NDTV Khabar

Jasprit Bumrah को पॉली उमरीगर और दिलीप सरदेसाई पुरस्कार, जानें क‍िस ख‍िलाड़ी को म‍िला कौन सा अवार्ड..

दिलीप सरदेसाई पुरस्कार टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक विकेट चटकाने वाले और सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी को दिया जाता है. बुमराह ने छह मैचों में 34 विकेट चटकाए जिसमें तीन बार वह पारी में पांच या इससे अधिक विकेट हासिल करने में सफल रहे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Jasprit Bumrah को पॉली उमरीगर और दिलीप सरदेसाई पुरस्कार, जानें क‍िस ख‍िलाड़ी को म‍िला कौन सा अवार्ड..

Jasprit Bumrah इस समय तीनों फॉर्मेट में भारतीय टीम के स्‍ट्राइक बॉलर हैं

खास बातें

  1. टेस्‍ट में सर्वाध‍िक व‍िकेट लेने वाले को म‍िलता है सरदेसाई अवार्ड
  2. सर्वश्रेष्‍ठ पुरुष इंटरनेशनल क्र‍िकेट की ट्रॉफी भी बुमराह को म‍िला
  3. श्रीकांत और अंजुम को लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड म‍िला है
मुंबई:

Jasprit Bumrah: टीम इंड‍िया के तेज गेंदबाजी आक्रमण के अगुआ जसप्रीत बुमराह को (Jasprit Bumrah)भारतीय क्र‍िकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के वार्षिक पुरस्कार समारोह के छाए रहे जब 2018-19 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन के लिए उन्हें प्रतिष्ठित पॉली उमरीगर पुरस्कार और दिलीप सरदेसाई पुरस्कार दिया गया. गौरतलब है क‍ि पॉली उमरीगर ट्राफी सर्वश्रेष्ठ पुरुष अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर को दी जाती है. इसके साथ प्रशस्ति पत्र, ट्रॉफी और 15 लाख रुपये की इनामी राशि मिलती है. दिलीप सरदेसाई पुरस्कार टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक विकेट चटकाने वाले और सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी को दिया जाता है. बुमराह ने छह मैचों में 34 विकेट चटकाए जिसमें तीन बार वह पारी में पांच या इससे अधिक विकेट हासिल करने में सफल रहे.

हार्दिक पंड्या न्यूजीलैंड दौरे के लिए भारत ए टीम से बाहर, उठे कई सवाल


सौराष्ट्र के टेस्ट विशेषज्ञ चेतेश्वर पुजारा (Chetshwar Pujara)को बल्लेबाजों के बीच यह पुरस्कार मिला. उन्होंने आठ मैचों में तीन शतक और दो अर्धशतक से 52.07 की औसत से 677 रन बनाए. दुनिया के नंबर एक वनडे गेंदबाज बुमराह ने जनवरी 2018 में दक्षिण अफ्रीका के भारत दौरे के दौरान टेस्ट पदार्पण किया और तब से उनका लगातार अच्छा प्रदर्शन जारी है. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका और वेस्टइंडीज में पारी में पांच या इससे अधिक विकेट चटकाए और ऐसा करने वाले पहले और एकमात्र एशियाई गेंदबाज बने. महिला वर्ग में शीर्ष पुरस्कार पूनम यादव (Poonam Yadav) को मिला और उन्हें सर्वश्रेष्ठ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर चुना गया. इस लेग स्पिनर को हाल में अर्जुन पुरस्कार से भी नवाजा गया था.

भारत के पूर्व कप्तानों कृष्णमाचारी श्रीकांत (Krishnamachari Srikkanth) और अंजुम चोपड़ा (Anjum Chopra) को क्रमश: कर्नल सीके नायडू लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार और बीसीसीआई का महिलाओं के लिए लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार दिया गया. भारत की 1983 की वर्ल्‍डकप विजेता टीम के सदस्य रहे श्रीकांत लार्ड्स में कम स्कोर वाले फाइनल में 38 रन बनाकर शीर्ष स्कोरर रहे थे. वह भारत के कप्तान भी रहे और संन्यास लेने के बाद मुख्य चयनकर्ता भी रहे. उनके कार्यकाल के दौरान भी 2011 वर्ल्‍डकप की भारतीय टीम चुनी गई थी जो विश्व चैंपियन बनी. अंजुम 100 वनडे मैच खेलने वाली पहली भारतीय महिला हैं. उन्होंने 17 साल के अपने करियर में 50 ओवर के चार वर्ल्‍डकप और दो टी20 वर्ल्‍डकप में भारत का प्रतिनिधित्व किया. ऑस्ट्रेलिया में 2018-19 में पदार्पण करने वाले मयंक अग्रवाल को पुरुष वर्ग में सर्वश्रेष्ठ अंतरराष्ट्रीय पदार्पण जबकि 15 साल की शैफाली वर्मा (Shafali Verma)को महिला वर्ग में यह पुरस्कार मिला.

टिप्पणियां

मुंबई के ऑलराउंडर शिवम दुबे (Shivam Dube)को रणजी ट्राफी में सर्वश्रेष्ठ आलराउंडर के लिए लाला अमरनाथ पुरस्कार दिया गया जबकि सीमित ओवरों की प्रतियोगिताओं में दिल्ली के नीतीश राणा को अच्छा प्रदर्शन करने के लिए यह पुरस्कार मिला. भारत की मध्यक्रम की बल्लेबाज दीप्ति शर्मा को सीनियर घरेलू सर्किट में सर्वश्रेष्ठ महिला क्रिकेट के लिए जगमोहन डालमिया ट्रॉफी दी गई जबकि जूनियर वर्ग में यह सम्मान शैफाली को मिला. वीरेंद्र शर्मा को घरेलू क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ अंपायर चुना गया जबकि रणजी ट्रॉफी जीतने के लिए विदर्भ क्रिकेट संघ को घरेलू क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन का पुरस्कार मिला. बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly)ने कहा, ‘बीसीसीआई पुरस्कार आयु वर्ग से सीनियर स्तर तक मैदान पर शानदार प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को मान्यता देने और साथ ही अपने दिग्गजों को सम्मानित करने का हमारा तरीका है.'बीसीसीआई सचिव जय शाह ने बताया कि इन पुरस्कार को और बड़ा बनाने के लिए इस साल चार नए वर्ग में पुरस्कार दिए गए जिसमें महिला वनडे इंटरनेशनल मैचों में सर्वाधिक रन और सर्वाधिक विकेट हासिल करने वाली खिलाड़ी और पुरुष तथा महिला वर्ग में सर्वश्रेष्ठ अंतरराष्ट्रीय पदार्पण शामिल है.

वीडियो: 15 साल की लड़की ने तोड़ा तेंदुलकर का रिकॉर्ड



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... धर्मेंद्र ने जब अपनी मम्मी से पूछा था 'तू हमेशा जिंदा रहेगी' तो मां बोली थीं- तेरे नाना नानी जिंदा हैं...

Advertisement