NDTV Khabar

क्या खत्म हो गई हैं गौतम गंभीर, हरभजन सिंह की वापसी की उम्मीद?

चैंपियन्स ट्रॉफ़ी के लिए एक सेफ़, मज़बूत और अनुभवी टीम का चयन हुआ है. अहम बात यह है कि आईपीएल की फ़ॉर्म पर चयनकर्ताओं ने ध्यान नहीं दिया है. और यही वजह भी रही कि टीम में कोई नया नाम या फिर यूं कहें कि कोई सरप्राइज़ नहीं दिखा.

5 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
क्या खत्म हो गई हैं गौतम गंभीर, हरभजन सिंह की वापसी की उम्मीद?

हरभजन सिंह.

खास बातें

  1. गौतम गंभीर और हरभजन सिंह को शामिल नहीं किया गया है
  2. आईपीएल की फ़ॉर्म पर चयनकर्ताओं ने ध्यान नहीं दिया है
  3. इन सभी खिलाड़ियों ने घरेलू टूर्नामेंट में शानदार खेल दिखाया है
नई दिल्ली: जानते हैं चैंपियन्स ट्रॉफ़ी के लिए किन खिलाड़ियों को स्टैंडबाय पर रखा गया है? चैंपियन्स ट्रॉफ़ी के लिए स्टैंडबाय में रखे खिलाड़ियों में भी गौतम गंभीर और हरभजन सिंह को शामिल नहीं किया गया है. इससे यह प्रश्न उठना लाजमी है कि क्या इनके वापसी की उम्मीद खत्म हो गई है?
 
चैंपियन्स ट्रॉफ़ी के लिए एक सेफ़, मज़बूत और अनुभवी टीम का चयन हुआ है. अहम बात यह है कि आईपीएल की फ़ॉर्म पर चयनकर्ताओं ने ध्यान नहीं दिया है. और यही वजह भी रही कि टीम में कोई नया नाम या फिर यूं कहें कि कोई सरप्राइज़ नहीं दिखा.
 
इसका मतलब ये नहीं की चयनकर्ताओं का ध्यान भविष्य पर नहीं है. चीफ़ सिलेक्टर एमएसके प्रसाद ने चैंपियन्स ट्रॉफ़ी के लिए स्टैंडबाय पर रखे गए खिलाड़ियों के नाम भी शेयर किए.
 
ऋषभ पंत, कुलदीप यादव, शार्दुल ठाकुर, सुरेश रैना और दिनेश कार्तिक को चैंपियन्स ट्रॉफ़ी के लिए स्टैंडबाय पर रखा गया है. इन सभी खिलाड़ियों ने घरेलू टूर्नामेंट में शानदार खेल दिखाया है और आईपीएल में भी अपने प्रदर्शन से प्रभावित किया है.
 
यही नहीं, प्रसाद ने खास तौर पर ऋषभ पंत की तारीफ़ करते हुए उन्हें भविष्य के लिए तैयार करने की बात कही है. एमएसके प्रसाद, मुख्य चयनकर्ता ने कहा कि जिस तरह से ऋषभ बल्लेबाज़ी कर रहे हैं, उनके खेल से सभी प्रभावित हैं. हम उन्हें ग्रूम करेंगे और इस पर ध्यान देंगे कि वो भविष्य में भारत के एक सफल खिलाड़ी हों.
 
इसके अलावा इंग्लैंड में दो स्पिनर्स के साथ जाने और कोई रिस्ट स्पिनर टीम में शामिल ना होने पर प्रसाद ने कुलदीप यादव का ज़िक्र करते हुए बताया कि आखिर क्यों वह 15 खिलाड़ियों में शामिल नहीं है.
 
मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने कहा कि हमने कुलदीप के नाम पर चर्चा की, जो एक सरप्राइज़ पैकेज साबित हो सकते थे, लेकिन फिर हमारे पास युवराज और केदार जैसे विकल्प भी मौजूद हैं. जिस तरह से वो शेप-अप कर रहे हैं वो काबिले तारीफ़ है, भविष्य में उन पर नज़र रहेगी.
 
लेकिन इन सब बातों में एक बात कहीं ना कहीं साफ़ हो गई, और वो ये कि मुख्य भारतीय टीम छोड़िए गौतम गंभीर और हरभजन सिंह जैसे खिलाड़ी चयनकर्ताओं के बैक-अप प्लान का भी हिस्सा नहीं हैं. और ये तब है जब दोनों ही खिलाड़ी आईपीएल में शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं. क्या इसका मतलब ये कि इन खिलाड़ियों की वापसी की उम्मीद पर अब विराम लग चुका है?


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement