Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

जावेद मियांदाद ने मौजूदा पाकिस्‍तान टीम के बल्‍लेबाजों की जमकर आलोचना की, कही यह बात..

पाकिस्‍तान के बल्‍लेबाजों को खरी-खरी सुनाते हुए मियांदाद ने कहा- आप पेशेवर प्‍लेयर हैं जब आप रन नहीं बना पा रहे तो पैसे क्‍यों ले रहे हैं.

जावेद मियांदाद ने मौजूदा पाकिस्‍तान टीम के बल्‍लेबाजों की जमकर आलोचना की, कही यह बात..

Javed Miandad ने पाक‍िस्‍तान टीम के मौजूदा बल्‍लेबाजों को आड़े हाथ ल‍िया है

खास बातें

  • हमारा कोई बल्‍लेबाज ऑस्‍ट्रेलिया, भारत जैसी टीम से खेलने लायक नहीं
  • पीसीबी के रवैये को लेकर भी बरसे मियांदाद
  • कहा-कोई भी प्‍लेयर अपनी जगह पक्‍की नहीं समझे

Javed Miandad: पाकिस्‍तान के पूर्व क्र‍िकेटर जावेद मियांदाद (Javed Miandad) बेवाक अंदाज में अपनी बात रखने के लिए जाने जाते हैं. पाकिस्‍तान के सर्वकालीन श्रेष्‍ठ बल्‍लेबाजों में शुमार मियांदाद ने मौजूदा पाकिस्‍तानी टीम (Pakistan Team) के बल्‍लेबाजों की जमकर आलोचना की है. उन्‍होंने कहा कि मौजूदा पाकिस्‍तानी टीम का कोई भी बल्‍लेबाज ऑस्‍ट्रेलिया, इंग्‍लैंड या भारत की टीम में स्‍थान नहीं ना सकता. जावेद ने इसके साथ ही 'प्रभाव छोड़ पाने में नाकाम' बल्‍लेबाजों को लगातार मौके देने के लिए पाकिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) को भी खरी-खोटी सुनाई. मियांदाद ने अपनी यू ट्यूब चैनल पर कहा- मैं उनसे (पीसीबी से) पूछना चाहता हूं कि क्‍या पाकिस्‍तान टीम में से कोई ऑस्‍ट्रेलिया, इंग्‍लैंड, साउथ अफ्रीका, न्‍यूजीलैं या भारतीय टीम के किसी प्‍लेयर का स्‍थान ले सकता है.

उन्‍होंने कहा, सीधा सा जवाब है कि हमारा कोई बल्‍लेबाज (Pakistan batsman) इन टीमों की ओर से नहीं खेल सकता. हमारे पास बॉलर्स है लेकिन बैटिंग लाइनअप में कोई नहीं है. बाबर आजम को छोड़ दें तो पाकिस्‍तान के पास इस समय कोई अच्‍छा बल्‍लेबाज नहीं है. पाकिस्‍तान के बल्‍लेबाजों को खरी-खरी सुनाते हुए मियांदाकद ने कहा- आप पेशेवर प्‍लेयर हैं जब आप रन नहीं बना पा रहे तो पैसे क्‍यों ले रहे हैं. पीसीबी पर निशाना साधते हुए उन्‍होंने कहा, बोर्ड को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि कोई भी प्‍लेयर टीम में अपनी जगह पक्‍की नहीं समझे. 

उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान ऐसी अकेली टीम है जो अपने प्‍लेयर्स का चयन पिछले परफॉरमेंस के आधार पर करती है. इंग्‍लैंड और ऑस्‍ट्रेलिया जैसे देश सीरीज-दर-सीरीज प्रदर्शन के आधार पर टीम को चुनते है. पाकिस्‍तान ऐसी अकेली टीम है जहां सेंचुरी करने के बाद आपको 10 पारियां खेलने के लिए मिल जाती हैं. मियांदाद ने साफ कहा कि मुल्‍क में टीम और प्‍लेयर्स को जिस तरह से हेंडल किया जाता है, उससे वे कतई खुश नहीं हैं. यहां बल्‍लेबाज लगातार फेल होते जाते हैं लेकिन कोई देखने वाला नहीं है, इसी कारण टीम के रूप में हम कई परेशानियों का सामना कर रहे हैं.

वीडियो: करियर को लेकर विराट कोहली का बड़ा बयान