NDTV Khabar

16,347 करोड़ की डील के बाद टीम इंडिया के मैच से बड़ा फायदे का सौदा बना IPL का हर मैच

स्टार इंडिया ने सोनी पिक्‍चर्स को शिकस्‍त देते हुए 16,347.5 करोड़ रुपए में पांच साल के लिए इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के डिजिटल और टेलीविजन प्रसारण अधिकार खरीद लिए हैं. स्‍टार इंडिया ने यह अधिकार वर्ष 2018 से 2022 के लिए खरीदे हैं.

27 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
16,347 करोड़ की डील के बाद टीम इंडिया के मैच से बड़ा फायदे का सौदा बना IPL का हर मैच

आईपीएल 10 में मुंबई इंडियंस की टीम चैंपियन बनी थी (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. स्‍टार इंडिया ने 6,347.5 करोड़ रु. में खरीदे हैं मीडिया अधिकार
  2. बोर्ड को आईपीएल के हर मैच से होगा करीब 55 करोड़ का फायदा
  3. एक इंटरनेशनल मैच से फायदा होता है करीब 43 करोड़ रुपये का
मुंबई: स्टार इंडिया ने सोनी पिक्‍चर्स को शिकस्‍त देते हुए 16,347.5 करोड़ रुपए में पांच साल के लिए इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के डिजिटल और टेलीविजन प्रसारण अधिकार खरीद लिए हैं. स्‍टार इंडिया ने यह अधिकार वर्ष 2018 से 2022 के लिए खरीदे हैं. इस रिकॉर्ड करार के बाद आईपीएल के हर मैच की आय टीम इंडिया के एक औसत मैच से अधिक हो गई है. जहां वर्ष 2018 से भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को आईपीएल के एक मैच से 55 करोड़ रुपये का फायदा होगा, जबकि उसे एक अंतर्राष्ट्रीय स्तर के मैच से कुल 43 करोड़ रुपये का फायदा होता है. इससे पहले हर आईपीएल गेम से करीब 15 करोड़ रुपये की आमदनी होती थी लेकिन अब इस राशि  में तीन गुना से अधिक का इजाफा हो जाएगा. विश्व स्तर पर आईपीएल के प्रसारण अधिकार के लिए स्टार इंडिया ने सबसे बड़ी बोली लगाई थी.

यह भी पढ़ें : बोली लगाने वाले चाहते हैं ई-नीलामी, पर BCCI नहीं अपनाना चाह रही नई प्रोसेस

शुरुआत में कुल 24 कंपनियों ने आईपीएल अधिकारों को हासिल करने के लिए पंजीकरण कराया था, इसमें फेसबुक, अमेजॉन, ट्विटर, याहू, रिलायंस जियो, स्टार इंडिया, सोनी पिक्चर्स, डिस्कवरी, स्काई, ब्रिटिश टेलीकॉम और ईएसपीएन डिजिटल मीडिया आदि शामिल थे. इस मौके पर स्टार इंडिया के चेयरमैन उदय शंकर ने कहा, "हमारा मानना है कि आईपीएल एक बड़ा मंच बन चुका है. हम यह भी जानते हैं कि डिजिटल और टीवी के स्तर पर इस टूर्नामेंट के मूल्य को प्रशंसकों के बीच और अधिक रूप से बढ़ाया जा सकता है. हम इस अधिकार को हासिल करने के बाद देश में इस खेल के विकास के प्रति अधिक प्रतिबद्ध रहेंगे." शंकर ने कहा कि भारत, क्रिकेट और आईपीएल में 2008 के बाद से बड़ा बदलाव आया है और यह दावेदारी उस बदलाव की झलक है.

वीडियो: आईपीएल 10 में मुंबई इंडियंस बने चैंपियन


स्टार इंडिया को मिले इन मीडिया अधिकारों में मोबाइल, इंटरनेट और डिजिटल अधिकार शामिल हैं. डिजिटल स्तर पर दर्शक आईपीएल के मैचों को देखने के लिए हॉट स्टार एप का इस्तेमाल करते हैं. शंकर ने कहा कि मैदान के बाहर बीसीसीआई के साथ तकरार के बावजूद भारत में क्रिकेट मैच देखना हमेशा से एक बेहतरीन अनुभव रहा है. बीसीसीआई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी राहुल जौहरी ने कहा, "हमारा मुख्य लक्ष्य हितधारकों को एक पारदर्शी प्रक्रिया मुहैया कराना है, जहां उनके मन में कोई भी शंका न रहे." इससे पहले सोनी नेटवर्क के पास आईपीएल के प्रसारण का अधिकार था. वर्ष 2009 में सोनी चैनल ने आईपीएल के प्रसारण अधिकारों को 1.63 अरब डॉलर में नौ साल के लिए वर्ल्ड स्पोर्ट्स ग्रुप से खरीदा था. उल्लेखनीय है कि वर्ल्ड स्पोर्ट्स ग्रुप ने बीसीसीआई से 10 साल के लिए आईपीएल के प्रसारण अधिकार हासिल किए थे. (इनपुट: एजेंसी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement