NDTV Khabar

भारत की झूलन गोस्‍वामी से प्रेरणा लेकर पाकिस्‍तान की कायनात इम्तियाज बनीं फास्‍ट बॉलर, अब हैं वर्ल्‍डकप टीम की सदस्‍य..

महिला वर्ल्‍डकप 2017 में पाकिस्‍तान की भारतीय टीम के हाथों हार के बाद पड़ोसी देश की तेज गेंदबाज कायनात इम्तियाज ने भी एक दिल को छूने वाला पोस्‍ट किया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारत की झूलन गोस्‍वामी से प्रेरणा लेकर पाकिस्‍तान की कायनात इम्तियाज बनीं फास्‍ट बॉलर, अब हैं वर्ल्‍डकप टीम की सदस्‍य..

कायनात इम्तियाज भी भारत की झूलन गोस्‍वामी की तरह तेज गेंदबाजी करती हैं

खास बातें

  1. कायनात इम्तियाज ने झूलन के साथ फोटो शेयर किया
  2. लिखा, 2005 में एशिया कप के दौरान मैं 'बॉल पिकर' थी
  3. झूलन की प्रेरणा लेकर मैंने क्रिकेट खेला और तेज गेंदबाज बनी
टिप्पणियां

भारत और पाकिस्‍तान के बीच खेल संबंधों की बात आती है तो आमतौर पर पुरुष क्रिकेटर ही इसमें बाजी मारते नजर आते हैं. दोनों देशों की टीमों के बीच मैदान के बाहर का दोस्‍ताना व्‍यवहार मीडिया की सुर्खियां बनता रहा है. चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में टीम इंडिया की पाकिस्‍तान के हाथों मिली हार के बाद विराट कोहली और युवराज सिंह का विपक्षी टीम के शोएब मलिक के साथ हंसी-मजाक का फोटो हाल में काफी चर्चा में रहा था. महिला क्रिकेट वर्ल्‍डकप 2017 में पाकिस्‍तान की भारतीय टीम के हाथों करारी हार के बाद पड़ोसी देश की तेज गेंदबाज कायनात इम्तियाज ने भी एक दिल को छूने वाला पोस्‍ट किया है. कायनात ने भारत की महिला तेज गेंदबाज झूलन गोस्‍वामी के साथ अपना फोटो सोशल मीडिया पर शेयर किया है. इसमें उन्‍होंने बताया है कि झूलन की गेंदबाजी ने किस तरह उन्‍हें तेज गेंदबाजी में हाथ आजमाने के लिए प्रेरित किया.

कायनात ने इंस्‍टाग्राम पर झूलन के साथ पोस्‍ट किए गए अपने फोटो के साथ लिखा है, 'मैं अपनी कहानी आप लोगों के साथ शेयर करना चाहती हूं. वर्ष 2005 में पाकिस्‍तान में आयोजित हुए एशिया कप के दौरान मैंने पहली बार भारतीय महिला टीम को देखा था. टूर्नामेंट के दौरान मैं बॉल पिकर (बाउंड्री से बॉल उठाकर देने वाली) थी. इसी दौरान मैंने झूलन गोस्‍वामी को देखा. वे उस समय सबसे तेज गेंदबाजी करने वाली महिला खिलाड़ी थीं. झूलन से प्रेरित होकर ही मैंने करियर के लिहाज से क्रिकेट खासकर तेज गेंदबाजी को चुना. मेरे लिए यह गौरव का विषय है कि 12 साल बाद मैं 2017 में महिला वर्ल्‍डकप में खेल रही हूं.'
 


25 साल की कायनात ने अभी तक केवल छह वनडे और एक टी20 इंटरनेशनल मैच खेला है. दूसरी ओर उनकी प्रेरणा झूलन अब 158 वनडे मैच खेल चुकी हैं. पश्चिम बंगाल की झूलन को उनके लंबे कद और गेंदों की गति को लेकर दुनियाभर में प्रसिद्धि हासिल है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement