NDTV Khabar

दो मैच के बाद ही कप्‍तानी से हटाए गए इरफान पठान ने इस अंदाज में जताई निराशा, फैंस ने की सराहना

टीम इंडिया में वापसी के प्रयासों में जुटे इरफान पठान की उम्‍मीदों को उस समय करारा झटका लगा जब उन्‍हें दो मैचों के बाद ही वडोदरा की रणजी टीम की कप्‍तानी से हटा दिया गया

210 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
दो मैच के बाद ही कप्‍तानी से हटाए गए इरफान पठान ने इस अंदाज में जताई निराशा, फैंस ने की सराहना

इरफान भारतीय टीम की ओर से टेस्‍ट क्रिकेट में हैट्रिक भी ले चुके हैं (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा, यस मैन न होना भी आपके खिलाफ जा सकता है
  2. इस ट्वीट के बाद कई फैंस ने उनके प्रति हमदर्दी जताई
  3. टीम इंडिया के लिए टेस्‍ट में हैट्रिक ले चुके हैं इरफान
नई दिल्‍ली: टीम इंडिया में वापसी के प्रयासों में जुटे इरफान पठान की उम्‍मीदों को उस समय करारा झटका लगा जब उन्‍हें दो मैचों के बाद ही वडोदरा की रणजी टीम की कप्‍तानी से हटा दिया गया. यही नहीं, त्रिपुरा के खिलाफ होने वाले टीम के तीसरे मैच में उन्‍हें वडोदरा की 15 सदस्‍यीय टीम में भी जगह नहीं दी गई है. वडोदरा की टीम रणजी ट्रॉफी में अपने ग्रुप सी में सबसे निचले स्‍थान पर है. इरफान की जगह जब दीपक हुड्डा को टीम की कप्‍तानी सौंपी गई है. हरफनमौला इरफान ने प्रतियोगिता में अब तक केवल दो विकेट हासिल किए हैं. वैसे, इरफान को कप्‍तानी के साथ ही टीम से हटाया जाना हर किसी को हैरान कर गया है क्‍योंकि उन्‍होंने मध्‍यप्रदेश के खिलाफ वडोदरा टीम के पहले मैच में 80 रन की पारी खेली थी.

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें: ट्विटरबाजों के निशाने पर आने के बाद इरफान पठान ने अब यह कहा.... कप्‍तानी और टीम से हटाए जाने पर अपनी निराशा का इजहार करते हुए इरफान ने ट्वीट करके लिखा, ‘बॉस को गुड मॉर्निंग न विश करना और यस मैन न होना आपके खिलाफ जा सकता है…लेकिन चिंता मत करो. अपना काम करते रहो, कोशिश करते रहो.’जब इरफान से उन्‍हें कप्‍तानी से हटाने की वजह पूछी गई तो उन्‍होंने दो-टूक कहा, ‘मुद्दा परफॉर्मेंस नहीं है, फिटनेस मुद्दा नहीं है. अनुशासन मुद्दा नहीं है. वजह आपको बीसीए से बाहर पता लगेगी.’इरफान के इस ट्वीट पर कई फैंस ने हमदर्दी जताते हुए उनसे प्रयास जारी रखने का आग्रह किया.



वर्ष 2003 में अपने टेस्‍ट करियर का आगाज करने वाले इरफान पठान ने अपना अंतिम टेस्‍ट मैच वर्ष 2008 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला था. भारत के लिए टेस्‍ट क्रिकेट में वे हैट्रिक भी ले चुके हैं.

वीडियो: गावस्‍कर ने इस अंदाज में की विराट कोहली की प्रशंसा
जूनियर पठान ने अपना आखिरी वनडे वर्ष 2012 में और आखिरी टेस्‍ट 2008 में खेला था. इरफान ने हाल ही में एक इंटरव्‍यू में स्‍वीकार किया था कि भारतीय टीम में फिर से स्‍थान बनाने के लिहाज से उनके लिए मौके लगातार कम होते जा रहे हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement