NDTV Khabar

INDvsAUS ODI: विराट ब्रिगेड के सामने ऑस्‍ट्रेलियाई टीम का समर्पण, सीरीज जीत के हीरो रहे ये 5 खिलाड़ी

विराट कोहली के नेतृत्‍व वाली टीम इंडिया ने पांचवें और अंतिम वनडे मैच में ऑस्‍ट्रेलिया को सात विकेट से हरा दिया. इस जीत के साथ ही टीम इंडिया ने पांच मैचों की सीरीज 4-1 से अपने नाम कर ली है. भारतीय टीम के लिए आज की जीत दोहरी खुशी देने वाली रही.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
INDvsAUS ODI: विराट ब्रिगेड के सामने ऑस्‍ट्रेलियाई टीम का समर्पण, सीरीज जीत के हीरो रहे ये 5 खिलाड़ी

टीम इंडिया ने ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज 4-1 के अंतर से जीती (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: विराट कोहली के नेतृत्‍व वाली टीम इंडिया ने पांचवें और अंतिम वनडे मैच में ऑस्‍ट्रेलिया को सात विकेट से हरा दिया. इस जीत के साथ ही टीम इंडिया ने पांच मैचों की सीरीज 4-1 से अपने नाम कर ली है. भारतीय टीम के लिए आज की जीत दोहरी खुशी देने वाली रही. पांच मैचों की सीरीज उसने न केवल 4-1 के अंतर से जीती बल्कि वनडे की रैंकिंग में फिर ने शीर्ष स्‍थान पर पहुंच गई. चौथे वनडे में ऑस्‍ट्रेलिया से मिली 21 रन से मिली हार के बाद भारतीय टीम दशमलव अंक में दक्षिण अफ्रीका से पिछड़कर दूसरे क्रम पर पहुंच गई थी. पूरी सीरीज में विराट कोहली  ब्रिगेड ने चैंपियन जैसा प्रदर्शन किया. गेंदबाजी, बल्‍लेबाजी और क्षेत्ररक्षण तीनों ही क्षेत्र में वह मेहमान टीम पर भारी पड़ी. टीम इंडिया की सीरीज जीत में वैसे तो सभी खिलाड़ि‍यों का प्रदर्शन बेहतरीन रहा लेकिन ये 5 खिलाड़ी खासतौर पर 'हीरो' साबित हुए.

बल्‍ले से रोहित शर्मा ने मचाया धमाल
टीम इंडिया के ओपनर रोहित शर्मा ने बेहतरीन बल्‍लेबाजी का प्रदर्शन किया. उन्‍हांने पांच मैचों में 59.20 के औसत से 296 रन बनाए. सीरीज में दोनों टीम की ओर से यह रनसंख्‍या सर्वाधिक रही. रोहित ने इस दौरान एक शतक और दो अर्धशतक लगाए. उनका स्‍ट्राइक रेट 104.22 का रहा.

रोहित के आदर्श जोड़ीदार साबित हुए रहाणे
शिखर धवन के सीरीज में उपलब्‍ध नहीं होने का मुंबई के अजिंक्‍य रहाणे ने पूरा फायदा उठाया. पत्‍नी की सर्जरी के कारण धवन इस सीरीज से हट गए थे. उनकी गैरमौजूदगी में रहाणे को रोहित के साथ पारी शुरू करने का मौका मिला और वे इस रोल में पूरी तरह खरे उतरे. रहाणे ने सीरीज के पांच मैचों में 48.80 के औसत से 244 रन बनाए, इसमें चार अर्धशतक शामिल रहे. तीसरे, चौथे और पांचवें वनडे मैच में उन्‍होंने रोहित के साथ शतकीय साझेदारी भी की.

यह भी पढ़ें : रोहित शर्मा के तूफानी शतक से टीम इंडिया ने सीरीज 4-1 से जीती

हरफनमौला के रोल में छा गए हार्दिक पंड्या
हार्दिक पंड्या ने सीरीज में हरफनमौला की अपनी छवि के साथ पूरी तरह न्‍याय किया. उन्‍होंने कंगारू गेंदबाजों की जमकर खबर ली. हार्दिक ने सीरीज के पांच मैचों में 221 रन बनाए जिसमें उनका सर्वोच्‍च स्‍कोर 83 रन रहा. उनका स्‍ट्राइक रेट भी 100 के ऊपर का रहा. गेंदबाजी में भी उन्‍होंने हाथ दिखाते हुए छह ऑस्‍ट्रेलियाई बल्‍लेबाजों के विकेट झटके. उनका गेंदबाजी औसत 31.33 का रहा.

युजवेंद्र की फिरकी में फंसे ऑस्‍ट्रेलियाई बल्‍लेबाज
युवा गेंदबाज युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव का प्रदर्शन इस सीरीज का खास आकर्षण रहा. दाएं हाथ के लेग स्पिनर चहल ने ऑस्‍ट्रेलिया के खतरनाक बल्‍लेबाज ग्‍लेन मैक्‍सवेल को शुरुआती तीनों मैचों में आउट किया. उनकी गेंदबाजी का सामना करते हुए ऑस्‍ट्रेलियाई बल्‍लेबाज तमाम परेशानी में नजर आए. रोटेशन पॉलिसी के तहत युजवेंद्र को नागपुर वनडे में प्‍लेइंग इलेवन से बाहर रखा गया था. उन्‍होंने सीरीज के चार मैचों में 28.66 के औसत से छह विकेट लिए. इस दौरान 30 रन देकर तीन विकेट उनका सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन रहा.

वीडियो: सनी बोले, यह टीम ऑल टाइम ग्रेट में गिनी जाएगी
चाइनामैन कुलदीप यादव ने भी किया कमाल
चाइनामैन कुलदीप यादव ने भी अपनी गेंदबाजी से हर किसी को प्रभावित किया. कुलदीप ने दूसरे मैच में हैट्रिक भी ली. महान ओपनर सुनील गावस्‍कर ने इस खिलाड़ी की तारीफ करते हुए कहा कि ये हमेशा आक्रामक लहजे में बॉलिंग करते हैं और जोखिम लेने से नहीं डरते. कुलदीप ने सीरीज के चार मैचों में 30 के औसत से सात विकेट लिए. 54 रन देकर तीन विकेट उनका सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन रहा. कुलदीप और चहल के इस प्रदर्शन के बाद अश्विन और जडेजा की धुरंधर स्पिन जोड़ी के लिए वनडे टीम में जगह बनाने की राह मुश्किल हो गई है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement