आईपीएल-8 : हैदराबाद को हराकर प्लेऑफ में पहुंचा मुंबई

आईपीएल-8 : हैदराबाद को हराकर प्लेऑफ में पहुंचा मुंबई

हैदराबाद:

शुरुआती छह मैचों में मात्र एक जीत हासिल कर आईपीएल-8 की बेहद खराब शुरुआत करने वाली मुंबई इंडियंस टीम ने टूर्नामेंट में सारे पासे पलटते हुए रविवार को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ निर्णायक मुकाबले में दमदार प्रदर्शन करते हुए नौ विकेट से जीत हासिल कर प्लेऑफ में प्रवेश कर लिया।

इतना ही नहीं मुंबई इंडियंस ने अंक तालिका में दूसरे स्थान पर रहते हुए प्लेऑफ में प्रवेश किया है, जिसका मतलब है कि अब वे 19 मई को शीर्ष पर मौजूद टीम चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ क्वालीफायर-1 मैच खेलेंगे। इस तरह मुंबई इंडियंस के लिए खिताब अब सिर्फ दो जीत दूर रह गई है।

रविवार को राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में हुए आईपीएल-8 के आखिरी लीग मैच में मुंबई इंडियंस के गेंदबाजों ने पहले बेहद कसी हुई गेंदबाजी करते हुए सनराइजर्स को 113 रनों पर रोक दिया और उसके बाद अपने सलामी बल्लेबाजों लेंडल सिमंस (48) और पार्थिव पटेल (नाबाद 51) के बीच हुई 106 रनों की साझेदारी की बदौलत एक विकेट खोकर आसानी से 13.5 ओवरों में लक्ष्य हासिल कर लिया।

सिमंस और पटेल ने छोटे लक्ष्य को देखते हुए धैर्यपूर्वक पारी की शुरुआत की और बिना किसी बाधा के आसानी से रन बटोरते हुए शतकीय साझेदारी निभाई।

सिमंस हालांकि 14वें ओवर में कर्ण शर्मा की गेंद पर शिखर धवन को कैच थमा बैठे तथा दो रन से अर्धशतक से चूक गए। सिमंस ने 44 गेंदों में चार चौके और दो छक्के जड़े। सिमंस और पटेल ने इस बीच 12वां ओवर लेकर आए कर्ण शर्मा की गेंद पर 22 रन जड़े और दर्शकों को कुछ रोमांचक शॉट का लुत्फ उठाने का मौका भी दिया।

हालांकि सिमंस ने टीम को जीत के बेहद करीब पहुंचा दिया। इसके बाद पार्थिव पटेल ने नाबाद रहते हुए टीम को जीत दिला दी। पार्थिव पटेल ने 37 गेंदों की अपनी नाबाद पारी में नौ चौके लगाए। सनराइजर्स के गेंदबाजों ने भरपूर संघर्ष किया, हालांकि अपने छोटे से स्कोर का बचाव करना उनके लिए भी बेहद कठिन साबित हुआ।

इससे पहले, सनराइजर्स ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया और निर्धारित 20 ओवरों में अपने सारे विकेट गंवाकर 113 रन बना सके।

शिखर धवन (1) और कप्तान डेविड वार्नर (6) सनराइजर्स की पारी के छठे और सातवें लगातार दो गेंदों पर पवेलियन लौट गए। धवन को लसिथ मलिंगा ने पहले ही ओवर की आखिरी गेंद पर क्लीन बोल्ड कर दिया, जबकि दूसरे ओवर की पहली ही गेंद पर वार्नर किरन पोलार्ड को कैच थमा बैठे।

इयान मोर्गन (9) भी छठे ओवर में मैक्लेनगन के दूसरे शिकार हो गए। शुरुआती झटकों का टीम की रनगति पर असर पड़ा और सनराइजर्स नौ ओवरों में 50 रन बना सके।

अभी टीम शुरुआती झटकों से उबरकर संभलती लग ही रही थी कि जगदीश सुचीत ने 10वें ओवर में पहले मोएसिस हेनरिक्स (11) और अगली ही गेंद पर नमन ओझा को खाता खोले बगैर पवेलियन की राह दिखा सनराइजर्स की कमर ही तोड़ डाली।

लोकेश राहुल (25) ही कुछ हद तक संघर्ष कर सके। उन्होंने 24 गेंदों में दो चौके लगाए तथा सनराइजर्स की पारी के एकमात्र छक्का आशीष रेड्डी (17) ने लगाया। रेड्डी ने कर्ण शर्मा (15) के साथ सातवें विकेट के लिए 23 रनों की साझेदारी निभाई। हालांकि टीम को 100 के पार पहुंचाया डेल स्टेन (नाबाद 19) ने, जो 11 गेंदों पर तीन चौके लगाकर नाबाद लौटे।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

मुंबई इंडियंस के लिए मैक्लेनगन, मलिंगा और सुचीत ने बेहद धारदार गेंदबाजी की। मैक्लेनगन को तीन, जबकि मलिंगा और सुचीत को दो-दो विकेट मिले।

इस हार के साथ सनराइजर्स तो प्लेऑफ से बाहर हो ही गए, 15 अंकों के साथ उम्मीद बांधे मौजूदा चैम्पियन कोलकाता नाइड राइडर्स का भी टूर्नामेंट से बोरिया बिस्तर बंध गया।