे दिन का खेल समाप्त घोषित किए जाने के समय कन्कशन प्लेयर थिउनिस डि ब्रुइन 30 औनर एनरहक नोर्ट्जे 5 रन बनाकर क्रीज पर थे. टीम इंडिया पहले दो टेस्ट जीतकर सीरीज में 2-0 की बढ़त बनाए हुए है.

दूसरी पारी में अब तक गिरे आठ विकेटों में से शमी के खाते में तीन विकेट आए हैं जबकि उमेश यादव ने दो बल्लेबाजों को आउट किया है.

पहला सेशन:भारतीय गेंदबाजों ने झटके चार विकेट

मेहमान दक्षिण अफ्रीका टीम ने तीसरे दिन आज, दो विकेट पर 8 रन से आगे खेलना शुरू किया. शुरुआत निराशाजनक रही और दिन के पहले ही ओवर में टीम ने कप्तान फाफ डुप्लेसिस (1) का विकेट गंवा दिया. उमेश यादव ने पांचवीं गेंद पर डुप्लेसिस की सुरक्षा को भेदा. गेंद गुडलेंथ स्पॉट पर टप्पा खाकर तेजी से अंदर आई और विकेट ले उड़ी. हमजा का साथ देने के लिए दिन के पहले ही ओवर में तेंबा बावुमा का उतरना पड़ा.मेहमान टीम को आज भले ही पहले ही ओवर में डुप्लेसिस का विकेट गंवाना पड़ा था लेकिन हमजा और बावुमा ने स्कोरबोर्ड को गतिमान बनाए रखा था. मौका मिलने पर ये दोनों उमेश और शमी के खिलाफ आक्रामक स्ट्रोक लगाने से नहीं चूक रहे थे. हमजा ने शमी को लगातार दो चौके जड़े और 12.4 ओवर में स्कोर 50 रन तक पहुंचा दिया. विश्वास के साथ बैटिंग कर रहे जुबेर हमजा ने अश्विन को छक्का लगाकर करियर का पहला अर्धशतक पूरा किया, इस दौरान उन्होंने 57 गेंदों का सामना करते हुए आठ चौके और एक छक्का लगाया.दक्षिण अफ्रीका ने 24.4 ओवर में 100 रन पूरे कर लिए.इसके बाद स्थिति में अचानक नाटकीय बदलाव आया और पांच गेंदों के अंतराल में दो विकेट गंवाकर दक्षिण अफ्रीका टीम संकट में आ गई. दोनों विकेट सेट बैट्समैन जुबेर हमजा (62) और तेंबा बावुमा (32) के रूप में गिरे. हमजा को रवींद्र जडेजा ने पारी के 28वें ओवर की चौथी गेंद पर बोल्ड किया. मेहमान टीम इस झटके से उबर भी नहीं पाई थी कि शहबाज नदीम ने अगले ओवर की दूसरी गेंद पर बावुमा (32 रन, 72 गेंद, पांच चौके) को विकेटकीपर साहा से स्टंप करा दिया.लोकल प्लेयर नदीम का यह पहला टेस्ट विकेट रहा. रवींद्र जडेजा ने जल्द ही हेनरिक क्लासेन (6) को बेहतरीन गेंद पर बोल्ड कर दिया.लंच के समय स्कोर 6  विकेट खोकर 129 रन था. जॉर्ज लिंडे 10 और डेन पिएड्ट 4 रन बनाकर  क्रीज पर थे.

दूसरा सेशन: फॉलोआन को मजबूर मेहमान, दूसरी पारी में भी 4 विकेट गंवाए

दूसरे सेशन के पहले ही ओवर में दक्षिण अफ्रीका ने अपना सातवां विकेट गंवा दिया. शमी ने डेन पिएड्ट को एलबीडब्ल्यू करते हुए यह सफलता दिलाई. गेंद नीची रह गई और पिएड्ट ने रिव्यू लिए बिना ही पवेलियन की राह पकड़ ली. अगले ओवर में कागिसो रबाडा (0) को रन आउट होना पड़ा. रन लेने की उनकी कोशिश को उमेश यादव ने डायरेक्ट थ्रो से नाकाम कर दिया. मेहमान टीम के विकेट ताश के पत्तों की तरह लगातार गिर रहे थे. इसके लिए भारतीय टीम की गेंदबाजी के साथ-साथ दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों का गैरजिम्मेदाराना रवैया भी दोषी रहा. बल्लेबाजों के इस संघर्ष के बीच दक्षिण अफ्रीकी टीम के 150 रन 44.4 ओवर में पूरे हुए. रबाडा के आउट होने के बाद लिंडे ने नोर्ट्जे के साथ साझेदारी करके भारतीय टीम को देर तक अगली कामयाबी से वंचित रखा.जॉर्ज लिंडे ने एनरिक नोर्ट्जे के साथ नौवें विकेट के लिए 32 रन जोड़कर संघर्ष करने का जीतोड़ प्रयास किया लेकिन उमेश यादव ने इस साझेदारी को तोड़कर दक्षिण अफ्रीकी पारी को समाप्ति के करीब पहुंचा दिया. तीन चौकों और एक छक्के की मदद से 37 रन बनाने वाले लिंडे को उमेश ने रोहित शर्मा से दूसरे स्लिप पर कैच कराया. स्पिनर नदीम ने नोर्ट्जे (4) को LBW करके 56.2 ओवर में दक्षिण अफ्रीकी पारी को समेट दिया. भारत के लिए उमेश यादव ने सर्वाधिक तीन विकेट लिए, जबकि शमी, शहबाज नदीम और रवींद्र जडेजा को दो-दो विकेट मिले.

विकेट पतन: 4-1 (एल्गर, 0.2), 8-2 (डि कॉक, 1.6), 16-3 (डुप्लेसिस, 5.5),  107-4 (हमजा, 27.4), 107-5 (बावुमा, 28.2), 119-6 (क्लासेन, 31.4), 129-7 (पिएड्ट, 36.4), 130-8 (रबाडा, 37.5), 162-9 (लिंडे, 55.1), 162-10 (नोर्ट्जे, 56.2)

फॉलोआन खेलने उतरी दक्षिण अफ्रीकी टीम की हालत दूसरी पारी में भी नहीं बदली और उसने दूसरी पारी में भी 9.3 ओवर में चार अहम विकेट गंवा दिए. ओपनर के तौर पर प्रमोट किए गए क्विंटन डिकॉक (5) को उमेश यादव ने बोल्ड किया वहीं इसके अगले यानी तीसरे ओवर शमी ने जुबेर हमजा (0) के साथ ऐसा ही हश्र किया.कप्तान फाफ डु प्लेसिस से टीम को उम्मीदें थीं लेकिन पहली पारी की तरह दूसरी पारी में भी उन्होंने निराश किया. पहली पारी में  महज 1 रन बना सके डुप्लेसिस दूसरी पारी में 10 गेंदों का सामना ही कर पाए और शमी की गेंद पर LBW होकर पवेलियन लौटे. नौवें ओवर में शमी ने बावुमा (0) को विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा के दस्तानों में कैद करा दिया. द. अफ्रीका के विकेट जिस तेजी से गिर रहे थे, ऐसा लग रहा था कहीं तीसरे दिन ही वह मैच न गंवा बैठे. पारी के 10वें ओवर में शमी की दनदनाती गेंद एल्गर के हेलमेट पर लगी और उन्हें मेडिकल स्टाफ की मदद लेनी पड़ी.दक्षिण अफ्रीका की दूसरी पारी का स्कोर चाय के समय 4 विकेट खोकर 26 रन था.डीन एल्गर 16 और एनरिक क्लासेन बिना कोई रन बनाए बनाए क्रीज पर थे.

तीसरा सेशन: दक्षिण अफ्रीकी की शर्मनाक बल्लेबाजी

तीसरे सेशन की शुरुआत में दक्षिण अफ्रीका के लिए एक और निराशाजनक खबर आई. टीब्रेक के पहले उमेश यादव की गेंद पर चोटिल हुए डीन एल्गर तीसरे सेशन में बैटिंग के लिए नहीं उतरे. उन्होंने रिटायर होने का फैसला किया. तीसरे सेशन में भारत को पहली कामयाबी तेज गेंदबाज उमेश यादव ने हेनरिक क्लासेन को एलबीडब्ल्यू करके दिलाई. ऐसा लगा कि गेंद संभवत: विकेट के ऊपर से निकल जाती लेकिन ग्राउंड अंपायर ने फैसला भारतीय गेंदबाज के पक्ष में दिया.लिंडे और पिएड्ट की जोड़ी ने मिलकर दक्षिण अफ्रीकी स्कोर को 50 रन के पार पहुंचा दिया. आखिरी घंटे के खेल के दौरान विकेटकीपर साहा मैदान से बाहर चले गए और उनकी जगह ऋषभ पंत ने विकेट के पीछे जिम्मेदारी संभाली. साहा आज के खेल के दौरान कई बार विकेटकीपर के दौरान चोटिल हुए. दक्षिण अफ्रीका का छठा विकेट जॉर्ज लिंडे के रूप में गिरा, जो शहबाज नदीम के बेहतरीन थ्रो पर रन आउट हुए. ऐसा लग रहा था कि दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज पहली पारी की गलती से कोई सीख लेने की कोशिश नहीं कर रहे और गैरजिम्मेदार अंदाज में विकेट गंवा रहे थे. थिउनिस डि ब्रुइन ने एल्गर के कन्कशन सबस्टीट्यूट के रूप में बैटिंग के लिए मैदान संभाला.दक्षिण अफ्रीका को सातवां झटका 'सर' रवींद्र जडेजा ने डेन पिएड्ट को बोल्ड करके दिया.जबकि आठवें विकेट के रूप में कागिसो रबाडा (12) को अश्विन की गेंद पर रवींद्र जडेजा ने कैच किया. दक्षिण अफ्रीका का स्कोर जब 8 विकेट पर 132 रन था था तब अम्पायरों ने तीसरे दिन का खेल समाप्त घोषित किया. इस समय डि ब्रुइन और नोर्ट्ज क्रीज पर थे.

विकेट पतन: 5-1 (डिकॉक, 1.1), 10-2 (हमजा, 2.3), 18-3 (डु प्लेसिस, 6.6), 22-4 (बावुमा, 8.3),36-5 (क्लासेन, 16.1), 67-6 (लिंडे, 28.3), 98-7 (पिएड्ट, 37.4)

बैटिंग कोच विक्रम राठौर ने बताया, इसलिए शहबाज नदीम को तीसरे टेस्ट की टीम में मिली जगह

इससे पहले, टीम इंडिया ने दूसरे दिन अपनी पहली पारी 9 विकेट पर 497 रन पर घोषित की थी. भारत को इस स्कोर तक पहुंचाने में रोहित  शर्मा के 212 और अजिंक्य रहाणे के 115 रनों के अलावा रवींद्र जडेजा के 51 रनों का भी अहम योगदान रहा था, निचले क्रम में उमेश यादव ने पांच छ्क्कों से 31 रन बनाकर दिखाया कि वह बल्ले से भी हाथ भांज सकते हैं. दक्षिण अफ्रीका ने जॉर्ज लिंडे ने सबसे ज्यादा हासिल किए थे जबकि कागिसो रबाडा के हिस्से में तीन विकेट आए थे .

 दोनों टीमें इस प्रकार हैं..

भारत: विराट कोहली (कप्तान), मयंक अग्रवाल, रोहित शर्मा, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, रवींद्र जडेजा, ऋद्धिमान साहा (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, शहबाज नदीम, उमेश यादव और मोहम्मद शमी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: दूसरे टेस्ट से पहले विराट कोहली प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान.

दक्षिण अफ्रीका: फैफ डु प्लेसिस (कप्तान), डीन एल्गर, क्विंटन डि कॉक, जुबैर हमजा, टेंबा बैवुमा, हेनरिच क्लासेन (विकेटकीपर), जॉर्ज लिंडे, डेन पिएट, कैगिसो रबाडा, एनरिच रॉर्जे और लुंगी एंगिडी