Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

जोफा आर्चर हुए नस्‍ली टिप्‍पणी के शिकार, कहा-समझ नहीं पा रहा लोग ऐसे कमेंट क्‍यों करते हैं..

आर्चर ने सोमवार को इंस्टाग्राम पर आए मैसेज का फोटो पोस्ट किया और लिखा कि वह यह समझ नहीं पा रहे हैं कि क्यों लोग इस तरह की टिप्पणी करते हैं.

जोफा आर्चर हुए नस्‍ली टिप्‍पणी के शिकार, कहा-समझ नहीं पा रहा लोग ऐसे कमेंट क्‍यों करते हैं..

Jofra Archer को इंग्‍लैंड के बेहतरीन तेज गेंदबाजों में शुमार क‍िया जाता है

खास बातें

  • आर्चर के खिलाफ सोशल मीडिया पर की गई टिप्‍पणी
  • उन्‍होंने इंस्‍टाग्राम पर आए मैसेज का फोटो पोस्‍ट किया
  • कहा-मैं चाहता हूं कोई ऐसी बातों से रोज न जूझे

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर (Jofra Archer) को सोशल मीडिया (social media) पर नस्ली टिप्पणी (Racist Abuse) का सामना करना पड़ा है. बारबडोस में जन्‍मे लेकिन इंग्‍लैंड की ओर से इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने वाले इस गेंदबाज ने अधिकारियों से इस मुद्दे से निपटने की बात कही है. आर्चर ने सोमवार को इंस्टाग्राम पर आए मैसेज का फोटो पोस्ट किया और लिखा कि वह यह समझ नहीं पा रहे हैं कि क्यों लोग इस तरह की टिप्पणी करते हैं. अश्‍वेत तेज गेंदबाज आर्चर ने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी पर लिखा, "मैंने इस पर प्रतिक्रिया देने के बारे में बहुत सोचा और मुझे उम्मीद है कोई इस तरह की बातों से रोज न जूझे. यह मंजूर करने लायक नहीं है और मेरे विचार में इस मुद्दे को अच्छी तरह से निपटाना चाहिए."

उन्होंने कहा, "मैं इस बात को नहीं समझ पाता कि लोग कैसे इतनी आसानी से दूसरों से इस तरह की चीजें कह देते हैं, इससे मुझे परेशानी होती है." यह पहली बार नहीं है कि आर्चर नस्ली टिप्पणी (Racist comment) का शिकार हुए हों. न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए पहले टेस्ट मैच के आखिर में भी उनको इस तरह की टिप्पणी का सामना करना पड़ा था. उस समय भी इस आर्चर ने एक ट्वीट करके अपनी पीड़ा का इजहार किया था. 

इस तेज गेंदबाज ने टीम के न्‍यूजीलैंड दौरे के दौरान बताया था कि उन्‍हें मैच के दौरान कुछ दर्शकों की आपत्तिजनक कमेंट का सामना करना पड़ा था. आर्चर के अनुसार, यह घटना उस समय की है जब वे टीम के लिए बैटिंग कर रहे थे. अपने ट्वीट में उन्‍होंने लिखा था-मैच में मुझे नस्‍लीय कमेंटे झेलने पड़े उस समय मैं अपनी टीम को बचाने के लिए बैटिंग रहा था. आर्चर के इस आरोप के बाद न्‍यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ने कहा था कि कुछ दर्शकों के इस तरह के बेहूदा व्‍यवहार के लिए वह निजी तौर पर आर्चर से माफी मांगेगा. बोर्ड ने तब कहा था कि ऐसी घटनाओं को लेकर हमारी जीरो टॉलरेंस की नीति है और हम इस मामले की जांच पुलिस को सौंपंगे. 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)