NDTV Khabar

'जेसन, जोस, जॉनी और जो' बन चुके हैं इंग्लैंड क्रिकेट की रीढ़ की हड्डी...

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
'जेसन, जोस, जॉनी और जो' बन चुके हैं इंग्लैंड क्रिकेट की रीढ़ की हड्डी...
नई दिल्ली:

एक समय ऐसा था, जब इंग्लैंड दुनिया की बेहतरीन टीम मानी जाती थी... क्रिकेट की बात होती थी, तो इंग्लैंड की बात होती थी... लेकिन अब इंग्लैंड की बदकिस्मती का आलम यह है कि क्रिकेट का जन्मदाता होने के बावजूद वह कभी वर्ल्डकप नहीं जीत पाया... वैसे, बेहद शानदार प्रदर्शन करते हुए इंग्लैंड की टीम तीन बार वर्ल्डकप के फाइनल तक तो पहुंची है, लेकिन हर बार ताज पहनने से चूक गई... सिर्फ कुछ छोटी टीमों को छोड़कर दुनिया की लगभग सभी बड़ी टीमें वर्ल्डकप जीतने का गौरव हासिल कर चुकी हैं, लेकिन वर्ल्डकप के 41 साल के इतिहास में इंग्लैंड इस मुकाम तक नहीं पहुंच पाया है...

जब टीम के प्रदर्शन पर उठ रहे थे सवाल : पिछले कुछ साल से एक-दिवसीय मैचों में इंग्लैंड के प्रदर्शन को लेकर सवाल उठाए जा रहे थे... वर्ष 2008 से लेकर 2012 के बीच इंग्लैंड एक-दिवसीय मैचों में शानदार प्रदर्शन करते हुए कई सीरीज़ जीतने में कामयाब रहा था, लेकिन 2013 से 2015 के बीच उनका प्रदर्शन काफी खराब रहा... वर्ष 2015 के वर्ल्डकप में इंग्लैंड सभी बड़ी टीमों से हारा, और ग्रुप स्टेज में ही टूर्नामेंट से बाहर हो गया था... उस वक्त इंग्लैंड सिर्फ स्कॉटलैंड और अफगानिस्तान जैसी छोटी टीमों के खिलाफ जीत हासिल कर पाया था... ग्रुप स्टेज से ही बाहर हो जाना इंग्लैंड के लिए बहुत बड़ा धक्का था, क्योंकि वर्ल्डकप से तुरंत पहले भी वे श्रीलंका और भारत के खिलाफ एक-दिवसीय सीरीज़ हार चुके थे... बस, इंग्लैंड क्रिकेट के भविष्य को लेकर सवाल उठाए जाने लगे...

पिछले एक साल में इंग्लैंड का शानदार प्रदर्शन : फिर अगले दो सालों में टीम में कई बदलाव किए गए, और नए खिलाड़ियों को मौका मिला... अब पिछले एक साल से इंग्लैंड की टीम एक-दिवसीय मैचों में काफी अच्छा प्रदर्शन कर रही है... कप्तान इयान मॉर्गन के नेतृत्व में कम अनुभवी खिलाड़ी भी बढ़िया खेल रहे हैं... पिछले एक साल में इंग्लैंड ने सात एक-दिवसीय सीरीज़ खेली हैं, जिनमें से चार जीतने में वे कामयाब रहे हैं, दो हारे हैं और एक सीरीज़ में कोई नतीजा नहीं आया...


वर्ष 2015 में इंग्लैंड ने न्यूज़ीलैंड, श्रीलंका और पाकिस्तान जैसी बड़ी टीमों के खिलाफ सीरीज़ जीती हैं... नवंबर, 2015 में इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच हुई एक-दिवसीय सीरीज़ को इंग्लैंड ने 3-1 से जीता था. फिर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज़ हारने के बाद इंग्लैंड ने श्रीलंका को 3-2 से हराया... अभी पाकिस्तान के खिलाफ चल रही पांच मैचों के सीरीज़ में इंग्लैंड 4-0 की अजेय बढ़त हासिल कर चुका है, और आखिरी एक-दिवसीय मैच खेला जाना बाकी है...

सलामी बल्लेबाज के रूप में हेल्स और रॉय हो रहे सफल : कुछ साल से इंग्लैंड टीम सलामी बल्लेबाज़ों को लेकर चिंता में थी, लेकिन लगता है अब यह मामला सुलझ गया है... अब इंग्लैंड टीम में दो शानदार सलामी बल्लेबाज एंड्रू हेल्स और जेसन रॉय आ गए है. दोनों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए टीम में अपनी नई पहचान कायम की है, और कई मैचों में जीत के सूत्रधार साबित हुए हैं... कुछ ही दिन पहले एंड्रू हेल्स ने पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज़ के तीसरे एक-दिवसीय मैच में 171 रन की रिकॉर्ड पारी खेली और टीम की जीत के हीरो साबित हुए... पाकिस्तान के खिलाफ पहले एक-दिवसीय मैच में जेसन ने भी अर्द्धशतक ठोका था... वैसे, सिर्फ इसी सीरीज़ में नहीं, ये दोनों पिछली कई सीरीज़ में अच्छा प्रदर्शन करते रहे हैं...

'जेसन, जोस, जॉनी और जो' इंग्लैंड की मौजूदा टीम के मेरुदंड हैं : इंग्लैंड टीम को नए मुकाम तक पहुंचाने में जेसन रॉय, जो रूट, जोस बटलर और जॉनी बेयरस्टो का बहुत बड़ा योगदान है... लगभग हर मैच में इन चार में से कोई न कोई शानदार खेलते हुए जीत का नायक रहा है... वर्ष 2015 में तो न्यूज़ीलैंड के खिलाफ हुई एक-दिवसीय सीरीज़ में चारों खिलाड़ियों ने ही शानदार प्रदर्शन किया था, और इंग्लैंड ने सीरीज 3-2 से जीती थी... न्यूज़ीलैंड के खिलाफ खेले गए पहले एक-दिवसीय मैच को इंग्लैंड ने 210 रन से जीता था, जिसके नायक थे जो रूट और जोस बटलर... दोनों खिलाड़ियों ने इस मैच में शतक ठोके थे... दूसरा और तीसरा एक-दिवसीय मैच हारने के बाद इंग्लैंड ने चौथा और पांचवां मैच जीतकर सीरीज़ जीती थी... चौथे मैच में जो रूट ने शतक ठोका था और पांचवें एक-दिवसीय में जॉनी बेयरस्टो ने 83 रन की शानदार पारी खेलकर टीम को जिताया था...

जोस बटलर का शानदार प्रदर्शन : वर्ष 2015 में पाकिस्तान के खिलाफ हुई चार एक-दिवसीय मैचों की सीरीज़ इंग्लैंड ने 3-1 से जीती थी... पाकिस्तान के खिलाफ पहला मैच हारने के बाद बाकी तीनों मैच इंग्लैंड ने जीते थे... पाकिस्तान के खिलाफ खेले गए दूसरे मैच में जेसन रॉय और जो रूट ने अर्द्धशतक ठोके थे, जबकि एंड्रू हेल्स ने शतक मारा था... चौथे मैच में जोस बटलर ने नाबाद 49 रन की पारी खेलते हुए टीम को जिताया था और आखिरी मैच में भी जेसन रॉय और जोस बटलर ने शानदार शतक ठोके... सीरीज़ में शानदार प्रदर्शन की वजह से जोस बटलर को 'मैन ऑफ द सीरीज़' का ख़िताब भी मिला था...

श्रीलंका के खिलाफ हीरो साबित हुए जेसन रॉय : इसी साल पांच एक-दिवसीय मैचों की सीरीज़ खेलने के लिए श्रीलंका ने इंग्लैंड का दौरा किया था, और इसमें भी मेजबान टीम ने 3-0 से जीत हासिल की थी... दोनों टीमों के बीच पहला एक-दिवसीय मैच टाई हो गया था... इस मैच में एक वक्त इंग्लैंड हार की ओर बढ़ रहा था, लेकिन जोस बटलर और क्रिस वोक्स ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए मैच को टाई करवाने में कामयाबी हासिल की... इस मैच में बटलर ने 93 रन की शानदार पारी खेली थी... दूसरे एक-दिवसीय मैच को इंग्लैंड ने 10 विकेट से जीता था और जीत के नायक थे जेसन रॉय और एंड्रू हेल्स... जेसन रॉय ने 112, और हेल्स ने 133 रन बनाए थे...

टिप्पणियां

तीसरे मैच का भी कोई नतीजा नहीं आया, जबकि चौथे मैच को इंग्लैंड ने छह विकेट से जीता... इसके हीरो भी जेसन रॉय ही थे... इस मैच में जेसन ने 162 रन की शानदार पारी खेली थी, हालांकि जो रूट ने भी 65 रन बनाए थे... श्रीलंका के खिलाफ खेले गए आखिरी मैच को इंग्लैंड ने 112 रन से जीता, जिसमें जो रूट और जोस बटलर ने शानदार अर्द्धशतक ठोके... सीरीज़ में शानदार प्रदर्शन के चलते जेसन रॉय को 'मैन ऑफ़ द सीरीज़' का अवार्ड मिला...

अब पाकिस्तान के खिलाफ भी ये चार खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं : इस वक्त पाकिस्तान, इंग्लैंड के दौरे पर है और टेस्ट सीरीज़ को 2-2 से बराबर करने के बाद पांच एक-दिवसीय मैचों की सीरीज़ में 4-0 से पिछड़ चुका है... इस सीरीज़ में अब तक इंग्लैंड का 'मेरुदंड' बहुत बढ़िया प्रदर्शन कर रहा है... पाकिस्तान के खिलाफ खेले गए पहले एक-दिवसीय मैच में जेसन रॉय और जो रूट जीत के सूत्रधार थे... दोनों ने अर्द्धशतक ठोके थे... दूसरे मैच में भी रूट ने 89 रन की शानदार पारी खेलकर इंग्लैंड को जिताया था... तीसरे मैच में इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी की, और 444 रन बनाकर वर्ल्डरिकॉर्ड कायम कर दिया... इसमें एंड्रू हेल्स ने 171 रन की 'अभूतपूर्व' पारी खेली थी, लेकिन जो रूट और जोस बटलर का प्रदर्शन भी शानदार रहा... रूट ने 85, और बटलर ने सिर्फ 51 गेंदों का सामना कर 90 रन ठोके थे... गुरुवार को खेले गए चौथे मैच में भी इंग्लैंड ने चार विकेट से जीत हासिल की, और जीत के हीरो थे जॉनी बेयरस्टो, जिन्होंने अर्द्धशतक ठोका, और 'मैन ऑफ़ द मैच' बने...



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement