NDTV Khabar

भारत के बड़े बिजनेसमैन के बेटे ने आलोचकों को 'कुछ ऐसे' दिया जवाब, आईपीएल में बिकने पर उठे थे सवाल

जनवरी में हुई आईपीएल नीलामी के समय ज्यादातर क्रिकेटप्रेमियों के बीच यही मैसेज गया कि आर्यमन को उनके पिता के रुतबे के कारण राजस्थान रॉयल्स ने खरीदा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारत के बड़े बिजनेसमैन के बेटे ने आलोचकों को 'कुछ ऐसे' दिया जवाब, आईपीएल में बिकने पर उठे थे सवाल

आर्यमन बिड़ला

खास बातें

  1. इस साल आईपीएल में आर्यमन बड़ी मुश्किल से बिके थे
  2. आखिरी राउंड से पहले तक किसी ने नहीं खरीदा था
  3. तीस लाख में राजस्थान रॉयल्स ने खरीदा था
नई दिल्ली:

देश के प्रसिद्ध और शीर्ष दस उद्योगपतियों में शामिल कुमार मंगलम बिड़ला (kumar mangalam birla son hits his debut first class ton) और उनके बेटे आर्यमन पिछले कुछ समय से अलग-अलग मोर्चों पर लड़ाई लड़ रहे हैं. जहां मंगलम की कंपनी और जियो के बीच डेटा वार काफी समय से चल रही है, तो उनके पुत्र आर्यमन बिड़ला  (aryaman birla made his debut first class ton) भी लंबे समय से यह साबित करने में लगे हुए थे कि वह क्रिकेट मैदान पर  पिता के प्रभाव के चलते नहीं हैं. और वीरवार को आर्यमन ने इस बात को बहुत ही बखूबी अंदाज में साबित किया कि वह 'बड़े मंच' पर खेलने के हकदार हैं. आर्यमन बिड़ला को इसी साल जनवरी में राजस्थान रॉयल्स ने खरीदा था, लेकिन तब उनकी खरीद क्रिकेटप्रेमियों के बीच बहुत ही ज्यादा चर्चा का विषय बन गई थी. 

क्रिकेटप्रेमी अभी भी इस बात को नहीं भूले हैं कि जब इस साल जनवरी में आईपीएल 2018 की नीलामी हुई थी, तो कैसे आर्यमन बिरला को राजस्थान रॉयल्स ने खरीदा था. शुरुआत में किसी भी टीम ने आर्यमन बिड़ला को नहीं खरीदा था. तब तक आर्यमन बिड़ला ने सिर्फ एक ही रणजी ट्रॉफी मुकाबला खेला था और दो पारियों में उनके सिर्फ 22 ही रन थे. आर्यमन बिड़ला का बेस प्राइस दस लाख रुपये था, लेकिन सबसे आखिरी राउंड में राजस्थान रॉयल्स ने आर्यमन बिड़ला को तीस लाख रुपये में खरीद लिया था. 

यह भी पढ़े:  IND vs AUS: इसलिए आशीष नेहरा नहीं चाहते भुवनेश्वर कुमार हों ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टेस्ट का हिस्सा

तब ज्यादातर क्रिकेटप्रेमियों के बीच यही मैसेज गया कि आर्यमन को उनके पिता के रुतबे के कारण राजस्थान रॉयल्स ने खरीदा है. चर्चाएं हो रही थीं कि आर्यमन को उनकी योग्यता के चलते राजस्थान रॉयल्स टीम में जगह नहीं मिली. यही बात आर्यमन बिड़ला को परेशान कर रही थी. तब से ही आर्यमन इस आलोचना को खत्म करने के लिए बेकरार थे. और गुजरे रविवार को रणजी ट्रॉफी में बंगाल और मध्य प्रदेश के बीच खत्म हुए मुकाबले में आर्यमन ने इस आलोचना पर विराम लगाते हुए खुद को बेहतरीन अंदाज में साबित किया. इलीट ग्रुप का यह मुकाबला ड्रॉ छूटा. अपने करियर के सिर्फ तीसरे रणजी ट्रॉफी मुकाबले की पहली पारी में 21 साल के आर्यमन सिर्फ 12 रन बनाकर आउट हो गए थे

VIDEO: जानिए कि धोनी के टी-20 टीम से बाहर होने पर क्रिकेट पंडितों ने क्या कहा. 

लेकिन अगली ही पारी में आर्यमन ने दिखा दिया कि राजस्थान रॉयल्स ने अगर उन पर दांव लगाया था, तो वह पूरी तरह से उनकी काबिलियत ही थी. आयर्मन में बंगाल के खिलाफ अशोक डिंडा जैसे गेंदबाजों के सामने अपने प्रथण श्रेणी करियर का पहला शतक जड़ा. आर्यमन ने पारी की शुरुआत करते हुए बिना आउट हुए 103 रन बनाकर मैच को ड्रॉ कराने में अहम रोल निभाया. इससे पिछले मैच में भी तमिलनाडु के खिलाफ आर्यमन ने 51 रन की पारी खेली थी. 

टिप्पणियां

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement