NDTV Khabar

INDvsSL: पहले टेस्‍ट की बड़ी जीत के बावजूद भारतीय खेमे को सता रही है यह चिंता...

दूसरा टेस्‍ट तीन अगस्‍त से खेला जाना है. श्रीलंका को सीरीज में वापसी के लिए इस टेस्‍ट में अच्‍छा प्रदर्शन करना जरूरी है.

55 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
INDvsSL: पहले टेस्‍ट की बड़ी जीत के बावजूद भारतीय खेमे को सता रही है यह चिंता...

वर्ष 2015 में हुए गॉल टेस्‍ट में दिनेश चंदीमल ने भारत के खिलाफ टीम को यादगार जीत दिलाई थी (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. निमोनिया से उबरकर दूसरे टेस्‍ट में खेलने को तैयार हैं चंदीमल
  2. 2015 में गॉल में भारत के खिलाफ खेली थी मैच जिताऊ पारी
  3. इस मैच में मजबूत स्थिति में होने के बावजूद हार गई थी टीम इंडिया
श्रीलंका दौरे के अंतर्गत गॉल में हुए पहले टेस्‍ट में बड़ी जीत के बाद भारतीय टीम दूसरे टेस्‍ट के लिए पूरी तरह से तैयार से है. सीरीज में टीम इंडिया ने 1-0 की बढ़त बना ली है. दूसरा टेस्‍ट तीन अगस्‍त से खेला जाना है. श्रीलंका को सीरीज में वापसी के लिए इस टेस्‍ट में अच्‍छा प्रदर्शन करना जरूरी है. हालांकि टीम के लिए यह आसान नहीं होगा क्‍योंकि पहले टेस्‍ट में भारतीय टीम ने यूनिट के रूप में बेहतरीन प्रदर्शन किया और टीम का मनोबल सातवें आसमान है. दूसरे टेस्‍ट से पहले मेजबान श्रीलंका टीम के लिए राहत की बात यह है कि नियमित कप्‍तान दिनेश चंदीमल निमोनिया से उबर चुके हैं. चंदीमल की वापसी मेजबान श्रीलंका के लिए बड़ी राहत लेकर आ सकती है. हालांकि टीम के प्रमुख स्पिनर रंगना हेराथ को लेकर असमंजस बरकरार है. गॉल टेस्ट में श्रीलंका की कमान संभाल रहे हेराथ की उंगली में चोट लग गई थी. ऐसे में उनके दूसरे टेस्ट मैच में खेलने को लेकर स्थिति स्‍पष्‍ट नहीं है.

इसके बावजूद चंदीमल की वापसी की संभावना को श्रीलंका के लिए अच्‍छी खबर माना जा सकता है. स्‍वाभाविक है कि श्रीलंका टीम के इस प्रमुख बल्‍लेबाज की वापसी भारतीय खेमे के लिए चिंता का कारण बन सकती है. विराट कोहली ब्रिगेड को अभी भी उस मैच की याद ताजा होगी जब चंदीमल ने करिश्‍माई प्रदर्शन करते हुए श्रीलंका को यादगार जीत दिला दी थी. 

यह भी पढ़ें: चेतेश्वर पुजारा 50वें टेस्ट के करीब, मगर वह किसी और ही बात से हैं सबसे ज्यादा खुश!

मजे की बात यह है कि अगस्‍त 2015 में यह टेस्‍ट गॉल में ही खेला गया था जहां टीम इंडिया ने शनिवार को जीत हासिल की है. मैच की तीसरी पारी में चंदीमल में विपरीत परिस्थितियों में नाबाद 162 रन की पारी खेली थी और भारतीय खेमे के पास से जीत श्रीलंका टीम के खेमे में खींच ली थी. जाहिर है विराट ब्रिगेड निश्चित रूप से दूसरे टेस्‍ट में चंदीमल को इस तरह का मौका नहीं देना चाहेगी.

यह भी पढ़ें: कोच रवि शास्त्री ने ट्रेनिंग स्टाइल में भरा अलग रंग तो भारतीय टीम में आया 'नयापन'

बेहद रोमांचक रहा था यह मैच
इस मैच में रोमांचक उतार-चढ़ाव के बाद श्रीलंका टीम ने 63 रन से जीत हासिल की थी. भारतीय टीम के लिहाज से निराशाजनक बात यह रही थी कि एक समय मजबूत स्थिति में होने के बावजूद उसे हार का सामना करना पड़ा था. श्रीलंका की इस जीत में दिनेश चंदीमल हीरो साबित हुए थे. मैच में पहले बल्‍लेबाजी करते हुए श्रीलंका टीम महज 183 रन बनाकर आउट हो गई थी. इसके जवाब में भारतीय टीम ने पहली पारी में शिखर धवन (134) और कप्‍तान विराट कोहली (103)के योगदान की मदद से 375 रन बनाए थे.पहली पारी में भारतीय  टीम को 192 रन की विशाल बढ़त मिली थी और उसकी स्थिति बेहद मजबूत थी.

वीडियो : श्रीलंका के खिलाफ दूसरे टेस्‍ट में ओपनिंग को लेकर असमंजस



बहरहाल, श्रीलंका टीम ने दूसरी पारी में जबर्दस्‍त बल्‍लेबाजी करके भारतीय टीम को बैकफुट पर ला दिया. चंदीमल के नाबाद 162 (19चौके, चार छक्‍के) की मदद से श्रीलंका ने दूसरी पारी में 367 रन बनाए. घुमावदार विकेट पर टीम इंडिया को अंतिम पारी में जीत के लिए 176 रन बनाने का लक्ष्‍य मिला था लेकिन पूरी टीम महज 112 रन बनाकर ढेर हो गई थी. मैच में 63 रन की जीत के साथ श्रीलंका टीम ने सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल की थी. मौजूदा सीरीज में भारतीय टीम 1-0 की बढ़त पर है. स्‍वाभाविक है कि उसकी पूरी कोशिश होगी कि श्रीलंका को वापसी का मौका नहीं दिया जाए. इसके लिए उसे दिनेश चंदीमल सहित श्रीलंका टीम के बल्‍लेबाजों का बड़ा स्‍कोर करने से रोकना होगा.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement