NDTV Khabar

टेस्ट क्रिकेट का लेखाजोखा-1 : साल भर टेस्ट में रहे 'सर्वश्रेष्ठ'

जनवरी में भारतीय क्रिकेट टीम टेस्ट रैंकिंग में नंबर-1 बन गई. सीरीज़ दर सीरीज़ नंबर-1 पायदान पर भारत मजबूत होता गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
टेस्ट क्रिकेट का लेखाजोखा-1 : साल भर टेस्ट में रहे 'सर्वश्रेष्ठ'

जनवरी में भारतीय टीम टेस्ट रैंकिंग में नंबर-1 बन गई. सीरीज़ दर सीरीज़ नंबर-1 पायदान पर भारत मजबूत होता गया.

नई दिल्ली: साल 2017 की शुरुआत से पहले भारतीय टीम लगातार 18 टेस्ट मैचों से हारी नहीं थी. कप्तान विराट कोहली की नज़र पिछले भारतीय रिकॉर्ड यानी बिना हारे 20 टेस्ट के रिकॉर्ड को बेहतर करने पर थी. जनवरी में भारतीय क्रिकेट टीम टेस्ट रैंकिंग में नंबर-1 बन गई. सीरीज़ दर सीरीज़ नंबर-1 पायदान पर भारत मजबूत होता गया.

यह भी पढ़ें : INDvsBAN : टीम इंडिया ने विराट की कप्तानी में बांग्लादेश को धोया, लगातार छठी सीरीज जीती 

बांग्ला टाइगर्स का शिकार
विजय अभियान की शुरुआत बांग्लादेश से हुई. टेस्ट का रुतबा हासिल करने के 10 साल बाद बांग्ला टीम पहली बार टेस्ट खेलने भारत आई. इसके पहले भारत और बांग्लादेश के बीच में 8 टेस्ट खेले गए थे. भारत 6 में विजयी रहा था, जबकि 2 ड्रॉ रहे थे. 2016 में बांग्ला टाइगर्स अपने देश में ऑस्ट्रेलिया को हरा चुके थे. जनवरी में न्यूज़ीलैंड में 595 रन बनाने के बाद उनका आत्मविश्‍वास और बढ़ गया.

यह भी पढ़ें : इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को 2-1 से हराया, विराट की कप्तानी में लगातार सातवीं सीरीज जीती 

हैदराबाद में खेले गए इकलौते टेस्ट मैच में बांग्लादेश की टीम ने कोशिश तो ज़बरदस्त की, लेकिन विराट कोहली की टीम इंडिया ने 208 रन से लगातार छठी सीरीज़ जीत दर्ज कर साल की शानदार शुरुआत की. विराट कोहली ने दोहरा शतक बनाया और वह सर डॉन ब्रैडमैन और राहुल द्रविड़ से भी आगे निकल गए. कोहली ने वह कारनामा कर दिखाया जो क़रीब डेढ़ सौ साल के क्रिकेट इतिहास में अब तक किसी देश के किसी बल्लेबाज़ ने नहीं किया था. 4 सीरीज़ में लगातार 4 दोहरे शतक.

यह भी पढ़ें : INDvsAUS : कोहली के नेतृत्‍व पर सवाल, सबसे सफल रवींद्र जडेजा से करवाई सबसे कम गेंदबाजी

पुणे में विजय रथ रुका
लगातार 19 मैच से अपराजेय टीम इंडिया का विजय रथ ऑस्ट्रेलिया ने पुणे में रोक दिया. 13 साल बाद कंगारू भारत में टेस्ट जीतने में कामयाब रहे. टेस्ट मैच के तीसरे ही दिन ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया को 333 रनों से हरा दिया. स्टीव ओ कीफ़ भारतीय ज़मीन पर एक टेस्ट में सबसे ज़्यादा विकेट लेने वाले ईयन बॉथम के बाद दुनिया के दूसरे विदेशी गेंदबाज़ बने. स्टीव ओ कीफ़ ने पुणे टेस्ट में कुल 12 विकेट झटके. स्टीव स्मिथ 92.00 की औसत से 14 पारियों में भारत के खिलाफ़ 1000 रन पूरे किए और भारत के खिलाफ़ लगातार 5 टेस्ट शतक लगाने का रिकॉर्ड बनाया.

टिप्पणियां
VIDEO : भारत ने 4-0 से सीरीज जीती, 18 टेस्टों से अजेय


स्टीवन स्मिथ का शतक सौरव गांगुली की नज़र में किसी भी विदेशी बल्लेबाज़ का भारत में सर्वश्रेष्ठ शतक था. ज़ाहिर है दौरे से पहले दुबई में ट्रेनिंग कैंप में बहाया पसीना ऑस्ट्रेलिया के काम आया है. पुणे टेस्ट के पहले ही दिन से गेंद टर्न करने लगी थी. बाद में पुणे की पिच को आख़िरकार अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने एक ख़राब पिच करार दिया.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement