IPL 2020: राहुल त्रिपाठी को लेकर पिता ने कई रुचिकर खुलासे, एमएस धोनी के शहर से है खास नाता

IPL 2020: राहुल के पिता अजय ने कहा कि मैं पहली बार एमएस धोनी से तब मिला था, जब दोनों पुणे की टीम से खेल रहे थे. धोनी एक बेहतरीन और विनम्र इंसान हैं. उन्होंने कहा कि क्रिकेट के प्रति राहुल का लगाव बहुत ही नैसर्गिक है और वह करीब दो साल की उम्र से ही क्रिकेट खेल रहा है.

IPL 2020: राहुल त्रिपाठी को लेकर पिता ने कई रुचिकर खुलासे, एमएस धोनी के शहर से है खास नाता

IPL 2020: राहुल त्रिपाठी के जोर-शोर से चर्चे हैं.

खास बातें

  • केकेआर के राहुल के हैं जोर-शोर से चर्चे
  • चेन्नई के खिलाफ खेली थी बेहतरीन पारी
  • किंग खान भी हो गए थे राहुल के मुरीद
नई दिल्ली:

इन दिनों आईपीएल (IPL 2020) में एक खिलाड़ी सोशल मीडिया सहित तमाम मंचों पर छाया हुआ है. और वह है कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) के राहुल त्रिपाठी (Rahul Tripathi). और आखिर चर्चा हो भी क्यों न!! दो दिन पहले ही राहुल त्रिपाठी (Rahul Tripathi) ने चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के खिलाफ ऐसी पारी खेली कि किंग शाहरुख खान तक बाग-बाग हो गए. वास्तव में यह राहुल त्रिपाठी (Rahul Tripathi) की 51 गेंदों पर 81 रन की बेहतरीन पारी थी, जिसने धोनी की टीम को पस्त करते हुए अपनी टीम को जीत दिला दी. वैसे राहुल ने भले ही माही की टीम को पस्त कर दिया, लेकिन एमएस धोनी के शहर रांची से राहुल त्रिपाठी का बहुत ही खास रिश्ता है. यह खुलासा किया है उनके पिता सरोज त्रिपाठी ने. 

यह भी पढ़ें: और शिखर धवन इस फ्लिक शॉट के साथ और गहरी समस्या में फंस गए

एक अखबार से खास बातचीत में उनके पिता अजय ने कहा कि राहुल के मन में धोनी के प्रति बहुत ही सम्मान और प्यार है. धोनी की टीम के खिलाफ राहुल की पारी बहुत ही खास है क्योंकि मेरे बेटे का जन्म रांची में हुआ है. राहुल की मां सरोज धोनी के शहर से ही हैं और उनके माता-पिता धोनी के मकान के बहुत ही नजदीक रहते हैं. 

यह भी पढ़ें: ये हैं वो 4 खिलाड़ी, जो बीच आईपीएल में जुड़ सकते हैं टीमों से

राहुल के पिता अजय ने कहा कि मैं पहली बार एमएस धोनी से तब मिला था, जब दोनों पुणे की टीम से खेल रहे थे. धोनी एक बेहतरीन और विनम्र इंसान हैं. उन्होंने कहा कि क्रिकेट के प्रति राहुल का लगाव बहुत ही नैसर्गिक है और वह करीब दो साल की उम्र से ही क्रिकेट खेल रहा है. जब वह गंगटॉक में बचपन में स्कूल की पढ़ाई करता था, तो मिटाने वाली रबर को बतौर गेंद इस्तेमाल करता था और अपने पैमाने को स्टंप बना लिया करता था, जबकि पेंसिल का इस्तेमाल स्टंप्स के रूप में होता था. पिता अजय ने बताया कि राहुल ने क्रिकेट को छोड़कर कभी कोई दूसरा खेल नहीं खेला और उन्होंने कंप्यूटर साइंस में ग्रेजुएट किया है. हम चाहते हैं कि वह आईपीएल में केकेआर को और मैच जिताए और भारत के लिए खेले.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने करियर को लेकर बड़ा ऐलान किया था.