Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

क्रिकेट हुआ हाईटेक, अब चैंपियंस ट्रॉफी में इंटेल के ड्रोन की मदद से दी जाएगी पिच रिपोर्ट

इंटेल फ़ैलकन 8 (Intel Falcon 8) ड्रोन इंफ्रारेड और HD कैमरे से लैस रहेगा, जिसका उपयोग मैच से पहले होने वाली पिच एनालिसिस के लिए किया जाएगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
क्रिकेट हुआ हाईटेक, अब चैंपियंस ट्रॉफी में इंटेल के ड्रोन की मदद से दी जाएगी पिच रिपोर्ट

इंटेल ने चैंपियंस ट्रॉफी के लिए तीन नई टेक्नोलॉजी पेश की हैं

खास बातें

  1. इंटेल ने चैंपियंस ट्रॉफी के लिए तीन नई टेक्नोलॉजी पेश की हैं
  2. ये टेक्नोलॉजी हैं- इंटेल ड्रोन, बैट सेंसर और वर्चुअल रियलिटी एक्सपिरियंस
  3. चैंपियंस ट्रॉफी में इंटेल फ़ैलकन 8 ड्रोन की मदद से दी जाएगी पिच रिपोर्ट

आधुनिक दुनिया में सब कुछ हाईटेक हो चुका है. नयी तकनीक का इस्तेमाल हर क्षेत्र में ज़ोर शोर से हो रहा है तो ऐसे में क्रिकेट कैसे पीछे रहे. इसी प्रयास में दुनिया की सबसे बडी सेमीकंडक्टर कंपनी इंटेल ने गुरूवार, 1 जून से शुरू हो रही चैंपियंस ट्रॉफी के लिए तीन नई टेक्नोलॉजी पेश की हैं. ये टेक्नोलॉजी हैं - इंटेल ड्रोन, बैट सेंसर और स्टेडियम आने वाले क्रिकेट फैंस के लिए वर्चुअल रियलिटी (VR) एक्सपिरियंस.

टिप्पणियां

इंटेल फ़ैलकन 8 (Intel Falcon 8) ड्रोन इंफ्रारेड और HD कैमरे से लैस रहेगा, जिसका उपयोग मैच से पहले होने वाली पिच एनालिसिस के लिए किया जाएगा. इस ड्रोन से ली गयी तस्वीरों के ज़रिये पिच पर ग्रास कवर, ग्रास हेल्थ और टोपोलॉजी का डेटा मिलेगा जिससे रोजाना पिच की एंडवांस्ड रिपोर्ट तैयार की जा सकेगी. इन रिपोर्ट्स की मदद से कमेंटेटर काफी बारीकी से पिच एनालिसिस कर सकेंगे.
 

champions trophy

इंटेल, ICC चैंपियंस ट्रॉफी 2017 का ऑफिशियल इनोवेशन पार्टनर है. इन टेक्नोलॉजीस के लांच पर ICC के चीफ एग्जीक्यूटिव अफसर डेव रिचर्डसन ने कहा "इंटेल के साथ भागीदारी करने से हम बेहद उत्साहित हैं. इंटेल द्वारा लाई गयी नयी तकनीक दुनिया भर में क्रिकेट के अनुभव को और भी मज़ेदार बना देगी."

इंटेल के नए बैट सेंसर का नाम स्पेक्युलर (Speculur) बैटसेंस है. इसे किसी भी क्रिकेट बैट से जोड़ा जा सकता है और इसका उपयोग बैट्समैन की बैक लिफ्ट, बैट स्पीड और हर स्ट्रोक की डिटेल निकालने में किया जाएगा. इसका उपयोग बहुत से बैट्समैन चैंपियंस ट्रॉफी में भी करेंगे. सेंसर द्वारा कलेक्ट किया गया डेटा टीवी में दिखाया जाएगा. बेंगलुरु स्थित स्पेक्युलर कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर अतुल श्रीवास्तव के अनुसार स्पेक्युलर बैटसेंस की सहायता से क्रिकेटर्स आत्मनिर्भर बनकर अपनी बैटिंग स्किल्स को बेहतर कर सकते हैं. उन्होंने ये भी कहा की कंपनी इस टेक्नोलॉजी को बाजार में 2017 के बाद उतारेगी और इसकी पहली सप्लाई आस्ट्रेलिया, इंडिया, यूएस और यूनाइटेड किंगडम में की जाएगी. इसके अलावा इंटेल लंदन और बर्मिंघन के स्टेडियमस में VR क्रिकेट एक्सपिरियंस भी पेश करेगा जिससे दर्शक वर्चुअल रिएलिटी में क्रिकेट खेलने का लुत्फ़ उठा सकेंगे.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... पक्षियों ने अपने बच्चे को ऐसे खिलाया खाना, IFS ऑफिसर ने शेयर किया वीडियो, बोले- 'प्रकृति की सबसे...' देखें Video

Advertisement