NDTV Khabar

IND vs SA: तीसरे टेस्‍ट के पहले दिन भारतीय पारी 187 रन पर सिमटी, द.अफ्रीका का स्‍कोर 6/1

दक्षिण अफ्रीका दौरे में भारतीय बल्‍लेबाजों का निराशाजनक प्रदर्शन तीसरे टेस्‍ट में जारी है. जोहानिसबर्ग में खेले जा रहे तीसरे टेस्‍ट के पहले दिन भारतीय टीम अपनी पहली पारी में 76.4 ओवर में महज 187 रन बनाकर आउट हो गई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
IND vs SA: तीसरे टेस्‍ट के पहले दिन भारतीय पारी 187 रन पर सिमटी, द.अफ्रीका का स्‍कोर 6/1

दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों ने भारत की पहली पारी को 187 रन पर समेट दिया

खास बातें

  1. भारतीय टीम पहली पारी में 187 रन पर सिमटी
  2. विराट कोहली और चेतेश्‍वर पुजारा ने अर्धशतक बनाए
  3. पहले दिन दक्षिण अफ्रीका ने मार्कराम का विकेट गंवाया
जोहानिसबर्ग: दक्षिण अफ्रीका दौरे में भारतीय बल्‍लेबाजों का निराशाजनक प्रदर्शन तीसरे टेस्‍ट में जारी है. जोहानिसबर्ग में खेले जा रहे तीसरे टेस्‍ट के पहले दिन भारतीय टीम अपनी पहली पारी में 76.4 ओवर में महज 187  रन बनाकर आउट हो गई. टीम इंडिया के लिए कप्‍तान विराट कोहली (54) और चेतेश्‍वर पुजारा (50) ने अर्धशतकीय पारी खेली लेकिन शेष बल्‍लेबाजों ने बुरी तरह से निराश किया. निचले क्रम में भुवनेश्‍वर ने 30 रन की उपयोगी पारी खेली.टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए टीम इंडिया ने 13 रन तक पहुंचते-पहुंचते अपने दोनों ओपनरों को गंवा दिया. विराट और पुजारा ने तीसरे विकेट के लिए 84 रन जोड़कर स्थिति को संभालने का प्रयास किया लेकिन इसके बाद विकेट पतन का सिलसिला फिर शुरू हो गया. 144 रन के स्‍कोर पर तो टीम ने पुजारा, पार्थिव और पंड्या के रूप में तीन विकेट गंवाए. दक्षिण अफ्रीका के लिए कागिसो रबाडा ने सर्वाधिक तीन विकेट लिए.जवाब में पहले दिन स्‍टंप्‍स के समय दक्षिण अफ्रीका का स्‍कोर छह ओवर में एक विकेट पर 6 रन है . डीन एल्‍गर 4 और कागिसो रबाडा बिना कोई रन बनाए क्रीज पर हैं.एडेन मार्कराम (2) आउट होने वाले बल्‍लेबाज हैं.

भारत के लिए पहला ओवर भुवनेश्‍वर कुमार ने फेंका जिसमें तीन रन बने. अपने दूसरे और पारी के तीसरे ओवर में भुवी ने टीम इंडिया को पहली कामयाबी दिलाई. उनके शिकार बने एडेन मार्कराम (2), जिनका कैच विकेटकीपर पार्थिव पटेल ने लपका.पहले दिन स्‍टंप्‍स के समय एल्‍गर और रबाडा क्रीज पर थे.टीम इंडिया इस समय सीरीज में 0-2 से पीछे हैं और बुधवार के इस प्रदर्शन को देखते हुए उसके लिए इस टेस्‍ट को बचाना भी बड़ी चुनौती साबित होगा. केपटाउन में पहला टेस्ट 72 रन से और सेंचुरियन में दूसरा टेस्ट 135 रन से जीतने के बाद मेजबान टीम सीरीज पहले ही अपने नाम कर चुकी है.

विकेट पतन: 3-1 (मार्कराम, 2.3)

स्‍कोरकार्ड यहां देखें
 
पहला सेशन: केएल राहुल और मुरली विजय के विकेट गिरे
मैच में भारतीय टीम के कप्‍तान विराट कोहली ने टॉस जीता और पहले बैटिंग करने का निर्णय लिया.दक्षिण अफ्रीका के लिए पारी का पहला ओवर मोर्ने मोर्केल ने फेंका जिसमें विजय के चौके सहित कुल 7 रन आए. वर्नोन फिलेंडर की ओर से फेंका गया दूसरा ओवर मेडन रहा. भारत की शुरुआत एक बार फिर निराशाजनक रही और पारी के चौथे ही ओवर में उसे केएल राहुल (0) का विकेट गंवाना पड़ा जिन्‍हें वर्नोन फिलेंडर ने विकेटकीपर क्विंटन डिकॉक से कैच कराया.पारी के छठे ओवर में पुजारा के खिलाफ एलबीडब्‍ल्‍यू की अपील हुई. दक्षिण अफ्रीका ने रिव्‍यू भी लिया लेकिन फैसला बल्‍लेबाज के पक्ष में गया.पारी के 9वें ओवर में कागिसो रबाडा को मोर्केल की जगह गेंदबाजी पर लाया गया.उन्‍होंने अपने पहले ओवर की चौथी गेंद पर ही मुरली विजय (8 रन, 32 गेंद, एक चौका) को विकेटकीपर डिकॉक से कैच करा दिया. टीम का स्‍कोर 13 रन तक पहुंचते-पहुंचते दोनों ओपनर आउट हो चुके थे.कोहली ने रबाडा को चौका लगाकर अपना खाता खोला.विराट के क्रीज पर मौजूद रहने के बावजूद भारतीय टीम का स्‍कोर कछुए की गति से बढ़ रहा था. चेतेश्‍वर पुजारा तो 50 से अधिक गेंद खेलने के बाद भी अपना पहला रन नहीं बना पाए थे. पारी के 21वें ओवर में कोहली को उस समय जीवनदान मिला जब रबाडा की गेंद पर फिलेंडर ने मिड ऑफ पर उनका कैच छोड़ दिया.पुजारा ने आखिरकार 54वीं गेंद पर अपना पहला रन बनाया.लंच के समय टीम इंडिया का स्‍कोर 27 ओवर में दो विकेट खोकर 45 रन था.

यह भी पढ़ें: विश्‍व क्रिकेट के इस दिग्‍गज ने कहा, 'कोहली अच्‍छे, लेकिन अभी महान बल्‍लेबाज नहीं हैं'
दूसरा सेशन: भारत ने गंवाए विराट और रहाणे के विकेट
दूसरे सेशन में भारतीय रन गति में कुछ तेजी आई. इस सेशन के दूसरे ओवर में विराट कोहली ने मोर्केल को चौका लगाया इसके बाद पुजारा ने अगले ही ओवर में फिलेंडर की गेंदों पर लगातार दो चौके जमाए. भारतीय टीम के 50 रन 29 ओवर में पूरे हुए. विराट कोहली तेजी से अर्धशतक की ओर बढ़ते जा रहे थे. उन्‍होंने कागिसो रबाडा की गेंद पर चौका जड़ते हुए अर्धशतक पूरा किया. उनका अर्धशतक 101 गेंदों पर 9 चौकों की मदद से पूरा हुआ. अर्धशतक बनाने के बाद विराट (54 रन, 106 गेंद, 9 चौके) ज्‍यादा देर नहीं टिके और तेज गेंदबाज लुंगी एनगिडी की गेंद पर एबी डिविलियर्स को कैच दे बैठे.पारी के 49वें ओवर में रहाणे को अंपायर ने विकेटकीपर डिकॉक के हाथों कैच आउट दे दिया था लेकिन फिलेंडर की यह गेंद नोबॉल थी और रहाणे बचने में सफल रहे.रहाणे उस समय 3 रन के निजी स्‍कोर पर थे. हालांकि रहाणे (9 रन, 27 गेंद, एक चौका) इस 'जीवनदान' का फायदा नहीं ले सके और मोर्ने मोर्केल की गेंद पर एलबीडब्‍ल्‍यू हो गए.चाय के समय टीम इंडिया का स्‍कोर 54 ओवर में चार विकेट खोकर 114 रन था.

लगातार गिरते रहे टीम इंडिया के विकेट
तीसरे सेशन में दक्षिण अफ्रीका के लिए पहला ओवर रबाडा ने फेंका जिसमें तीन रन बने. समय गुजरने के बाद चेतेश्‍वर पुजारा की बल्‍लेबाजी रंग में आती जा रही थी. उनका अर्धशतक 173 गेंदों पर आठ चौकों की मदद से पूरा हुआ. विराट कोहली की ही तरह चेतेश्‍वर पुजारा (50 रन, 179 गेंद, 8 चौके) भी अर्धशतक पूरा करने के बाद ज्‍यादा देर नहीं टिके. उन्‍हें एंडिले फेलुकवायो ने विकेटकीपर डिकॉक से कैच कराया. 144 के स्‍कोर पर ही भारतीय टीम का छठा विकेट भी गिर गया. पार्थिव पटेल (2 रन, 22 गेंद) को मोर्ने मोर्केल ने विकेटकीपर डिकॉक से कैच कराया.इसी स्‍कोर पर हार्दिक पंड्या (0) भी चलते बने. उन्‍हें फेलुकवायो ने विकेटकीपर डिकॉक से कैच कराया. देखते ही देखते चार विकेट पर 144 रन से टीम इंडिया सात विकेट पर 144 रन तक पहुंच चुकी थी.भुवनेश्‍वर कुमार ने मो. शमी के साथ स्‍कोर को 150 के पार पहुंचाया. भारतीय टीम का 8वां विकेट शमी (8 रन, 16 गेंद, एक चौका) के रूप में गिरा जिन्‍हें फिलेंडर ने रबाडा के हाथों मिड ऑफ में कैच कराया.भारतीय टीम का 9वां विकेट ईशांत शर्मा (0) के रूप में गिरा.आखिरी विकेट के रूप में भुवनेश्‍वर कुमार (30रन, 49 गेंद, चार चौके) के रबाडा की गेंद पर आउट होते ही भारतीय टीम 187 रन पर सिमट गई. दक्षिण अफ्रीका के लिए रबाडा ने सर्वाधिक तीन विकेट लिए. मोर्ने मोर्केल, वर्नोन फिलेंडर औार एंडिले फेलुकवायो.को दो-दो विकेट मिले.

विकेट पतन: 7-1 (राहुल, 3.1), 13-2 (विजय, 8.4) ,97-3 (कोहली, 42.4),113-4 (रहाणे, 51.4),144-5 (पुजारा, 61.3), 144-6 (पार्थिव, 62.2),144-7 (पंड्या, 63.2), 163-8 (शमी, 67.5)),166-9 (ईशांत, 72.1),187-10 (भुवनेश्‍वर, 76.4)
 
वैसे, भारतीय टीम अगर 3-0 से हारती है तो भी अपनी नंबर एक टेस्ट रैंकिंग नहीं गंवाएगी. भारतीय टीम ने दो बदलाव किए हैं. रोहित शर्मा की जगह अजिंक्‍य रहाणे और आर. अश्विन की जगह तेज गेंदबाज भुवनेश्‍वर कुमार को प्‍लेइंग इलेवन में स्‍थान दिया गया है.दूसरी ओर, दक्षिण अफ्रीका की टीम ने केशव महाराज के स्‍थान पर एंडिले फेलुकवायो को टीम में स्‍थान दिया है. सीरीज के पहले दो टेस्‍ट में मिली हार के बाद विराट कोहली के लिए कुल मिलाकर हालात एकदम बदल गए हैं. छह महीने पहले उन्होंने टीम को श्रीलंका पर 3-0 से जीत दिलाकर इतिहास रचा था. अब वह 3-0 से सीरीज हारने की कगार पर खड़े हैं. अभी तक दक्षिण अफ्रीकी सरजमीं पर कोई भारतीय टीम 3-0 यह सीरीज नहीं हारी है.

भारत 1992 से अब तक छह बार दक्षिण अफ्रीका का दौरा कर चुका है और 1996-97 में सचिन तेंदुलकर की कप्तानी में 2-0 से हारा था. 2006 के बाद से पिछले तीन दौरों पर एक टेस्ट जीतने या ड्रॉ कराने में कामयाब रहा है. वैसे वांडरर्स पर भारत का रिकॉर्ड अच्छा रहा है. भारत ने इस मैदान पर चार टेस्ट ( नवंबर 1992 , जनवरी 1997, दिसंबर 2006 और दिसंबर 2013 ) खेले हैं और एक भी गंवाया नहीं है. भारत ने यहां 2006 में राहुल द्रविड़ की कप्तानी में टेस्ट जीता था जिसमें श्रीसंत ने 99 रन देकर आठ विकेट लिए थे. 11 बरस बाद भारतीय टीम उसी हरी-भरी और उछाल भरी पिच पर खेलेगी.

वीडियो: गावस्‍कर ने इस अंदाज में की विराट कोहली की तारीफ

टिप्पणियां
दोनों टीमें इस प्रकार हैं...
भारत: विराट कोहली (कप्‍तान), मुरली विजय, केएल राहुल, चेतेश्‍वर पुजारा, अजिंक्‍य रहाणे, पार्थिव पटेल, हार्दिक पंड्या, भुवनेश्‍वर कुमार, मोहम्‍मद शमी, ईशांत शर्मा और जसप्रीत बुमराह.

दक्षिण अफ्रीका: फाफ डु प्‍लेसिस (कप्‍तान), डीन एल्‍गर, एडेन मार्कराम, हाशिम अमला, एबी डिविलियर्स, क्विंटन डिकॉक, वर्नोन फिलेंडर, कागिसो रबाडा, मोर्ने मोर्केल, लुंगी एंगिडी, और एंडिले फेलुकवायो.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement